सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

अप्रैल, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा मजदूर-प्रवासी व छात्रों के आने जाने के लिये आदेश का मुख्यमंत्री गहलोत ने स्वागत किया।

जयपुर।             प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा श्रमिकों एवं प्रवासियों के अन्तराज्यीय आवागमन के संबंध में बुधवार को जारी किए गए आदेश का मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने स्वागत किया है।               मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रवासियों को सकुशल उनके घर पहुंचाने के लिए राजस्थान सरकार ने एक व्यवस्थित एवं सुगम प्रक्रिया के तहत ऑनलाइन पंजीकरण की व्यवस्था की है जिसमें बुधवार रात तक करीब 6 लाख 35 हजार श्रमिकों एवं प्रवासियों ने अपना पंजीयन कराया है।             आने वाले समय में और भी श्रमिक अपना पंजीयन करा सकते हैं। ऐसे में कामगारों की इतनी बड़ी संख्या तथा लंबी दूरी को देखते हुए विशेष ट्रेनों का संचालन किया जाना कामगारों के सुरक्षित घर लौटने का व्यावहारिक समाधान होगा। प्रधानमंत्री से गहलोत ने आग्रह किया है कि इन लाखों प्रवासियों एवं श्रमिकों के सुरक्षित आवागमन के लिए भारत सरकार को बिना किसी देरी के विशेष ट्रेनों का संचालन प्रारंभ करना चाहिए।                राजस्थान सरकार द्वारा लगातार की जा रही मांग के बाद केन्द्र सरकार द्वारा श्रमिकों एवं प्रवासियों को उनके

एक मई  से आधार कार्ड नम्बर दर्ज कर ओटीपी से गेहूँ वितरण किया जायेगा - राशन सामग्री वितरण करने के लिए उचित मूल्य दुकानदारों को दिये निर्देश

  सीकर 28 अप्रेल।                   जिला रसद अधिकारी महेन्द्र सिंह नूनियां ने आदेश जारी कर भारत सरकार  की योजनाओं एनएफएसए, पीएमजीकेएवाई के अन्तर्गत दिये जाने वाले राशन सामग्री के वितरण को सुचारू रूप  से क्रियान्वित करने के लिए पोस मशीन में राशनकार्ड नम्बर के स्थान पर आधार कार्ड नम्बर दर्ज कर ओटीपी के माध्यम से ही गेहूँ का वितरण किया जायेगा। उन्होंने  बताया कि उचित  दुकानदारों द्वारा लाभार्थियों को राशन सामग्री का वितरण सुनिश्चित किया जायेगा तथा लाभार्थियों को राशन सामग्री प्राप्त करने के लिए  राशनकार्ड में दर्ज किसी भी सदस्य का आधार कार्ड साथ में लाना अनिवार्य होगा। आधार कार्ड नम्बर से गेहूँ के वितरण के लिये डीलर द्वारा लाभार्थी का आधार कार्ड नम्बर पोस मशीन पर प्रविष्ट किया जायेगा। इसके बाद लाभार्थी के भामाशाह, जनआधार, आधार डाटाबेस में उपलब्ध मोबाईल नम्बर पर एसएमस के माध्यम से ओटीपी भेजा जायेगा। लाभार्थी द्वारा डीलर को ओटीपी उपलब्ध करवाने के पश्चात पोस मशीन में ओटीपी दर्ज कर सत्यापन के बाद राशन डीलर द्वारा लाभार्थी को राशन सामग्री का वितरण पोस मशीन से कर दिया जायेगा। यदि लाभार्थी डीलर

आरबीएसके मोबाइल हैल्थ टीमों ने की स्वास्थ्य जांच गांवों में लगे शिविर, 100 रोगी हुए लाभान्वित

सीकर 29 अप्रेल।                 चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत जिले में कार्यरत टीमों द्वारा बुधवार को शिविर लगाकर रोगियों को लाभान्वित किया गया। जिले में पांच स्थानों पर लगे शिविर में 100 रोगियों को लाभान्वित किया गया।            मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अजय चौधरी ने बताया कि जिले के दुरूस्थ गांव व ढाणियों में लोगों को उपचार की सुविधा प्रदान करने के लिए मोबाइल हैल्थ टीमों को शिविर लगाने के निर्देश दिए गए। इसके तहत बुधवार को पांच स्थानों पर आयोजित हुए शिविरों में 23 पुरूश, 66 महिलाएं और 11 बच्चों का उपचार कर निशुल्क दवाइयां दी गई। उन्होंने बताया कि शिविरों में गर्भवती महिलाओं को एएनसी की सेवाएं भी दी जा रही है।             कूदन ब्लॉक में जेरठी में लगे शिविर में चार पुरूष, 17 महिलाए और एक बच्चों का उपचार किया गया। वहीं चार गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच भी की गई। वहीं सेवद बडी में लगे शिविर में पांच पुरूष, 18 महिलाओं का उपचार किया गया। यहां 15 गर्भवती महिलाओं की स्वास्थ्य जांच की गई।            नीमकाथाना ब्लॉक में अविनाषी मे

सर्मथन मूल्य पर 1 मई से सरसों एवं चना की होगी खरीद , 782खरीद केन्द्र किए स्थापित

सीकर ।                प्रमुख शासन सचिव सहकारिता एवं कृषि नरेश पाल गंगवार ने कहा कि राज्य में 1 मई से 782 खरीद केन्द्रों पर सरसों एवं चने की सर्मथन मूल्य पर खरीद शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा कि पूर्व वर्षों के खरीद केन्द्रों की तुलना में दुगुने से अधिक केन्द्र स्थापित कर किसानों को अपने खेत के नजदीक उपज बेचान की व्यवस्था दी गई है। कोटा संभाग में 16 अप्रेल से जारी सर्मथन मूल्य पर 5500 से अधिक किसानों से 19 हजार 412 मैट्रिक टन की खरीद हो चुकी है। उन्होंने खरीद कार्य में लगे सभी अधिकारियों  एवं कार्मिकों की हौसला अफजाई की । गंगवार बुधवार को कृषि पंत भवन में सर्मथन मूल्य पर सरसों एवं चना की होने वाली खरीद के संबंध में जिला स्तर पर सहकारिता एवं कृषि के अधिकारियों को वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 90 दिनों तक होने वाली खरीद में 16.62 लाख मैट्रिक टन सरसों एवं चना की खरीद की जानी है। उन्होंने कोविड-19 की गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए खरीद प्रक्रिया को सुचारू रूप से संपादित करने के र्निदेश दिये। उन्होंने कहा कि 1 मई से पुनः पंजीयन भी प्रारंभ किया जा रहा है

सामाजिक सौहार्द को बरकरार रखने की जरूरत : रघुराम राजन

नयी दिल्ली, :: जाने-माने अर्थशास्त्री और भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने बृहस्पतिवार को कहा कि लॉकडाउन (बंद) हमेशा के लिए जारी नहीं रखा जा सकता और अब आर्थिक गतिविधियों को सावधानीपूर्वक खोला जाना चाहिए ताकि लोग फिर से अपने काम-धंधे पर लौट सकें। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद में राजन ने कहा कि कोरोना संकट के कारण मुश्किल का सामना कर रहे गरीबों के खाते में सीधे वित्तीय मदद दी जानी चाहिये, इसमें कुल 65 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे। आर्थिक गतिविधियां शुरू करने की पैरवी करते हुए राजन ने यह भी कहा कि हमारे पास करोड़ों की संख्या में लोगों की लंबे समय तक मदद करने की क्षमता नहीं है। इस संवाद के दौरान गांधी और राजन देनों ने देश में सामाजिक सौहार्द को बरकरार रखने की जरूरत पर जोर देते हुए कहा कि कोरोना महामारी जैसे बड़े संकट के समय भारतीय समाज विभाजन और नफरत का जोखिम मोल नहीं ले सकता। दोनों ने दुनिया के कई हिस्सों में अधिनायकवादी मॉडल एवं व्यक्ति केन्द्रित रुझान को लेकर भी चिंता जताई। लॉकडाउन के बाद की स्थिति से निपटने के

कोविड-19: वतन वापसी के इच्छुक भारतीयों के लिए यूएई में दूतावासों ने शुरू किया ऑनलाइन पंजीकरण

दुबई, :: संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) स्थित भारतीय दूतावासों ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से लागू लॉकडाउन के चलते वहां फंसे उन भारतीयों के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू किया है जो वतन वापस जाना चाहते हैं। ‘गल्फ न्यूज’ के अनुसार अबूधाबी स्थित भारतीय दूतावास ने दुबई स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास के माध्यम से डेटा संग्रहण की बुधवार रात घोषणा की। ट्विटर हैंडल ‘इंडिया इन दुबई’ ने बृहस्पतिवार को ट्वीट किया, ‘‘सूचित किया जाता है कि अबूधाबी स्थित भारतीय दूतावास और दुबई स्थित महावाणिज्य दूतावास ने उन भारतीयों के पंजीकरण के लिए डेटाबेस शुरू किया है जो कोविड-19 स्थिति में भारत वापस जाना चाहते हैं। ब्योरा दूतावास की वेबसाइट www.indianembassyuae.gov.in या वाणिज्य दूतावास की वेबसाइट www.cgidubai.gov.in के माध्यम से ‘रजिस्टर इन डेटाबेस ऑफ इंडियंस टू ट्रैवल बैक टू इंडिया अंडर कोविड-19 सिचुएशन’ लिंक पर जाकर विवरण डाले जा सकते हैं।’’ इसने ट्वीट किया कि इसे www.cgidubai.gov.in/covid_register लिंक के जरिए किया जा सकता है। खबर में कहा गया कि दूतावास ने ट्वीट करने के कुछ मिनट बाद इसे ‘‘तकनीकी कारणों’’ का हवाला

प्रवासियों के आने-जाने के पुख्ता इंतजाम करने के मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये।

जयपुर।              मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में करीब 10 लाख प्रवासियों एवं श्रमिकों ने अपने गृह स्थान पहुंचने के लिए पंजीयन कराया है। इनमें से करीब 70 प्रतिशत संख्या राजस्थान आने वालों की है। श्रमिकों की इतनी बड़ी संख्या को देखते हुए जिला कलक्टर एवं अन्य अधिकारी उनके सुरक्षित आवागमन और क्वारेंटाइन सहित सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। राज्य सरकार विशेष ट्रेनों के संचालन के लिए रेलवे के साथ समन्वय कर रही है।                  मुख्यमंत्री अपने निवास पर वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से कोर ग्रुप, नोडल अधिकारियों एवं जिला कलक्टरों के साथ श्रमिकों के सुरक्षित आवागमन सहित अन्य विषयों पर चर्चा की। श्रमिकों की संख्या, उनके गंतव्य स्थान तथा विशेष ट्रेनों के संचालन को अनुमति मिलने की सम्भावना को ध्यान में रखते हुए जिला कलक्टर को रेलवे के अधिकारियों के साथ रूट प्लान तैयार करने को कहा। ताकि बिना किसी परेशानी के श्रमिक एवं प्रवासी अपने घर पहुंच सकें। साथ ही सभी स्थानों पर उनकी स्क्रीनिंग एवं क्वारेंटाइन की पुख्ता व्यवस्था हो।                   ।कोरोना के लिए बनाएं दीर

क्रिस प्रैट, ब्रायस डलास होवार्ड, नताली पोर्टमैन सहित कई हॉलीवुड हस्तियों ने इरफान खान को किया याद

लॉस एंजिलिस, :: क्रिस प्रैट, ब्रायस डलास हॉवर्ड, नताली पोर्टमैन सहित हॉलीवुड की कई हस्तियों ने बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान के निधन पर शोक प्रकट किया। कैंसर से लड़ाई लड़ रहे 54 वर्षीय अभिनेता का बुधवार को मुम्बई के एक अस्पताल में निधन हो गया था। खान के पार्थिव शरीर को वर्सोवा के कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-ख़ाक किया गया था। फिल्म ‘जुरैसिक वर्ल्ड’ में इरफान के साथ काम करने वाले क्रिस पैट ने कहा, ‘‘ बड़े पर्दे के महान कलाकर इरफान के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं। इरफान ने ‘जुरैसिक वर्ल्ड’ में मसरानी की भूमिका निभाई थी। वह एक उत्कृष्ट अभिनेता और इंसान थे। उनकी याद आएगी।’’ फिल्म की अदाकारा होवार्ड ने इरफान के साथ तस्वीरें साझा करते हुए कहा, ‘‘ इरफान, आप बहुत अच्छे महान इंसान थे। आपकी याद आएगी। यह तस्वीरें शूटिंग के पहले दिन और आखिरी दिन की है और मैं सौभाग्यशाली हूं कि आपके साथ समय बिताने का मौका मिला। आपको और आपके परिवार को प्यार।’’ फिल्म के निर्देशक कोलिन ट्रेवोरो ने भी इरफान को याद किया। उन्होंने लिखा, ‘‘ इरफान खान को खोना दुखद है। एक संवेदनशील शख्स, जो अपने आस-पास हर चीज में खूबसूरती ढूंढ ल

उप्र में कोरोना के 69 नए मामले सामने आए

लखनऊ, ::  उत्तर प्रदेश में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के 69 नए मामले सामने आए और इसके साथ राज्य में इसके मरीजों की संख्या बढ़कर 2,203 हो गयी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। अपर मुख्य सचिव :गृह एवं सूचना: अवनीश कुमार अवस्थी ने यहां संवाददाताओं से कहा, 'प्रदेश में अब भी 1651 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और 39 लोगों की मौत हो गयी है ।' अवस्थी ने बताया कि कुल 513 लोग पूर्णतया ठीक होकर घर जा चुके हैं । मेरठ, गाजियाबाद और लखनऊ जैसे शहरों में ठीक हुए लोगों की अच्छी संख्या है । उन्होंने बताया कि प्रदेश में 60 जिलों में संक्रमण है । अवस्थी ने बताया कि संक्रमित पुरूषों की संख्या 77 . 5 प्रतिशत जबकि महिलाओं की संख्या 22 . 5 प्रतिशत है । उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग मजबूती से काम कर रहा है और संक्रमण की वृद्धि दर काफी कम है । अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ ने कहा है कि जहां आवश्यकता हो, मरीज को आक्सीजन बेड पर भेजा जाए और वृद्ध मरीजों को बेहतर सुविधा प्रदान की जाए ।

चित्तौड़गढ़ में कोरोना पॉजिटिव की हुई मौत, 20 हुई मरीजों की संख्या

  चित्तौड़गढ। राजस्थान।               राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले में देर रात एक कोरोना मरीज की मौत हो गई जबकि संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर अब बीस हो गया है तो कोरोना योद्धा आवश्यक संसाधनों की कमी से जूझ रहे हैं।             मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. इंद्रजीत सिंह ने जिले के निम्बाहेड़ा में मिले प्रथम कोरोना मरीज की देर रात उदयपुर अस्पताल में उपचार के दौरान  मौत हो जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि कोरोना के हॉट स्पॉट बने निम्बाहेड़ा में संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ते हुए बीस पर पहुंच गई है।            इधर कोरोना के रेड जोन में आ चुके चित्तौड़गढ़ जिले के कोरोना योद्धा आवश्यक संसाधनों की कमी से जूझ रहे है, हॉट सेंटर बने निम्बाहेड़ा में महाकर्फ्यू लगा है लेकिन नगर में अभी तक सैनिटाइजेशन भी नहीं किया गया है जिसके पीछे कारण बताया जा रहा है कि जिला प्रशासन की ओर से यहां दमकलकर्मियों को पीपीई किट नहीं मिले जिससे कोई भी कर्मचारी अपनी जान जोखिम में नहीं डालना चाह रहा है यही स्थिति वहां कर्फ्यू की पालना करवा रहे पुलिसकर्मियों को है लेकिन ये कोरोना यौद्धा अपनी जान की परवाह किये बिना नगर क

राजस्थान सरकार की कड़ी मेहनत के मुकाबले कोराना दम तोड़ने लगा। - नब्बे वर्षीय पोजेटिव मरीज भी ठीक होकर घर पहुंचा।

जयपुर।             राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की दृढ इच्छा शक्ति के बल पर राजस्थान के मेडिकल विभाग के कर्मियों की कर्तव्यनिष्ठठा के चलते राजस्थान प्रदेश मे कोराना दम तोड़ने लगा है। जयपुर सी-स्कीम के रहने वाले नब्बे वर्षीय भवानी शंकर शर्मा के पोजेटिव होने के बाद क्वरंटाईम मे रहकर आज पूरी तरह ठीक होकर घर के लिये रवाना होते समय कर्मियों ने उन्हें गुलदस्ता व फूल माला देकर रवाना करने का मंजर देखने लायक था।              राजस्थान मे कोराना संक्रमित अब तक 28 जिले है जिनमे अब तक कुल 2364 मरीज पोजेटिव पाये गये। जिनमे से 770 मरीज रिकवर होकर घर चले गये एवं कुल 51 का देहांत हुवा है। जानकारी अनुसार जिलेवार पोजेटिव मरीजों की संख्या निम्न प्रकार है। जयपुर-859, अजमेर-135, धोलपुर-09, जोधपुर-400, कोटा-189, सीकर-06, नागोर-117, बांसवाड़ा-63, उदयपुर-07, टोंक-131 है। इनमे नागोर जिले के अकेले गावं बासनी मे तीन अको मे जयपुर के रामगंज क्षेत्र मे मरीज की तादाद अधिक देखने मे आई है।            कुल मिलाकर यह है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा प्रधानमंत्री से पहले लोकडाऊन की घोषणा करके उस पृ पछरी

राजस्थान केडर मे भारतीय प्रशासनिक सेवा पांच अधिकारी कल तीस अप्रेल को सेवा निवृत्त होगे।

जयपुर।             कल तीस अप्रेल को राजस्थान केडर के पांच भारतीय प्रशासनिक सेवा IAS के अधिकारी एक साथ सेवा निवृत्त होगे।        सेवानिवृत्त होने वालो मे पाली कलेक्टर दिनेश चंद जैन , कोटा संभागीय आयुक्त लक्ष्मीनारायण सोनी, केन्द्र में राष्ट्रीय SCआयोग सचिव प्रीतम सिंह, अजमेर राजस्व मंडल सदस्य मोडू दान देथा व TAD सहकारिता फेडरेशन MD विनीता बोहरा का नाम शामिल है।

झुंझुनूं में चार दिन से कोई नया केस नहीं आया जबकि आज दो और पॉजीटिव केस हुए नगेटिव

झुंझुनूं में चार दिन से कोई नया केस नहीं आया जबकि आज दो और पॉजीटिव केस हुए नगेटिव - दोनों का जयपुर में चल रहा था इलाज, नेगेटिव होने वालों की संख्या हुई 35 अब जिले में बचे हैं सिर्फ 7 पॉजिटिव केस झुंझुनूं। राजस्थान।            जिला अब तेजी से कोरोना संक्रमण से मुक्त होने की तरफ बढ़ रहा है। पिछले चार दिनों से जिले का कोई भी नया पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है। वहीं लगातार पॉजीटिव केस अब स्वस्थ हो रहे है।        सीएमएचओ डॉ. पीएस दूतड़ व डॉ. सीएल गुर्जर ने बताया कि बुधवार को भी जयपुर में इलाज के लिए भर्ती दो पॉजीटिव केस भी स्वस्थ हो गए है। उन्होंने बताया कि एसएमएस अस्पताल में भर्ती मंडावा के एक व्यक्ति के अलावा गुढ़ागौडज़ी की एक महिला भी अब पॉजीटिव से नगेटिव हो गई है। इसके बाद झुंझुनूं जिले में पॉजीटिव से नगेटिव हुए लोगों की संख्या 33 से बढ़कर 35 हो गई है। अब केवल सात लोग ही शेष है। जो पॉजीटिव है और उनका इलाज चल रहा है। इनमें पांच गुढ़ागौडज़ी तथा दो नवलगढ़ के है। यदि आंकड़ों की बात करें तो झुंझुनूं में 17 अप्रेल तक मिले 36 पॉजीटिव केस में से केवल एक युवक को छोड़ दें तो सभी 35 के 35 नगेटिव ह

केदारनाथ धाम के कपाट खुले

देहरादून, :: उत्तराखंड के उच्च गढ़वाल हिमालय में स्थित विश्वप्रसिद्ध बाबा केदारनाथ के धाम छह माह बंद रहने के बाद बुधवार प्रात: खोल दिए गये जिसके बाद प्रथम पूजा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से की गयी । ग्यारहवें ज्योतिर्लिंग केदारनाथ भगवान के कपाट मेष लग्न, पुनर्वसु नक्षत्र में प्रातःछह बज कर 10 मिनट पर विधि-विधान के साथ पूजा अर्चना के बाद खोले गये । इस अवसर पर मंदिर को10 क्विंटल फूलों से सजाया गया था। कोरोना वायरस संकट के चलते रूद्रप्रयाग जिले में स्थित मंदिर के कपाट खुलने के अवसर पर केवल मुख्य पुजारी, मंदिर समिति के पदाधिकारी और प्रशासनिक अधिकारी ही मौजूद रहे और इस दौरान सामाजिक दूरी सहित सभी प्रकार के नियमों का पालन किया गया । महामारी के कारण आम श्रद्धालुओं को कपाट खोले जाने के समारोह से दूर रखा गया । सरकारी परामर्श के तहत अभी चार धामों की यात्रा पर रोक है। अभी केवल कपाट खोले गये हैं ताकि पुजारी अपने स्तर पर नित्य पूजाएं संपन्न करा सकें । इससे पहले, 26 अप्रैल को अक्षयतृतीया पर उत्तरकाशी जिले में गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिरों के कपाट खोल दिए गये थे । चमोली में बदरीनाथ धाम के क

लालू को कोरोना संक्रमण का कोई खतरा नहीं-रिम्स

रांची, :: रांची स्थित राजेन्द्र आयुर्विग्यान संस्थान के निदेशक डा. डीके सिंह ने आज स्पष्ट किया कि चारा घोटाले में सजा पाने के बाद न्यायिक हिरासत में यहां उपचार कर रहे राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद को कोरोना संक्रमण का कोई खतरा नहीं है क्योंकि उनका इलाज करने वाले किसी चिकित्सक अथवा उनके टीम के किसी स्वास्थ्यकर्मी को इसका संक्रमण नहीं है। डा. सिंह ने आज यह स्पष्टीकरण उन मीडिया खबरों के संदर्भ में दी जिनमें इस बात की आशंका जतायी गयी थी कि मेडिसिन विभाग में भर्ती एक वृद्ध मरीज के सोमवार को कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद लालू का इलाज कर रहे मेडिसिन विभाग के चिकित्सक डा. उमेश प्रसाद की टीम के भी उससे प्रभावितहोने की आशंका है। रिम्स निदेशक ने स्पष्ट किया कि लालू रिम्स के निजी वार्ड में भर्ती हैं और वह अपने निजी कक्ष से बाहर निकल भी नहीं रहे हैं। लिहाजा उनके संक्रमित होने की कोई आशंका नहीं है। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि लालू का इलाज कर रहे डा. उमेश प्रसाद की यूनिट का कोई भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित नहीं है। यह पूछे जाने पर कि क्या लालू यादव का भी कोरोना संक्रमण के लिए जांच कर

वाराणसी में कोविड-19 के तीन नए मामले आए

वाराणसी, 29 अप्रैल :: उत्तर प्रदेश के वाराणसी में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के तीन नए मामले सामने आए। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि वाराणसी में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के तीन मामले सामने आए हैं। तीनों व्यक्ति सप्तसागर दवा मंडी के पहले संक्रमित पाए गए व्यापारी के संपर्क में आए थे। इनमें महमूरगंज के 43 वर्षीय एक दवा व्यवसायी हैं, 25 वर्षीय दूसरे संक्रमित व्यक्ति की दुकान और संक्रमित व्यापारी की दुकान आसपास है तथा 29 वर्षीय तीसरा संक्रमित व्यक्ति सप्त सागर मंडी में एक दुकान में काम करने वाला कर्मचारी हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि अब वाराणसी में संक्रमण के 52 मामले हो गए हैं। अभी तक यहां 14 हॉट स्पॉट थे लेकिन अब तीन नई जगहों में भी हॉट स्पॉट बनाये जा रहे हैं।

आंधी में गिरा टीन शेड : चाचा-भतीजे की मौत

बलिया (उप्र),::  रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के शाह मुहम्मदपुर गांव में मंगलवार शाम तेज आंधी के चलते टीन शेड से नीचे गिरने से चाचा-भतीजे की मौत हो गयी और एक अन्य व्यक्ति घायल हो गया। पुलिस ने बुधवार को बताया कि शाह मुहम्मदपुर गांव के पंकज (25) और उसका भतीजा सत्यानन्द (15) अपने टीन शेड पर चढ़कर उसे संतोष नामक युवक की मदद से बांध रहे थे ताकि आंधी में वह उड़ न जाए। पुलिस के अनुसार इस बीच ही अचानक तेज आंधी आ गयी और टीन शेड गिर गया। पंकज व सत्यानन्द की नीचे गिरने से मौके पर ही मौत हो गयी तथा संतोष घायल हो गया।

पृथक-वास में रखे गये रेलकर्मी ने लगायी फांसी

फिरोजाबाद (उप्र), :: फिरोजाबाद जिले के टूंडला इलाके में अपने वरिष्ठ अधिकारी के कोविड-19 संक्रमित पाये जाने के बाद एहतियातन पृथक रखे गये एक रेलकर्मी ने बुधवार को पृथक-वास केन्द्र में कथित तौर पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि टूंडला स्थित रेलवे कॉलोनी निवासी 55 वर्षीय ओम प्रकाश ने एच.एच. मेडिकल कॉलेज स्थित पृथक-वास केंद्र में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलते ही मौके पर वरिष्ठ पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा। उन्होंने बताया कि ओम प्रकाश को उनके वरिष्ठ अधिकारी के कोविड-19 संक्रमित पाये के कारण उनके सम्पर्क में आने के संदेह में 20 अप्रैल को एच.एच. मेडिकल कॉलेज स्थित केंद्र में पृथक रखा गया था। टूंडला के उपजिलाधिकारी के. पी. सिंह तोमर ने बताया कि 23 अप्रैल को ओम प्रकाश का नमूना जांच के लिये भेजा गया था, मगर किसी कारण से सही परिणाम नहीं आ सका। उन्होंने बताया कि मंगलवार को जांच के लिए दोबारा नमूना भेजा गया, जिसकी रिपोर्ट अभी नहीं आयी है। इस बीच उनके आत्महत्या करने की सूचना मिली। उन्होंने बत

लॉकडाउन में फंसे लोग अपने घर लौटने को बेचैन

देहरादून, :: जम्मू के रहने वाले विजय बरू व्यापार के सिलसिले में उत्तराखंड के नैनीताल आए थे, लेकिन कोरोना वायरस महामारी को नियंत्रित करने के लिए लागू हुए लॉकडाउन के कारण वहीं फंस गये। बरू के साथ जम्मू-कश्मीर के दो दर्जन से अधिक लोग नैनीताल में फंसे हुए है। ऊनी वस्त्रों के व्यापारी बरू ने बताया, ‘'मैं पिछले महीने से नैनीताल में कैद हूं। मैं अपने घर जम्मू जाने के लिए बहुत बेचैन हूं लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी नैनीताल से नहीं निकल पा रहा हूं।’’ कश्मीर के कुपवाडा क्षेत्र के रहने वाले लियाकत हुसैन, आशिक हुसैन, किश्तवाड के अंकुश कोतवाल और जम्मू के राकेश कुमार की व्यथा भी बरू से जुदा नहीं है, जो अपने-अपने घर लौटने के लिए परेशान हैं। जम्मू-कश्मीर के इन लोगों की तरह उत्तराखंड में विभिन्न स्थानों पर अन्य राज्यों के करीब 1,700 लोग लॉकडाउन के कारण फंसे हुए हैं। इनमें 700-800 विदेशी सैलानी भी हैं जो ऋषिकेश, हरिद्वार जैसे अलग-अलग स्थानों पर रुके हुए हैं। उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक, कानून एवं व्यवस्था, अशोक कुमार ने बताया कि अभी तक 700 विदेशी पर्यटकों को उनके देशों के दूतावासों द्वारा यहां स

मेरठ में बिजलीकर्मी की गोली मारकर हत्या

मेरठ,:: उत्तर प्रदेश में मेरठ के थाना गंगानगर क्षेत्र में बुधवार सुबह एक बिजली सुपरवाइजर की बाइक सवार दो बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के बाद बाइक सवार दोनों हमलावर फरार हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। थाना गंगानगर के पुलिस निरीक्षक बृजेश शर्मा ने बताया कि रजपुरा गांव निवासी रजत सिवाच (27) मंगल पांडे नगर स्थित बिजलीघर में संविदा कर्मचारी था। गंगानगर निवासी एक युवती भी इसी बिजलीघर में काम करती है। कई बार रजत युवती के साथ स्कूटी से आता-जाता था। आज सुबह भी वह युवती के साथ स्कूटी पर जा रहा था कि तभी एफआईटी के रास्ते पर पीछे से बाइक सवार दो युवक पहुंचे और ओवरटेक करते हुए उनकी स्कूटी रुकवाई। इस दौरान एक हमलावर ने रजत को गोली मार दी जिससे विद्युतकर्मी की मौके पर ही मौत हो गई। मृतक रजपुरा के ग्राम प्रधान विपिन का चचेरा भाई था। ऐसे में पुलिस घटना के पीछे प्रधान चुनाव से संबंधित रंजिश की संभावना से इनकार नहीं कर रही है। दूसरी तरफ, प्रेम प्रसंग से भी मामले को जोड़कर देखा जा रहा है। एएसपी अखिलेश भदौरिया ने कहा कि कई बिंदुओं से घटना की जांच की जा रही

संगम नगरी में बंटाई पर बाल-दाढ़ी काट रहे नाई

प्रयागराज , ::  खेत को अधिया या बंटाई पर देने की बात तो सभी जानते हैं, लेकिन यहां संगम नगरी में पंडों के ठिकानों पर दूसरे जिलों और प्रदेशों से आए नाई भी मुंडन और दाढ़ी बनाने का काम अधिया पर करते हैं। माघ मेला समाप्त होने पर ज्यादातर नाई अपने जिलों को चले गए। लेकिन कुछ लॉकडाउन में फंस गए और उनमें से एक राम सुमिरन (परिवर्तित नाम) ने पीटीआई-भाषा को बताया, “हम यहां अधिया पर काम करते हैं।” मध्य प्रदेश के रीवा जिले के रहने वाले सुमिरन ने बताया, “लगभग सभी पंडों के अपने स्थायी नाई होते हैं जो उनकी गद्दी की रखवाली करने के साथ ही उनके घर का भी काम करते हैं। ये नाई बाहर से आने वाले नाइयों को अधिया पर काम देते हैं और जो बाल-दाढ़ी हम बनाते हैं, उसका आधा पैसा इनको जाता है।” उन्होंने बताया कि यद्यपि पंडे अपने यजमानों से 2100 रुपये से लेकर 10,001 रुपये तक दक्षिणा में लेते हैं, लेकिन उसमें नाइयों का कोई हिस्सा नहीं होता और ये अपने यजमानों से 50-100 रुपये प्रति व्यक्ति नाइयों को दिलवाते हैं जिसमें आधा पैसा स्थायी नाइयों को चला जाता है। सुमिरन ने कहा कि हालांकि घाटों पर पंडों का कोई दखल नहीं होता। इस

अप्रैल-मई के लिए कोई वेतन नहीं, मालवाहक विमान पायलटों को उड़ान घंटों के मुताबिक भुगतान : स्पाइस जेट

नयी दिल्ली, :: निजी विमानन कंपनी स्पाइसजेट ने अपने पायलटों को बुधवार को सूचना दी कि अप्रैल और मई के लिए उन्हें कोई वेतन नहीं मिलेगा। वहीं मालवाहक विमानों का परिचालन कर रहे पायलटों को उड़ान के घंटों के आधार पर भुगतान किया जाएगा। कंपनी के मुख्य विमान परिचालन अधिकारी गुरचरण अरोरा ने पायलटों को ईमेल करके यह जानकारी दी। उन्होंने लिखा मौजूदा वक्त में हमारे 16 प्रतिशत विमान और 20 प्रतिशत पायलट ही उड़ान भर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हम अपने पांच मालवाहक विमानों और यात्री विमानों से माल ढुलाई (कारगो ऑन सीट) करके यह उड़ानें भर रहे हैं।’’ स्पाइस जेट के बेड़े में 116 यात्री विमान और पांच मालवाहक विमान शामिल हैं। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन (बंद) है। इसके चलते सभी वाणिज्यिक यात्री विमानों के परिचालन पर रोक है। अरोरा ने कहा, ‘‘ हमें (पायलटों को) अप्रैल-मई 2020 के लिए कोई वेतन नहीं मिलेगा । जो पायलट मालवाहक विमानों की उड़ान भर रहे हैं, उन्हें उड़ान के घंटों के हिसाब से वेतन मिलेगा। उन्होंने कहा कि आने वाले हफ्तों में हम अपने विमानों का परिचालन 50 प्रतिशत तक

औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों के कार्मिकों व श्रमिकों को अप्रेल माह के वेतन भुगतान के लिए राज्य सरकार ने जारी की एडवाईजरी -एसीएस उद्योग डॉ. अग्रवाल

जयपुर, 29 अप्रेल। राज्य सरकार ने औद्योगिक इकाइयोें व संस्थानों के कार्मिकों व श्रमिकों के अप्रेल माह के वेतन भुगतान के लिए एडवाइजरी जारी की है। अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल ने जारी एडवाइजरी के माध्यम से औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों को अपने कार्मिकों और श्रमिकों को लॉकडाउन अवधि का बिना कटौती के डिजिटल प्लेटफार्म पर लेन-देन के माध्यम से वेतन भुगतान करने को कहा है। एसीएस उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बुधवार को इस आषय की एडवाइजरी जारी कर लॉक डाउन अवधि में औद्योगिक इकाइयांे व संस्थानांे के कार्मिकों और श्रमिकों को लॉक डाउन में बिना कटौती के निर्धारित समय पर डिजीटल प्लेटफार्म पर सीधे खातों में ऑनलाईन या सीधे खातों में हस्तांतरण यानी डीबीटी के माध्यम से या एनईएफटी या आरटीजीएस के माध्यम से भुगतान करने को कहा है। उन्होंने बताया कि औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों के कार्मिकों की दैनिक आवष्यकताओं की पूर्ति के लिए वेतन आदि की आवष्यकता को देखते हुए श्रमिकों व कार्मिकों के व्यापक हित में यह एडवाइयजरी जारी कर यह निर्देष दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि पूर्व में 30 मार्च, 2020 को जारी एडवइजरी

इरफान खान को मुम्बई में किया गया सुपुर्द-ए-खाक, भाई बोले… अब हम सब अकेले हो गए

जहां जाऊंगा वहीं रोशनी लुटाऊंगा किसी चिराग का अपना मकां नहीं होता जयपुर /मुंबई :: नामी शायर वसीम बरेलवी का यह मशहूर शेर हर दिल अजीज फिल्म अभिनेता इरफान खान पर एकदम सटीक बैठता है। खुद इरफान खान इस शेर को किसी फेस्टिवल या अपनों के बीच सुनाया करते थे। खैर, आज वो हमारे बीच नहीं है, लेकिन उनकी यादें और मुलाकातें उनके जज्बातों को बयां करती हैं। इरफान खान ने अपनी मां सईदा बेगम की शिददत भरी मुहब्बत और दुआओं के दम पर ही दुनिया भर में अपनी रोशनी फैलाई। मां से बेइंतहां मुहब्बत करने वाले इरफान हमेशा कहते कि अभी ज़िंदा है मां मेरी मुझे कुछ नहीं होगा, मैं घर से जब निकलता हूं दुआ भी साथ चलती है’। अब इरफान भी नहीं रहे। यहां ऐसा लगता है कि जैसे मां जाते—जाते कल निगाहों से कह गईं हो कि तुमको भी अपने साथ लिए जा रही हूं। बीते पांच दिन पहले मां का इंतकाल हुआ था, इरफान कहते थे कि मां इतने साल जिंदा रहीं, क्योंकि इरफान उन्हें कहते थे ‘अगर तू चली गई, तो पीछे-पीछे मैं भी चला आऊंगा। बॉलीवुड़ अभिनेता इरफान खान को मुंबई में वर्सोवा कब्रिस्तान में आज दफनाया गया। इस दौरान इरफ़ान  खान को अंतिम विदाई देने उनके परिव

नीरव मोदी के प्रत्यर्पण पर ब्रिटेन की अदालत में 11 मई से शुरू होगी सुनवाई

लंदन, :: भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण की पांच दिवसीय सुनवाई 11 मई से शुरू होगी। यह सुनवाई वीडियो लिंक के जरिये की जा सकती है और इसके लिये अदालत में सात मई को ऑनलाइन वीडियो लिंक प्रणाली का परीक्षण किया जाएगा। ब्रिटेन की एक अदालत ने यह आदेश दिया है। नीरव मोदी (49) भारत में पंजाब नेशनल बैंक से दो अरब डालर (चौदह हजार करोड़ रुपये से अधिक) के कर्ज की धोखाधड़ी और मनी-लांड्रिंग के मामले में अभियुक्त है। उसे भारत में भगोड़ा घोषित किया जा चुका है। उसने अपने प्रत्यर्पण के आदेश को ब्रिटेन की एक अदालत में चुनौती दी है। ब्रिटेन में कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम को लेकर लागू बंदिशों के कारण उसे वीडियो लिंक के जरिये जेल से ही अदालत के समक्ष मंगलवार को पेश किया गया। वह पिछले साल गिरफ्तारी के बाद से दक्षिण पश्चिम लंदन में स्थित वैंड्सवर्थ जेल में कैद है। मंगलवार की सुनवाई के दौरान नीरव मोदी ने वेस्टमिन्स्टर मजिस्ट्रेट की अदालत में बोल कर अपने नाम और जन्मतिथि की पुष्टि की। जिला जज सैमुअल गूजी ने मौजूदा परिस्थिति में लॉकडाउन के मद्देनजर प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई अगले महीने शुरू किये

केजरीवाल ने इरफान खान के निधन पर शोक जताया

नयी दिल्ली, ::  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान के निधन पर बुधवार को शोक जताते हुए उन्हें असाधारण प्रतिभा के धनी अभिनेताओं में से एक बताया। 54 वर्षीय अभिनेता का एक दुर्लभ किस्म के कैंसर से लंबी जंग लड़ने के बाद बुधवार को मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया। केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘हमारे दौर के सबसे असाधारण प्रतिभा के धनी अभिनेताओं में से एक इरफान खान के निधन के बारे में जानकर स्तब्ध हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘उनका काम हमेशा याद रखा जाएगा । ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे।’’ 

कोरोना योद्धाओं की सुरक्षा के लिए अध्यादेश लाने पर विचार कर रही योगी सरकार

लखनऊ, :: उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना योद्धाओं से अभद्रता और लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त सजा के प्रावधान के लिए एक अध्यादेश लाने पर विचार कर रही है। आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया कि राज्य सरकार 'उत्तर प्रदेश महामारी नियंत्रण अध्यादेश 2020' लाने पर विचार कर रही है। उन्होंने बताया कि इस अध्यादेश में कोरोना वायरस महामारी के बीच आवश्यक सेवाएं प्रदान कर रहे चिकित्सा एवं सफाई कर्मियों, पुलिसकर्मियों समेत तमाम 'कोरोना योद्धाओं' से अभद्रता और लॉकडाउन का उल्लंघन करने, सार्वजनिक स्थलों पर थूकने और पृथक-वास केंद्रों से भागने वालों के खिलाफ सख्त सजा के प्रावधान होंगे। सूत्रों ने बताया कि इस अध्यादेश के तहत उल्लंघनकारियों को 7 साल तक की कैद की सजा और ₹पांच लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान किए जाने की योजना है। इस अध्यादेश का मकसद स्वास्थ्य कर्मियों, पुलिस बल समेत कोविड-19 महामारी से बचाव में सहयोग कर रहे लोगों को सुरक्षा प्रदान करना है। केंद्र सरकार ने भी हाल में इसी तरह की पहल की है।

राज्यपाल कलराज मिश्र एवं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अभिनेता इरफान खान के  निधन पर शोक व्यक्त किया है।

जयपुर , ::  जयपुर 29 अप्रैल  राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र एवं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अभिनेता इरफान खान के  निधन पर शोक व्यक्त किया है।     श्री मिश्र ने उनके निधन पर संवेदना जताते हुए कहा कि वह अपने अभिनय से हिंदी फिल्म जगत मे अपनी विशिष्ट पहचान बनाने वाले प्रसिद्ध अभिनेता थे। उन्होंने कहा कि   राजस्थान में टोंक के इस दिग्गज कलाकार को सदैव उसके उत्कृष्ट अभिनय के लिए याद किया जाएगा। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्मा को शांति एवं शोक संतप्त उनके परिजनों एवं प्रशंसको को सम्बल प्रदान करने की प्रार्थना की।      श्री गहलोत ने अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि देश के बहुमुखी अभिनेता इरफान खान के असामयिक निधन के बारे में सुनकर वह स्तब्ध हैं। उन्होंने शोक संतप्त परिवार एवं श्री खान के प्रशंसकों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त करते हुए ईश्वर से उन्हें यह दुख सहन एवं शक्ति देेेेेेने तथा दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने की प्रार्थना की।     उन्होंने कहा कि इरफान खान देश  के सबसे प्रतिभावान अभिनेताओं में से एक थे, जो अपने अभिनय के दम पर ऊंचाइयों तक पहुंचे। वह हमेशा थिएटर कलाकारों और उभरते क

इरफान खान के निधन से गमगीन बॉलीवुड ने कहा, ‘‘बहुत जल्दी कह दिया अलविदा...’’

मुम्बई, 29 अप्रैल : : राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने अभिनय का लोहा मनवाने वाले इरफान खान के बुधवार को दुनिया को अलविदा कहने के बाद बॉलीवुड जगत गमगीन है और हर कोई यही कह रहा है कि ‘‘बहुत जल्दी अलविदा कह गए....’’। इरफान ने ‘मकबूल’, ‘द नेमसेक’, ‘लाइफ ऑफ पाई’, ‘पान सिंह तोमर’ , ‘हासिल’ जैसी कई फिल्मों में विभिन्न तरह के किरदार निभा अपने अभिनय का जौहर दिखाया....मदहोश करने वाली मुस्कुराहट और जादुई प्रतिभा के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा। इरफान (54) ने मुम्बई के एक अस्पताल में पत्नी सुतापा, बेटे बाबिल और अयान की मौजूदगी में अंतिम सांस ली। अभिनेता 2018 से एक दुर्लभ किस्म के कैंसर न्यूरोएंड्रोक्राइन ट्यूमर से जंग लड़ रहे थे। फिल्म ‘पीकू’ में उनके साथ काम करने वाले अमिताभ बच्चन और शूजित सरकार ने उनके निधन पर शोक जताते हुए इसे एक बेहद दुखद खबर बताया। बिग बी ने लिखा, ‘‘ एक अविश्वसनीय प्रतिभा ... एक बेहतरीन सहयोगी ... सिनेमा की दुनिया में शानदार योगदान देने वाले.... बेहद जल्दी अलविदा कह गए.... उनके जाने से एक खालीपन आ गया है... प्रार्थना और दुआ।’’ इरफान के निधन की खबर सबसे पहले द

अभिनेता इरफान खान की मौत की खबर सुनते ही भावूक हुए भरतपुर पुलिस अधीक्षक - हैदर अली जैदी।

भरतपुर।               मूलरूप से टोंक निवासी व अनेकों फिल्मों में अपनी बेहतर भूमिका अदा कर लोगों के दिलों पर राज करने वाले फिल्म अभिनेता इरफ़ान खान ने बुधवार को मुंबई के अस्पताल में अंतिम सांस ली। भरतपुर जिला पुलिस अधीक्षक IPS हैदर अली जैदी जो इरफान खान के बचपन के दोस्त को जब यह खबर मिली ताे वो खुद को भावुक होने से रोक नहीं पाए। इरफान के पड़ोसी और स्कूल-कॉलेज में साथ पढ़े हैदर अली ने बताया कि वो बचपन से एक साथ खेलते-पढ़ते बड़े हुए।                  बॉलीवुड स्टार बनने के बाद भी इरफान दोस्तों के दूर नहीं हुए और लगातार संपर्क में रहे। इरफान के निधन पर दुख जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि लंबे संघर्ष के बाद अभिनय में मुकाम पाने वाले इरफान ने हमेशा जमीन से जुड़कर सभी का साथ दिया। बेहतरीन एक्टर के साथ-साथ वे बेहतर इंसान भी थे। ।जब इरफान ने दोस्त की बचाई जान।              हैदर अली ने बताया कि इरफान और वो बचपन से ही साथ रहे। स्कूल-कॉलेज में साथ पढ़े, साथ खेले लेकिन आज वह इस दुनिया में नहीं रहे जो हम सभी के लिए दुःख का विषय है। उन्होंने बताया कि मैंने जयपुर से अर्थशास्त्र से एमए किया और इरफान खान ने उर

उत्तर प्रदेश में 15 दिनों में 100 से ज्यादा हत्याएं : अजय कुमार लल्लू 

लखनऊ, :: उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू  ने बुलंदशहर में हुई दो साधुओं की हत्या पर तीखा रोष प्रकट किया है। यह कहते हुए कि उत्तर प्रदेश में सीएम योगी के अधीन कानून का नहीं बल्कि अपराधियों का राज चल रहा है, श्री लल्लू ने कहा कि कानून का शवदाह हो चुका है उत्तर प्रदेश में। अपराधियों के हौसले बुलंद हैं जबकि आम जनता भय के साये में जी रही है। उन्होने कहा कि पिछले पंद्रह दिनों के अंदर उ0प्र0 में करीब 100 से ज्यादा हत्याएं हो चुकी हैं। अभी सूबे की जनता एटा में एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या के खौफ से उबरी भी नहीं थी कि बुलंदशहर में दो साधुओं की निर्मम हत्या का मामला सामने आ गया। इसी तरह की हत्या, हाल ही में गोरखुपर में भी हुई है जहां खुद योगी जी का मठ है और जहां से योगी आदित्यनाथ सांसद भी रहते आए हैं। श्री लल्लू ने सवाल किया है कि जब योगी खुद अपने गृह जिले को नहीं संभाल पा रहे हैं तो पूरे सूबे को कैसे संभालेंगे ?   यह पूछते हुए कि चंदौली से लेकर बुलंदशहर तक हुई हत्याओं पर सीएम योगी ने मौन क्यों धारण कर रखा है, श्री लल्लू ने कहा कि बात-बात पर खुद की पीठ थपथपाने

कोरोना वायरस पर जल्द आएगी गुजराती फिल्म

अहमदाबाद, ::  गुजरात के दो फिल्मकार कोरोना वायरस संक्रमितों की जिंदगियों से प्रेरित एक फिल्म बनाने जा रहे हैं, जिसमें लॉकडाउन के कारण लोगों और राज्य प्रणाली पर पड़े असर को भी दिखाया जाएगा। निर्देशक महेश पटेल ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि एक नायक के बुराई के खिलाफ लड़ने की घिसी-पिटी कहानी की बजाय इस गुजराती फिल्म में भय, आशा, दृढ़ संकल्प और जीवन के कई अलग-अलग रंगों की कहानियां बयां की जाएंगी, जो कि महामारी के दौरान सामने आई। पटेल और उनके व्यवसायिक साझेदार दीपक सोनी का सूरत में ‘केसर-भवानी फिल्म प्रोडक्शन’ है और इस बैनर तले ही फिल्म का निर्माण किया जाएगा। फिल्म का बजट अभी तय नहीं किया गया है लेकिन पटेल ने इसकी पटकथा पर काम करना शुरू कर दिया है। फिल्म का नाम ‘कोरोना नो कहर’ होगा। पटेल ने कहा, ‘‘ लोगों के घरों में कैद हो जाने से लेकर लॉकडाउन के कारण प्रवासियों के प्रदर्शन करने तक कोरोना वायरस के कारण हमारे आस-पास कई चीजें हो रही हैं। हम यह भी देख रहे हैं कि लोगों की जिंदगियां बचाने के लिए पुलिस कर्मियों और डॉक्टरों ने अपनी जिंदगी को खतरे में डाल रखा है। इसलिए ही हम दोनों ने इस विषय पर फ

योगी ने दोहराया लॉकडाउन का सख्ती से हो पालन

लखनऊ, ::  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने का निर्देश दोहराते हुए मंगलवार को कहा कि हर जिले में 15 हजार से 25 हजार क्षमता के पृथक केन्द्र तथा आश्रय स्थल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए । योगी ने कहा, 'सामाजिक दूरी पर विशेष ध्यान दिया जाए। पुलिस द्वारा नियमित तौर पर गश्त की जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि संक्रमित क्षेत्रों में केवल स्वास्थ्य, सफाई तथा होम डिलीवरी से जुड़े कर्मी ही जाएं। संक्रमित क्षेत्रों में सभी घरों को संक्रमणमुक्त किया जाए ।' मुख्यमंत्री यहां लोकभवन में एक उच्चस्तरीय बैठक में लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रयागराज से वापस भेजे जा रहे प्रतियोगी छात्र-छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। वाराणसी, हापुड़, रामपुर, मुजफ्फरनगर तथा अलीगढ़ में वरिष्ठ प्रशासनिक, पुलिस एवं स्वास्थ्य अधिकारी भेजे जाएं। उन्होंने कहा कि ग्रीन जोन तथा ओरेंज जोन में अनुमन्य की जाने वाली गतिविधियों के लिए एक कार्य योजना बनायी जाए। महिला स्वयं सहायता समूहों को मास्क आदि के निर्माण कार्य से जोड़ा जाए। मुख्यमंत्री ने निर्दे

उप्र में दो साधुओं की हत्या काफी दुखद: देशमुख

मुंबई, ::  महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या को मंगलवार को ‘‘काफी दुखद’’ बताया। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता देशमुख ने कहा कि उन्हें ‘‘भरोसा’’ है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस मामले में उसी तरह कड़ी कार्रवाई करेंगे, जैसी महाराष्ट्र सरकार ने पालघर घटना के सिलसिले में की थी। किसी पार्टी का नाम लिये बगैर देशमुख ने उम्मीद जताई कि पालघर घटना के बाद ‘‘भड़काऊ’’ टिप्पणियां करने वाले, बुलंदशहर घटना के बाद इस तरह की भड़काऊ टिप्पणियां नहीं करेंगे। देखमुख ने ट्वीट किया, ‘‘उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या की घटना काफी दुखद है। हमें योगी आदित्यनाथ पर भरोसा है कि वह उसी तरह कार्रवाई करेंगे, जैसे हमने पालघर में की थी। हमें उम्मीद है कि पालघर घटना के बाद भड़काऊ सांप्रदायिक टिप्पणियां करने वाले इस बार ऐसा नहीं करेंगे।’’ बुलंदशहर जिले में मंगलवार की सुबह एक मंदिर में दो साधुओं की हत्या कर दी गई। इन हत्याओं का आरोप एक स्थानीय युवक पर है। अनूप शहर थाना क्षेत्र स्थित फगौना गांव में एक शिव मंदिर में

लॉकडाउन : कर्मचारियों को वेतन देने के आदेश के खिलाफ याचिका पर न्यायालय ने केन्द्र से मांगा जवाब

नयी दिल्ली, :: उच्चतम न्यायालय ने कोविड-19 संक्रमण फैलने से रोकने के लिये लागू लॉकडाउन के दौरान कर्मचारियों को पूरा वेतन देने के सरकार के आदेश के खिलाफ दायर याचिकाओं पर केन्द्र से जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति एन वी रमण, न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति बी आर गवई की पीठ ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस मामले की सुनवाई के दौरान केन्द्र को दो सप्ताह के भीतर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया। लॉकडाउन के दौरान अपने कर्मचारियों को पूरा वेतन देने संबंधी गृह मंत्रालय की अधिसूचना को नागरीका एक्सपोर्ट्स और फिक्स पैक्स प्रा लि सहित तीन निजी कंपनियों ने चुनौती दी है। पीठ ने अपने आदेश में कहा, ‘‘सॉलिसीटर जनरल (तुषार मेहता) इन याचिकाओं पर जवाब दाखिल करना चाहते हैं। दो सप्ताह बाद इसे सूचीबद्ध किया जाये।’’ शीर्ष अदालत ने इन निजी फर्मों से कहा कि वे अपने आवेदनों की प्रति ई मेल के माध्यम से सॉलिसीटर जनरल को उपलब्ध करायें। टेक्सटाइल फर्म नागरीका एक्सपोर्ट्स लि. ने फैक्टरियों के चालू नहीं होने के बावजूद अपने स्टाफ, ठेका मजदूरों, दिहाड़ी मजदूरों और अन्य श्रमिकों को लॉकडाउन के दौरान

मंदिर में दो साधुओं की हत्या, विपक्ष ने कहा ‘गहराई से हो जांच’

लखनऊ (उप्र),  ::  बुलंदशहर के अनूपशहर क्षेत्र स्थित एक शिव मंदिर में मंगलवार तड़के दो साधुओं की लाठी से प्रहार कर हत्या कर दी गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना को बेहद गंभीरता से लेते हुए अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। वहीं, विपक्ष ने मामले की गहराई से जांच करने और इसका राजनीतिकरण न करने की मांग की है। बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि अनूप शहर थाना क्षेत्र स्थित फगौना गांव में एक शिव मंदिर में जगदीश (50) और शेर सिंह (52) नामक साधुओं की हत्या कर दी गई। उन्होंने बताया कि गांव का ही रहने वाला मुरारी नामक युवक अक्सर मंदिर आता था। वह नशे का आदी था और करीब दो दिन पहले उसने इन साधुओं का चिमटा चुरा लिया था। मंगलवार तड़के इसी बात को लेकर उनका मुरारी के साथ झगड़ा हुआ था। सिंह ने बताया कि मुरारी ने दोनों साधुओं की डंडे से प्रहार कर हत्या कर दी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक ग्रामीणों की मदद से पकड़े गये हत्यारोपी ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि 27-28 अप्रैल की दरम्यानी रात को वह भांग खाकर मंदिर ग

दिल्ली में हॉटस्पाट बढ़ना चिंता की बात, केन्द्र सरकार की राजधानी पर विशेष नजर : डा हर्षवर्धन

नयी दिल्ली, :: केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डा हर्षवर्धन ने दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण पर चिंता व्यक्त करते हुये कहा है कि एम्स सहित अन्य केन्द्रीय संस्थानों तथा संबद्ध अधिकारियों को राष्ट्रीय राजधानी पर विशेष ध्यान देने को कहा गया है। डा हर्षवर्धन ने मंगलवार को दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन और दिल्ली सरकार एवं स्थानीय निकायों के शीर्ष अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिये समीक्षा बैठक में राष्ट्रीय राजधानी की स्थिति पर गंभीर चिंता व्यक्त की। डा हर्षवर्धन ने कोरोना संक्रमण के आंकड़ों के आधार पर कहा कि दिल्ली में स्वास्थ्य एवं चिकित्साकर्मियों के संक्रमित होने की दर 4.11 प्रतिशत है और यह अन्य राज्यों की तुलना में काफी ज्यादा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में अब तक 33 डाक्टर 26 नर्स और 24 स्वास्थ्य कर्मी संक्रमित हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में अब तक 98 हॉटस्पॉट क्षेत्र घोषित होने के बाद राजधानी का नक्शा पूरी तरह से रेड जोन में तब्दील होना सभी के लिये चिंता की बात है। समस्या के संभावित कारणों का जिक्र करते हुये स

देश में कोविड-19 के संक्रमण के मामले 29,435 हुये, अब तब 934 की मौत : स्वास्थ्य मंत्रालय

नयी दिल्ली, ::  स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमण के 1543 नये मामले सामने आये हैं। इसके साथ ही संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 29,435 हो गयी है। स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने नियमित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि कोविड-19 से स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 6,868 हो गयी है। यह कुल संक्रमित मरीजों की संख्या का 23.3 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान 684 मरीजों को स्वस्थ्य होने पर अस्पताल से छुट्टी दी गयी है। मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस के संक्रमण से देश में अब तक 934 लोगों की मौत हो चुकी है। मंत्रालय ने प्लाज्मा पद्धति से कोरोना वायरस के संक्रमण के इलाज को लेकर किये जा रहे दावों को गलत बताते हुये स्पष्ट किया कि इस तरह की किसी पद्धति को मान्यता नहीं दी गयी है। अग्रवाल ने प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना वायरस के संक्रमण के इलाज के दावों को भ्रामक और गैरकानूनी बताते हुये कहा कि फिलहाल यह पद्धति प्रयोग एवं परीक्षण के दौर में है। उन्होंने कहा कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परि

उप मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट से कोविड-19 व लोकडाऊन से उपजे हालात पर सुभाष महरिया की वीडियो कांफ्रेंसिंग से वार्ता।

सीकर।              राजस्थान के उप मुख्यमंत्री  व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट द्वारा राजस्थान के सभी पच्चीस कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस करते हुये सीकर लोकसभा उम्मीदवार सुभाष महरिया से भी वार्ता की। जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री और सीकर लोकसभा प्रत्याशी सुभाष महरिया ने पायलट को सीकर के विभिन्न मुद्दों से अवगत कराया।             महरिया ने सर्वप्रथम कोरोना के बारे में चर्चा करते हुये बताया कि अधिकांश रोगी इसी सप्ताह में आने के बावजूद सीकर जिले में व्यवस्था सुचारू रूप से चल रही है। केंद्र व राज्य सरकार के आदेश में तालमेल का अभाव होने से होने वाली परेशानी के बारे में भी पायलट को अवगत कराया गया।      .       वार्ता मे महरिया का मुख्य जोर किसान की फसल मंडी में लाने हेतु जो गाइडलाइन जारी हुई है उनकी जानकारी पंचायत समिति ब्लॉक एवं ग्राम लेवल पर देने एवं फसल बीमा का जो बकाया 1-हजार 44 करोड रुपए किसानों को उपलब्ध करवाने के लिए भी कहा। महरिया ने बताया कि सीकर के एनजीओ एवं स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा जरुरतमंदों तक बहुत अच्छी मदद पहुंचाई जा रही है। एनजीओ डॉक्टर पुलि

राजस्थान में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा पचास के पार 

जयपुर 28 अप्रैल राजस्थान में कोरोना वायरस का कहर जारी है और इससे मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर पचास के पार हो गया है।      चिकित्सा विभाग के अनुसार कोटा में इसके एक मरीज की और मौत हो जाने पर प्रदेश में इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 51 पहुंच गई। इसमें सर्वाधिक 27 लोगों की मौत जयपुर में हुई हैं। जोधपुर एवं कोटा में छह-छह, भरतपुर, भीलवाड़ा एवं सीकर में दो-दो तथा अलवर, बीकानेर, नागौर एवं टोंक में एक-एक कोरोना मरीज की मौत हुई है। इससे मरने वालों में उत्तर प्रदेश के दो लोग भी शामिल हैं।    राज्य में मंगलवार को 66 नये मामले सामने आने से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 2328 पहुंच गई।  चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने बताया कि प्रदेश में अब तक करीब 88 हजार सैम्पल की जांच की गई जो देश में सबसे ज्यादा है। राज्य में अब तक 766 मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि 584 को अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है।      प्राप्त आंकड़ों के अनुसार राज्य की राजधानी जयपुर सहित सात जिलों में ही इसके मरीजों की संख्या ज्यादा सामने आ रही हैं। जिसमें जयपुर में सर्वाधिक 850, जोधपुर में 388, कोटा 184, अजमेर में 135, टोंक में 126, नागौर

महिला पत्रकार कोरोना वायरस से संक्रमित

उन्‍नाव :उप्र:,: जिला के गंगाघाट थानाक्षेत्र में शुक्लागंज की आनंद नगर मोहल्ला निवासी एक महिला पत्रकार के कोरोना वायरस से ग्रस्त पाए जाने के बाद उन्हें पृथक-वास में रखा गया है। संक्रामक रोग प्रभारी डा. आर एस मिश्रा ने सोमवार को बताया कि रविवार देर रात कानपुर से सूचना मिली कि जनपद के शुक्लागंज नगर पालिका क्षेत्र में रहने वाली एक महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। इसके बाद कानपुर से आई स्वास्थ्य विभाग की टीम महिला पत्रकार को लेकर कानपुर चली गयी जबकि उनके परिवार के तीन अन्‍य सदस्‍यों को उन्‍नाव जिला अस्‍पताल में आइसोलेट किया गया है। तीनों का सैम्‍पल लेकर जांच के लिए भेजा जायेगा। मिश्रा ने बताया कि महिला पत्रकार का सैम्‍पल कानपुर में लिया गया था। इसलिए कानपुर में ही उन्‍हें पृथक-वास में रखा गया है। जिले में कोरोना संक्रमित यह दूसरा मरीज है। इससे पहले एक मरीज उन्‍नाव शहर कोतवाली अंतर्गत किला क्षेत्र में मिला था। सूचना के साथ ही उन्‍नाव जिला प्रशासन हरकत में आ गया और घर के आसपास के एक किलोमीटर इलाके को सील कर दिया। मिश्रा ने बताया कि नगर पालिका व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मिलकर पूरे एरिया को

मुंबई में दस इंडोनेशियाई तबलीगी गिरफ्तार

मुंबई, :: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मार्च में निजामुद्दीन मरकज में आयोजित एक धार्मिक जलसे में हिस्सा लेने वाले तबलीगी जमात के इंडोनेशिया के दस सदस्यों का पृथक—वास पूरा होने के बाद भारतीय दंड विधान की विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है। एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि ये दस सदस्य इंडोनेशिया के 12 तबलीगी सदस्यों के समूह का हिस्सा हैं जो दिल्ली से वापस लौटने के बाद बांदा पश्चिम में एक अपार्टमेंट में 29 मार्च से रह रहे थे । इनमें छह महिलायें शामिल हैं। अधिकारी ने बताया कि पुलिस को इंडोनेशिया के इन लोगों के बारे में एक अप्रैल को पता चला था कि ये लोग बांद्रा में रह रहे हैं । उन्होंने बताया, ‘'हमें यह पता चला कि वे दो जत्थे में 29 फरवरी एवं तीन मार्च को भारत आये थे और बाद में जलसे में शामिल होने के लिये मरकज पहुंचे ।’’ अधिकारी ने बताया कि ये विदेशी नागरिक सात मार्च को मुंबई पहुंचे और 29 मार्च को अपार्टमेंट में रहने लगे । इसका मतलब यह हुआ कि वह 22 दिन तक घूमते रहे । उन्होंने बताया, ‘'चिकित्सीय जांच में 12 में से दो लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुयी। इसके बाद दस अन्य

लॉकडाउन के बाद भी 10 लाख से अधिक आईटी कर्मचारी घर से काम करेंगे: क्रिस गोपालकृष्णन

बेंगलुरु, :: आईटी उद्योग की जानीमानी शख्सियत सेनापति (क्रिस) गोपालकृष्णन ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लागू लॉकडाउन के खत्म होने के बाद स्थिति सामान्य होने पर भी 10 लाख से अधिक आईटी कर्मचारियों के घर से ही काम करने की संभवना है। भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि दरअसल आईटी सेवा उद्योग ने लोगों को घर से काम करने के लिए पूरी तरह तैयार कर लिया है। आईटी कंपनी इंफोसिस के सह-संस्थापक ने पीटीआई भाषा ने कहा, ‘‘यह कोई छोटा-मोटा काम नहीं था। घर से काम करने के लिए बड़ी संख्या में लोगों को प्रौद्योगिकी बुनियादी ढांचे की जरूरत थी, इसके लिए ग्राहकों की इजाजत लेकर व्यापार प्रक्रियाओं को बदलना जरूरी था।’’ गोपालकृष्णन ने कहा, ‘‘अब मुझे बताया गया है कि कई बड़े (आईटी) संगठनों में 90 से 95 प्रतिशत लोग घर से काम कर रहे हैं। और वह बदलाव बेहद सहज रूप से और बहुत तेजी से किया गया। मुझे लगता है कि ये अब कारोबार का लगातार चलते वाला हिस्सा बन जाएगा।’’ उन्होंने कहा कि कई छोटे भारतीय स्टार्टअप ने पाया है कि वे घर से काम करने में उतने ही प्रभावी हैं और अब वे सोच रहे हैं कि क्या

रिलायंस ने किराना कारोबार में ग्राहकों सेवा के लिए व्हॉट्सएप का इस्तेमाल शुरू किया

नयी दिल्ली, ::  मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ग्राहकों को किराना (ग्रॉसरी) स्टोरों से जोड़ने के लिए व्हॉट्सएप का परीक्षण के तौर पर सीमित इस्तेमाल शुरू कर दिया है। कुछ दिन पहले ही फेसबुक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के नियंत्रण वाली डिजिटल परिसंपत्तियों में 5.7 अरब डॉलर का निवेश करने की घोषणा की थी। क्रेडिट सुइस की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस रिटेल के ई-कॉमर्स उपक्रम जियोमार्ट ने किराना सामान के आर्डर के लिए ग्राहकों से व्हॉट्सएप पर संपर्क करना शुरू कर दिया है। फिलहाल जियोमार्ट नवी मुंबई, ठाणे और और कल्याण में ग्राहकों से व्हॉट्सएप के जरिये संपर्क कर रही है। रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘उपभोक्ता व्हॉट्सएप पर कंपनी से संपर्क करते हैं, जियोमार्ट वेबपेज पर ग्रॉसरी आर्डर की जांच करते हैं, उसके बाद व्हॉट्सएप पर खुदरा स्टोर से जुड़ते हैं। बाद में ग्राहक किराना से अपना आर्डर उठाते हैं और उसका नकद में भुगतान करते हैं।’’ कंपनी का कहना है कि यह मॉडल आपूर्ति और पूरे लेनदेन को एक ऐप के जरिये पूरा करने से संबंधित है। फेसबुक के साथ करार से अंबानी को डिजिटल प्लेटफॉर्म बन

रिजर्व बैंक की म्यूचुअल फंड कंपनियों के लिए 50,000 करोड़ रुपये की विशेष नकदी राहत सुविधा

मुंबई, :: भारतीय रिजर्व बैंक ने सोमवार को कोरोना वायरस महामारी के चलते नकदी की तंगी से जूझ रही म्यूचुअल फंड कंपनियों को राहत देने की घोषणा की। केंद्रीय बैंक म्यूचुअल फंड कंपनियों के लिए 50,000 करोड़ रुपये की विशेष नकदी सुविधा उपलब्ध कराएगा। हाल में, फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड कंपनी के अपनी छह बांड योजनाओं को बंद करने की घोषणा की थी। ऐसे में रिजर्व बैंक की यह घोषणा काफी अहम है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस महामारी के चलते पूंजी बाजार में उतार-चढ़ाव से म्यूचुअल फंड कंपनियों की नकदी हालत पर दबाव है। रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा कि इस बढ़ते दबाव के चलते म्यूचुअल फंड कंपनियों को कुछ बांड योजनाओं को बंद करना पड़ा है। इसके और नुकसानदायक प्रभाव भी हो सकते हैं। हालांकि, यह दबाव मुख्य तौर पर ज्यादा जोखिम वाले बांड म्यूचुअल फंड तक ही सीमित है जबकि अन्य कंपनियों / योजनाओं की नकदी स्थिति सामान्य है। बयान में कहा गया है, ‘‘म्यूचुअल फंड कंपनियों पर नकदी के दबाव को कम करने के लिए उन्हें 50,000 करोड़ रुपये की विशेष नकदी सुविधा (ऋण सहायता) उपलब्ध कराने का निर्णय किया गया है।’’ रिजर्व बैंक ने

जब तक मैं मुख्यमंत्री हूं, बाहर फंसे बंगाल के लोगों को चिंता करने की जरूरत नहीं : ममता बनर्जी

कोलकाता, :: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोरोना वायरस पर काबू के लिए लागू लॉकडाउन के कारण राज्य से बाहर फंसे लोगों को हरसंभव मदद का सोमवार को आश्वासन दिया और कहा कि उन लोगों तक पहुंचने के लिए किए जा रहे प्रयायों की वह व्यक्तिगत रूप से निगरानी करेंगी। ममता ने ट्विटर पर कहा कि राजस्थान के कोटा शहर में फंसे छात्रों को वापस लाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है और वे जल्द ही अपने घर लौटने के लिए यात्रा शुरू करेंगे। उन्होंने जोर दिया कि जब तक वह मुख्यमंत्री हैं, पश्चिम बंगाल के कहीं भी फंसे लोगों को असहाय महसूस करने की जरूरत नहीं है। ममता ने ट्वीट किया, ‘‘पश्चिम बंगाल सरकार लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे बंगाल के लोगों को घर लौटने में हरसंभव मदद शुरू करेगी। मैंने अपने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे ज़रूरतमंदों की मदद करें। जब तक मैं यहां हूं, बंगाल के किसी भी निवासी को असहाय महसूस नहीं करना चाहिए। मैं इन कठिन समय में आपके साथ हूं।' उन्होंने कहा, ‘‘मैं व्यक्तिगत रूप से इसकी निगरानी कर रही हूं और हम यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे कि सभी क

प्रधानमंत्री के साथ बैठक में ज्यादातर मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन बढ़ाने की पैरवी की : नारायणसामी

नयी दिल्ली, ::  पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बैठक के दौरान ज्यादातर मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन तीन मई के बाद भी आगे बढ़ाने की राय दी और साथ ही सजग रुख के साथ आगे बढ़ने का आग्रह किया। नारायणसामी ने यह भी बताया कि बैठक में उन्होंने देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे प्रवासी कामगारों एवं छात्रों को वापस लाने के लिए राष्ट्रीय नीति बनाने का भी सुझाव दिया। उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संवाददाताओं से कहा, ‘‘ज्यादातर मुख्यमंत्रियों ने कहा कि लॉकडाउन बढ़ना चाहिए। साथ ही मुख्यमंत्रियों की यह राय थी कि कोरोना के मामले जिस तरह से बढ़ रहे हैं, उसको देखते हुए लॉकडाउन हटाने में सजग रुख अपनाने की जरूरत है।’’ उनके अनुसार भाजपा शासित राज्यों के भी अधिकतर मुख्यमंत्रियों ने कहा कि लॉकडाउन जारी रहे और आर्थिक गतिविधियां धीरे-धीरे शुरू हों। पुडुचेरी के मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के साथ-साथ सरकार की ओर से उठाए गए कदमों का उल्लेख किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने क

मैक्स अस्पताल के 33 कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित पाये गए

नयी दिल्ली,  :: पूर्वी दिल्ली के एक प्रमुख निजी अस्पताल के दो चिकित्सक, नर्स और पैरामेडिकल कर्मियों सहित कम से कम 33 कर्मचारी पिछले करीब दो सप्ताह के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गए हैं। यह जानकारी सूत्रों ने सोमवार को दी। मैक्स हेल्थकेयर समूह ने दो सप्ताह पहले घोषणा की थी कि वह देशभर में स्थित अपनी सभी इकाइयों में अपने सभी कर्मचारियों और मरीजों की कोविड-19 के लिए जांच करेगा। एक सूत्र ने बताया, ‘‘जांच शुरू होने के बाद से मैक्स अस्पताल, पटपड़गंज में अभी तक दो चिकित्सक, नर्स, पैराममेडिकल कर्मी और गैर चिकित्सकीय कर्मियों सहित 33 कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित पाये गए हैं।’’ पटपड़गंज स्थित मैक्स अस्पताल, पूर्वी दिल्ली में एक प्रमुख स्वास्थ्य इकाई है। सूत्रों ने कहा कि सभी संक्रमित व्यक्तियों को दक्षिण दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स अस्पताल के ईस्ट ब्लॉक में पृथक-वास के लिए स्थानांतरित कर दिया गया है। अस्पताल का ईस्ट ब्लॉक कोविड-19 के लिए एक निर्दिष्ट इकाई है। मैक्स हेल्थकेयर के अधिकारियों ने पहले कहा था कि अगले कुछ हफ्तों में मैक्स हेल्थकेयर (18,000), बीएलके अस्पताल (3,000) और नान

कोरोना वायरस संक्रमण से उबरीं बॉलीवुड गायिका कनिका ने सरकारी इंतजाम पर उठाए सवाल

लखनऊ, :: कोविड-19 से संक्रमित हुई पहली बॉलीवुड सेलिब्रिटी एवं गायिका कनिका कपूर ने संक्रमण को रोकने संबंधी सरकारी इंतजाम पर सवाल उठाए हैं और कहा है कि एक व्यक्ति पर नकारात्मकता थोपने से वास्तविकता को नहीं बदला जा सकता। पिछली 19 मार्च को संक्रमित पाए जाने के बाद आलोचना के घेरे में आई कनिका ने रविवार को एक ट्वीट किया कि जब वह लंदन से मुंबई लौटी थीं, उस वक्त उन्हें खुद को पृथक-वास में रखने की कोई सलाह नहीं दी गई थी और मुंबई से लखनऊ आने पर उनकी कोई जांच तक नहीं की गयी। उन्होंने ट्वीट में कहा "मैं जिसके संपर्क में आई, चाहे वह ब्रिटेन हो, मुंबई हो या फिर लखनऊ, किसी में भी कोविड-19 के लक्षण नहीं पाए गए। बल्कि सच्चाई यह है कि उन सब की जांच रिपोर्ट में उनके संक्रमित नहीं होने की पुष्टि हुई।" कनिका ने कहा, "किसी एक व्यक्ति पर नकारात्मकता थोपने से वास्तविकता को नहीं बदला जा सकता।" माना जा रहा है कि उनका इशारा लखनऊ में कोरोना संक्रमण फैलाने को लेकर की गई अपनी आलोचना की तरफ था। कनिका ने हवाई अड्डों पर संक्रमितों की जांच की व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा, “मैं 10 मार्च को ब्र

कोरोना के खिलाफ अभियान के साथ अर्थव्यवस्था को भी अहमियत देने की जरूरत : मोदी

नयी दिल्ली, :: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिये चलाये जा रहे देशव्यापी अभियान को जारी रखने के साथ, देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ बनाने पर भी समान रूप से ध्यान देने की जरूरत पर बल दिया। मोदी ने कोरोना के संक्रमण की मौजूदा स्थिति और संक्रमण पर नियंत्रण के लिये लागू किये गये 40 दिन के लॉकडाउन से देश को चरणबद्ध तरीके से बाहर लाने के उपायों पर सोमवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग बैठक में यह बात कही। सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार बैठक में मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कहा, ‘‘हमें कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के साथ अर्थव्यवस्था को भी समान रूप से अहमियत देने की जरूरत है।’’ प्रधानमंत्री ने कोरोना संक्रमण रोकने की दिशा में लॉकडाउन को सार्थक उपाय बताते हुये कहा कि इसके सकारात्मक परिणाम मिले हैं और पिछले, लगभग डेढ़ महीने में लॉकडाउन के दौरान देश में हजारों लोगों के जीवन की रक्षा की जा सकी है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये 25 मार्च को घोषित किये गये लॉकडाउन के प्रभाव की समीक

मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा : कोविड-19 की चुनौती को अवसर में बदलें

मुंबई, ::  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को राज्यों से कहा कि प्रशासनिक सुधारों के माध्यम से कोविड-19 की चुनौती को अवसर में बदलें और जमीनी हकीकत के आधार पर लॉकडाउन में ढील देने के लिए वे अपनी नीतियां बनाएं। यह जानकारी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय ने दी। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के कार्यालय ने बयान में कहा कि मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस में मोदी ने संकेत दिए कि कोरोना वायरस का संक्रमण तीन मई के बाद भी ज्यादा समय तक रह सकता है और लोगों को मास्क का प्रयोग और सैनिटाइजर्स ज्यादा समय तक इस्तेमाल करने की जरूरत है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा, ‘‘हालांकि विस्तारित लॉकडाउन समय तीन मई को खत्म होगा, इसलिए हर राज्य को अपने वर्तमान कड़े दिशानिर्देशों में छूट शुरू करने की नीति पर निर्णय करना होगा। इसमें यातायात को अनुमति देने, बुजुर्गों को घर से बाहर आना है अथवा नहीं, दुकानों को कैसे खुलने की अनुमति देना है, आदि शामिल हैं।’’ प्रधानमंत्री ने राज्यों को सलाह दी कि अपने प्रशासन और नीतियों में सुधार लाकर वे वर्तमान चुनौतियों को अवसर में बदलने की संभावनाएं तलाशें। प्रधानमंत्री न

उत्तरप्रदेश की जनता को योगी सरकार का महा-धोखा : अजय कुमार लल्लू

लखनऊ  : उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू  ने योगी सरकार पर तीखा हमला बोला है- आगरा के महापौर की उस चिट्ठी के सामने आने के बाद जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री योगी से आगरा को बचाने की अपील की है, श्री लल्लू ने कहा कि योगी सरकार कोरोना महामारी के बारे में जिस आगरा मॉडल का ढोल पीट रही थी, उसकी हवा निकल चुकी है। आगरा में क्वारंटाइन किए गए लोगों को बिस्कुल और पानी फेंक कर दिए जाने की घटना पर श्री अजय कुमार लल्लू जी ने हैरानी जताते हुए कहा कि इससे योगी सरकार का अमानवीय चेहरा प्रकट होता है. आखिर अपने ही लोगों को साथ कोई सरकार ऐसा बुरा बर्ताव कैसे कर सकती है ? प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा कि प्रदेश के मुख्य औद्योगिक केन्द्र कानपुर में कुछ मीडिया कर्मियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद ऐसी आशंका जताई जा रही है कि शहर में हजारों की तादात में कोरोना पॉजिटिव हो सकते हैं लेकिन उनका अता-पता नहीं। आखिर पता चले भी तो कैसे ?  क्योंकि योगी सरकार तो अधिक से अधिक जांच करने के बजाय आंकड़ों को दबाने और जो मीडिया सच्चाई का बयान करे, उसके खिलाफ केस करने में मशगूल है। केन्द्र की मोदी