सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

मार्च, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

राजस्थान दिवस पर एक हजार दोसो केदी तीस मार्च को रिहा किये जायेंगे।

         ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।         मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान दिवस के अवसर पर प्रदेश की जेलों में लम्बे समय से सजा भुगत रहे करीब 1200 बंदियों को समय से पहले रिहा किया जाएगा। इनमें सदाचार पूर्वक अपनी अधिकांश सजा भुगत चुके अथवा गंभीर बीमारियों से ग्रसित एवं वृद्ध बंदी शामिल हैं।               मुख्यमंत्री निवास पर जेल विभाग के अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री गहलोत ने आज बैठक की। इस बैठक में निर्णय लिया गया कि बलात्कार, ऑनर किलिंग, मॉब लिंचिंग, पॉक्सो एक्ट, तेजाब हमले से संबंधित अपराध, आर्म्स एक्ट, राष्ट्रीय सुरक्षा कानून, एनडीपीएस एक्ट, आबकारी अधिनियम, पीसीपीएनडीटी एक्ट, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम, गौवंश अधिनियम, आवश्यक वस्तु अधिनियम, सीमा शुल्क अधिनियम इत्यादि के तहत सजा भुगत रहे बंदियों सहित 28 विभिन्न श्रेणियों के जघन्य अपराधों में लिप्त अपराधियों को कोई राहत नहीं मिलेगी।                    मुख्यमंत्री ने कहा कि वृद्ध एवं गंभीर बीमारियों से ग्रसित कैदियों को इसलिए रिहा किया जा रहा है, ताकि वे कोविड संक्रमण के खतरे से बच सकें। इस निर्णय से ऐसे बंदी जो कैंसर, एडस, कुष्ठ

खाटूश्याम जी मेले में कोरोना विस्फोट, 19 धर्मशाला संचालकों की रिपोर्ट पॉजिटिव जिले में मिले कुल 30 संक्रमित, कल बढ़ सकता है आंकड़ा

         ।अशफाक कायमखानी। सीकर, 27 मार्च। प्रशासन की ओर से तमाम उपाय के बाद भी खाटूश्यामजी मेला कोरोना महामारी स्प्रेडर साबित होता नजर आ रहा है। मेला समाप्ति के बाद खाटूश्यामजी में धर्मशाला संचालकों की कोरोना जांच कराई गई थी। जिसमें 290 सैंपलों में 19 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके अलावा जिले में 11 और संक्रमित मिले हैं। शनिवार को सीकर कुल 30 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। खाटूश्यामजी मेले में भले ही प्रशासन ने कोविड जांच रिपोर्ट मंगवाई हो, मॉस्क और सेनिटाइजर अनिवार्य किया गया हो, लेकिन इसके बाद भी इतनी तादाद में कोरोना पॉजिटिव आने से हड़कंप मचा हुआ है। जबकि, अभी तो मंदिर प्रशासन और सेवादारों की जांच रिपोर्ट कल तक आएगी। इसलिए हो सकता है स्प्रेडर मेले में सीकर ही नहीं राजस्थान के बाहर से भी काफी तादाद में लोग आए हुए थे। ऐसे में वे लोग भी अब लौट चुके हैं। जो भी पॉजिटिव के संपर्क में आए हैं। उनकी जानकारी तक नहीं है। ऐसे में वे लोग दूसरे लोगों को संक्रमित करेंगे। सीकर में 11 और आए संक्रमित पिछले दो दिनों से संक्रमितों की संख्या शून्य आ रही थी। वहीं आज रिपोर्ट जिले के 11 लोग पॉजिटिव निकल

राजस्थान के तीन विधानसभा उपचुनावों के लिये भाजपा व कांग्रेस ने उम्मीदवार घोषित, रालोपा उम्मीदवारों की घोषणा का इंतजाम। - दोनो दलो के उम्मीदवार के नाम सामने आने के बाद कांग्रेस उम्मीदवारों की राह कठिन नजर आ रही है।

                        ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                राजस्थान के तीन विधानसभा के होने वाले उपचुनावों के लिये पर्चा दाखिल करने के तीस मार्च के आखिरी दिन से पहले भाजपा व कांग्रेस के उम्मीदवारों की घोषणा होने के बाद अब रालोपा उम्मीदवारों की घोषणा का इंतजार के बावजूद राजनीति पर नजर रखने वालो का मानना है कि कांग्रेस के लिये चुनाव जीतना काफी कठिन नजर आ रहा है। पार्टी संगठन के तौर पर भाजपा काफी मजबूत है तो कांग्रेस का जिला संगठन का गठन अभी तक नही हो पाने से उनकी नया पार होने के लिये मात्र सत्ता का सहारा व किसान आंदोलन से भाजपा का बढता विरोध रह गया है।               कल भाजपा उम्मीदवारों की घोषणा के बाद आज कांग्रेस के उम्मीदवारों की घोषणा होने के बाद स्थिति स्पष्ट हुई है कि उन्होने कांग्रेस विधायक भंवरलाल मेघवाल के निधन से खाली हुई सीट सुजानगढ़ पर उनके पुत्र मनोज मेघवाल को व कांग्रेस विधायक कैलाश त्रिवेदी के निधन से खाली हुई सीट सहाड़ा पर उनकी पत्नी गायत्री देवी को उम्मीदवार बनाया है। वही राजसमंद से वेश्य समाज के तनसुख बोहरा को उम्मीदवार बनाया है। वही भाजपा ने भी भाजपा विधायक किरण महेश्

केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र शेखावत द्वारा फोन टेपिंग मामले को लेकर दिल्ली मे दर्ज एफआईआर कराने के बाद राजनीति गरमाई। - प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डोटासरा ने एफआईआर को नौटंकी एवं षडयंत्र बताया।

        ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।              राजस्थान मे फोन टेपिंग मामले को लेकर विधानसभा मे भाजपा सदस्यों द्वारा गहलोट सरकार को घेरने के बाद सरकार द्वारा किसी राजनेता का फोन टेप नही करने के कहने के बावजूद मामला अभी पुरी तरह शांत नही हो पाया है। इसी के मध्य केन्द्रीय मंत्री व भाजपा नेता गजेन्द्र शेखावत द्वारा उक्त फोन टेपिंग मामले को लेकर दिल्ली मे एक एफआईआर दर्ज कराने के बाद राजस्थान की राजनीति गरमा गई है।                दिल्ली मे एफआईआर दर्ज होने के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री डोटासरा ने केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के फोन टैपिंग मामले में दिल्ली में एफआईआर दर्ज कराने को नौंटंकी एवं षडयंत्र करार देते हुए कहा है कि उन्हें अपनी आवाज का नमूना देना चाहिए ताकि सच बाहर आ सके।           डोटासरा ने शेखावत के दिल्ली में फोन टैपिंग मामले को लेकर मामला दर्ज कराने की खबरों के बाद आज यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि शेखावत मामले के आठ महीने बाद अब एफआईआर क्यों दर्ज कराई हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा में नैतिकता नहीं बची हैं और फिर षडयंत्र रचा जा र

यह मुस्लिम युवा किधर जाने की कोशिशें करते नजर आ रहे है?

                          ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                        हालांकि अन्य क्षेत्रो की तरह राजस्थान मे भी जगह जगह मुस्लिम समुदाय मे फिजुल खर्च से दूर रहकर सादगी के साथ शादीयाँ करने के लिये कोशिशें होने के समाचार पढने को व कभी कभार देखने को मिलते रहने के बावजूद इसी महीने प्रदेश के सीकर शहर व झूंझुनू शहर के विवाह स्थलो मे आयोजित दो शादी समारोह मे निकाह की सुन्नत पुरी होने के बाद शिरकत करने वालो मे झगड़ा इस कदर हुवा की दोनो तरफ से पुलिस मे रपट तक दर्ज होने के बाद जांच जारी है। उक्त झगड़े मे चाहे दुल्हन व दुल्हा के निजी परिवार के लोग शामिल ना हो लेकिन उनके बुलावै पर आये मेहमान तो थे ही। यानी मेनेजमेंट मे किसी ना किसी रुप मे खामीया जरुर रही होगी। अगर उक्त दो घटनाओं से किसी तरह का सबक वक्त रहते नही लिया तो आगे चलके हालात बडी विपत्ति लेकर आ सकते है।                  उक्त घटनाओं के अतिरिक्त पीछले दिनो शेखावाटी जनपद मे शराब तस्करी, लूट-डकैती व जमीनो पर कब्जा करने के मामले भी पुलिस रिपोर्ट मे दर्ज हुये जिनमे कुछेक मामलो मे मुस्लिम युवाओं के नाम भी पढने को मिले है। वही इससे अलग मुस्लिम य

NSUI के पदाधिकारियों ने सौपा ज्ञापन

  लखनऊ : वर्ष 2018 के वि०डी०यो भर्ती के चयनित अभियर्थियों के निरस्त किए गए आदेश को तत्काल प्रभाव से बहाल किए जाने की मांग को लेकर लखनऊ उ०प्र कि महामहिम राज्यपाल महोदया को लखनऊ जिलाधिकारी द्वारा उ०प्र मध्य NSUI के साथी सर्वश्री NSUI प्रदेश अध्यक्ष श्री अनस रहमान, NSUI राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी, प्रदेश उपाध्यक्ष श्री अखिलेंद्र प्रताप सिंह, श्री शैलेश शुक्ला, प्रभारी प्रशासन श्री शारिक अनीस, प्रदेश सचिव सौरभ सिंह, श्री आत्मिक रावत व अन्य साथियों द्वारा ज्ञापन सौंपा गया।

श्रीगंगानगर में युद्धाभ्यास के दौरान सेना की जिप्सी में लगी आग, जिन्दा जले 3 जवान, 5 की हालत गंभीर

            ।अशफाक कायमखानी। राजस्थान के श्रीगंगानगर में भारत-पाक सीमा से सटे इलाके में सेना के युद्ध अभ्यास के दौरान एक बड़ा हादसा हो गया। इस हादसे में एक सेना की जिप्सी में आग लग गई। इसमें बैठे सेना के तीन जवान बाहर न निकल पाने के कारण जिन्दा जल गए, जबकि 5 जवानों की हालत गंभीर बताई जा रही है। यह जानकारी सामने आई है कि जवान बठिंडा की 47-AD यूनिट के थे। मृतकों में एक सूबेदार और दो जवान शामिल हैं, जिनमें सुबेदार ऐवेनेजर हमाडाला (42) आन्ध्र प्रदेश से, देवकुमार (36) पश्चिम बंगाल और अजीत शुक्ला (39), उत्तर प्रदेश से थे। जानकारी के अनुसार, घटना गुरुवार की तड़के 3 बजे की बताई जा रही है। जहां जिले के छतरगढ़ इलाके में सैन्य अभ्यास चल रहा था। इसी दौरान सेना की एक जिप्सी में आग लग गई। हालांकि अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है कि घटना किस कारण हुई है।  लेकिन सेना के सूत्रों की माने तो कहा जा रहा है कि अभ्यास के दौरान हर गाड़ी में किसी न किसी तरह के बारूद, गोले और ज्वलनशील पदार्थ रखे होते हैं। इसी बीच किसी वजह से आग लग गई और जवानों को संभलने का मौका तक नहीं मिला। अभी तक केवल सेना की तरफ से बयान जारी कर यह

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की नीतियों के खिलाफ मुस्लिम नेता जयपुर मे जमा हुये! कांग्रेस के ग्रूप-23 नेताओं के लेटरबम का अपवर्तन नजर आया उक्त आयोजित बैठक मे। - अनुसूचित जाति-जनजाति व जाट नेताओं के बाद मुस्लिम नेताओं का जमा होगा गहलोत की मुश्किलें बढा सकता है।

                  ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा राजस्थान सरकार के कामकाज के सेकुलर कांग्रेस के तरीकों के बजाय शुरुआत से जारी सोफ्ट हिन्दुत्व के ऐजेण्डे पर चलाने के तहत मुस्लिम समुदाय को प्रदेश मे राजनीतिक तौर पर अलग थलग करने व उनके प्रभाव को शुन्यता की तरफ धकेल कर उनमे अहसास ऐ कमतरी का अहसास करने की चाले चलने से नाराज मुस्लिम समुदाय के एक नेता ने राजस्थान के चुने गये मुस्लिम सभापति व चैयरमैन के इस्तकबाल करने के बहाने अपने निवास पर बैठक करने से राजस्थान की मुस्लिम राजनीति नई करवट ले सकती है। बताते है कि उक्त बैठक मे निकाय चेयरमैन की हेसियत से मात्र हनुमानगढ़ जिले की भादरा नगरपालिका के चैयरमैन दाऊद कुरेशी व आसिफ खान ने ही शिरकत की।             कांग्रेस नेता व पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद की विशेष उपस्थिती मे पूर्व मंत्री दूर्रु मियां के जयपुर आवास लुहारू हाऊस मे आयोजित बैठक के करीब पांच घंटे चलने के उपरांत कफी मुद्दों के अलावा राजस्थान मे मुस्लिम समुदाय की सरकार मे भागीदारी के मुद्दे पर भी काफी गम्भीरता के साथ विचार विमर्श हुवा बताते। अधीका

राजनीतिक हासिये पर पहुंच चुके पूर्व मंत्री दुर्रु मियां को अपने आपको फिर से स्थापित करने के लिये एक दफा मुसलमान फिर याद आये।

                ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                 जनता के मध्य रहकर उनके दुख सुख मे भागीदार बनने की बजाय महलो मे रहकर राजनीति के किसी समय सिरमोर बनने के प्रयाय माने जाने वाले पूर्व मंत्री नवाब ऐतमादुद्दीन खान उर्फ दुर्रू मियां आखिर कार राजनीति मे हासिये पर पहुंचने के बाद अपने आपको एक दफा फिर से स्थापित करने की कोशिश मे उन्होंने अपने जयपुर स्थित लुहारू हाउस निवास पर मुस्लिम समुदाय के प्रतिनिधियों की अहम बैठक आयोजित करके कांग्रेस सरकार पर दवाब बनाने की भरपूर कोशिश करने के बावजूद उनके वजूद को कोई मजबूती फिलहाल मिलती दूर दूर तक नजर नही आ रही है।                 दुर्रू मियां द्वारा आयोजित उक्त बैठक मे पूर्व केन्द्रीय मंत्री व कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद विशेष रुप से मोजूद रहे। वहीं राजस्थान भर मे अनेक मुस्लिम समुदाय के लोगो को दुर्रू मियां द्वारा टेलफोनिक निमंत्रण देकर बैठक मे आमंत्रित करने के बाद भी ठीक ठाक भीड़ नही जुटने से दुर्रू मियां के ऐजेण्डे को कोई खास ताकत मिलती नजर नही आ रही है।                दिल्ली मे मोदी सरकार बनने के बाद से लेकर आज तक उसकी नितियों को लेकर मीडिया व अन्य ज

राजस्थान में कोरोना के बढ़ते मामलों को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जारी की नई गाइडलाइन

               ।अशफाक कायमखानी।                । जयपुर। आगामी 25 मार्च से राजस्थान में बाहर से आने वाले सभी यात्रियों के लिए 72 घंटे के भीतर की आरटी-पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य होगी। पूर्व में केरल, महाराष्ट्र, गुजरात, पंजाब, हरियाणा, मध्यप्रदेश के लिए इसकी अनिवार्यता थी । अब सभी राज्यों के लिए इसे अनिवार्य किया गया है एयरपोर्ट, बस स्टैण्ड तथा रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की जांच भी की जायेगी। जो यात्री नेगेटिव रिपोर्ट के बिना आएंगे उन्हें 15 दिन के लिए क्वारंटीन रहना होगा। सभी जिला कलक्टर अपने जिलों में संस्थागत क्वारेंटीन की व्यवस्था भी पुनः प्रारम्भ करेंगे। कार्यालयों में कार्मिकों को कार्य की आवश्यकता के अनुरूप ही कार्यालय अध्यक्ष द्वारा कार्मिकों को बुलाया जावे। इस संबंध में कार्यालय अध्यक्ष निर्णय लेने के लिए अधिकृत होंगे। राज्य के सभी नगरीय निकायों में 22 मार्च से रात्रि 10 बजे के बाद बाजार बंद रहेंगे। अजमेर, भीलवाड़ा. जयपुर, जोधपुर, कोटा, उदयपुर, सागवाड़ा एवं कुशलगढ़ में रात्रि 11 से प्रातः 5 बजे तक नाइट कफ्फ्यू रहेगा।            नाइट कपर्यू की बाध्यता उन फैक्ट्रियों पर लागू

उपचुनाव से पहले मुस्लिम आंदोलकारियों को उदासीन करने मे ब्यूरोक्रेट्स के मार्फत सरकार कामयाब रही।

                   ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                   राजस्थान की कांग्रेस सरकार के खिलाफ लगातार अल्पसंख्यकों के सम्बन्धित विभिन्न मुद्दों को लेकर आंदोलन करने वाले मुस्लिम संगठनों व उर्दू शिक्षक एवं पैराटीचर्स संघों के नेताओं को ब्यूरोक्रेट्स के मार्फत मुख्यमंत्री गहलोत आपसी समझ व विश्वास कायम कर उपचुनाव के ठीक पहले उन्हें मनाने मे कामयाब होती नजर आ रही है।              अल्पसंख्यकों के सम्बन्धित अनेक मामलो के हल करने की मांगो के अलावा उर्दू व मदरसा पैराटीचर्स की विभिन्न मांगो के लिये लगातार आंदोलन करने वाले उर्दू शिक्षक संघ व मदरसा पैराटीचर्स संघ के साथ विभिन्न सामजिक संगठनों के साथ समय समय पर सरकार से जुड़े मुस्लिम जनप्रतिनिधियों ने वार्ताएं तो की लेकिन वो मुख्यमंत्री तक उनकी बातो को ढंग से पहुंचाने मे पूरी तरह कामयाब नही हुये तो सर पर आये उपचुनाव के ठीक पहले उक्त संगठनों द्वारा आंदोलन तेज करके कांग्रेस को हराने का साफ ऐहलान करने के बाद हायर ब्यूरोक्रेट्स ने उनकी मांगो को उपर तक ढंग से पहुंचाया तो उनमे से अधीकांश मांगों पर सकारात्मक रुख अपनाते हुमे मुख्यमंत्री गहलोत ने 18-मार्च

गहलोत सरकार को तीन साल होने को आ रहे है, पर अल्पसंख्यक सम्बंधित सभी बोर्ड-निगम आज भी नियुक्तियो से महरूम है।

                   ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                  हालांकि कुछ संवेधानिक पदो पर मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा अपने कुछ खासमखास लोगो को पीछले दिनो मे एक एक करके नियुक्त करने के अलावा तमाम तरह के बोर्ड व निगम सहित अन्य राजनीतिक नियुक्तिया करने से गहलोत ने पूरी तरह दूरी बना कर सत्ता मे भागीदारी बांटने की बजाय अपने आपको एक मात्र सत्ता का केन्द्र बनाये रखने की भरपूर कोशिश की है। लेकिन सत्ता मे भागीदारी मिलने की उम्मीद लगा कर इंतजार मे बेठे राजनेताओं का गुस्सा नियुक्तिया नही मिलने से अब बाहर झलकने लगा है।इसके अतिरिक्त राजनीति मे लाचार व बंधुआ वोटबैंक की तरह राजस्थान की राजनीति मे भाजपा के मुकाबले कांग्रेस के चिपके रहने को मजबूर अल्पसंख्यक समुदाय के सम्बंधित बोर्ड व निगमों पर भी किसी तरह की नियुक्तियां अभी तक नही होने से असहाय समुदाय गहलोत की तरफ हताशा पुर्वक टक टकी लगाये बेठने को मजबूर नजर आ रहा है।                  भाजपा सरकार के समय गठित राजस्थान वक्फ बोर्ड का कार्यकाल इसी 8-मार्च को पुरा हो चुका है। हज जैसे पवित्र सफर का इंतजाम करने के गठित राजस्थान राज्य हज कमेटी का गठन गहलोत सरकार न

सेवादल ने सुजानगढ़ उपचुनाव में कांग्रेस के पक्ष में प्रचार के लिए सम्भाली कमान

  सीकर,18 मार्च 2021 । जिला कांग्रेस सेवादल की एक दिवसीय जिला स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला गुरुवार को इन्दिरा गाधी भवन में सेवादल जिलाध्यक्ष नरेन्द्र बाटङ की अध्यक्षता मे सम्पन्न हुई। जिला सेवादल ध्वजा कार्यालय प्रभारी इदरीस चौहान ने बताया की कार्यशाला में जिला कार्यकारणी पदाधिकारी एव सदस्यो को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष नरेन्द्र बाटङ ने कहा की सेवादल के राष्ट्रीय नेतृत्व एवं प्रदेश कांग्रेस सेवादल के नेतृत्व द्वारा सीकर जिला सेवादल को सुजानगढ उप चुनाव में प्रचार के लिए महत्वपूर्ण पूर्ण जिम्मेदारी दि है। इसके लिए सेवादल कार्येकर्ताओ को अभी से पुरी तैयारी के साथ सुजानगढ विधानसभा में गांव गांव चौपाल ढाणी शहर गली मौहलो में नुकङ सभाएं करके घर घर जाकर राज्य की कांग्रेस सरकार द्वारा जनता के हित मे किये गये विकास कार्यो ओर जनहितैषी योजनाओं के बारे में जानकारी देनी है। साथ ही केन्द्र की मोदी सरकार ओर भाजपा द्वारा जन विरोधी कार्यो,पेट्रोल-डीजल-रसोई गैस की बढाई जा रही किमतों,बढती मंहगाई कीसानो  पर थोपे गये तीनो काले कानून किसान आंदोलन के प्रती संवेदनहीनता शहीद किसानो को के प्रति श्रद्धांजली के द

आखिरकार मदरसा पैराटीचर्स संघ व उर्दू शिक्षक संघ के दवाब के कारण मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को कुछ घोषणाऐ विधानसभा मे करनी पड़ी।

                 ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                 पीछले माह उर्दू शिक्षक संघ के अध्यक्ष आमीन कायमखानी के नेतृत्व मे उपचुनाव वाली सुजानगढ़ विधानसभा क्षेत्र के इर्द गिर्द शेखावाटी जनपद मे धड़ाधड़ करीब पेंतालिस सभाऐ करने के बाद सुजानगढ़ कस्बे मे आम सम्मेलन करके वक्ताओं ने सरकार को खुली चेतावनी देकर चेताया था कि उनकी मांगे सरकार नही मानती है तो वो उपचुनाव मे कांग्रेस उम्मीदवारों को हराने के लिये काम करेगे। उक्त सम्मेलन मे दी गई चेतावनी के बाद कांग्रेस नेताओं की चेहरे पर चिंता की लकीर खींचना साफ देखे जाने का परिणाम यह निकला की आज विधानसभा मे बजट बहस पर रिप्लाई देते हुये मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उनकी अधीकमत मांगो के पक्ष मे घोषणा करते हुये सकारात्मक रुख दिखाया है।                 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विधानसभा मे आज बजट बहस पर रिप्लाई देते हुये कहा कि कक्षा छठी व उससे उच्च कक्षाओं में 10 से अधिक विद्यार्थी होने पर उर्दू शिक्षक की पूर्वत व्यवस्था जारी रखते हुए उर्दू शिक्षकों के सृजित 444 पदों को बढ़ा कर 1000 किया जावेगा। जिन क्षेत्रों में प्राथमिक स्तर तक 20 छात्र - छात्राए उर्दू में श

सीकर 17 मार्च- संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय आह्वान भारत बंद अनुसार सीकर जिला संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वाधान में प्रातः 9 से शाम 5 बजे तक सीकर जिले में चक्का जाम एवं व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे।

             ।अशफाक कायमखानी।       संयुक्त किसान मोर्चा प्रवक्ता बी एल मील ने बताया कि बुधवार को जिले के किसान संगठनों, व्यापारिक संगठन, ट्रेड यूनियन, सिटी बस यूनियन, टैक्सी यूनियन, शिक्षक संघ एवं अनेक सामाजिक संगठनों के समन्वय समिति की सांझा मीटिंग केंद्रीय श्रम संगठन की समन्वय समिति सीकर संयोजक सोहन भामू की अध्यक्षता में  आयोजित की गई | जिसमें संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय आह्वान के अनुसार 26 मार्च को किसान आंदोलन के 4 माह पूरे होने पर भी केंद्र सरकार द्वारा तीनों काले कृषि कानून वापस नहीं लेने पर सीकर जिला संपूर्ण रुप से बंद रहेगा तथा प्रातः 9 से शाम 5 बजे तक चक्काजाम भी रहेगा। संपूर्ण बंद के दौरान आवश्यक सेवाओं के अलावा सभी व्यापारी अपने प्रतिष्ठानों को बंद रखेंगे । सड़कों पर आवश्यक सेवाएं जिसमें एंबुलेंस और गैस सेवाओं के अलावा सभी प्रकार वाहनों का चक्का जाम रहेगा। बुधवार को भारत बंद और चक्का जाम शांतिपूर्ण आयोजन हेतु समन्वय समिति का गठन किया गया। अलग-अलग शहरों में व्यापार प्रतिष्ठान बंद रखने, जिले के 11 टोल बूथों एवं सभी सड़कों पर पॉइंट चिन्हित कर अलग-अलग कार्यकर्ताओं की जिम्

तीन विधानसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस - भाजपा व रालोपा ने कमर कसी। - दलो के अंदरुनी झगड़े चुनाव परिणाम को खास प्रभावित कर सकते है। सांसद आवेसी व सांसद बेनीवाल के साझा उम्मीदवार मैदान मे आने की चर्चा गरम।

              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                 चुनाव आयोग द्वारा राजस्थान की बल्लबनगर को छोड़कर बाकी तीन सीटो पर उपचुनाव कराने की तिथि की घोषणा के बाद से ही कांग्रेस-भाजपा व रालोपा के सम्भावित उम्मीदवारों के नामो को लेकर क्षेत्र मे चर्चा जोर पकड़ने लगी है। कांग्रेस की तरफ से सुजानगढ़ से दिवंगत भंवरलाल मेघवाल के पूत्र व सहाड़ा से दिवंगत कैलाश त्रिवेदी के भाई या पुत्र मे से किसी को उम्मीदवार बनाना लगभग तय बताते है। वही राजसमन्द से मुख्यमंत्री गहलोत व विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी की सहमति से नाम तय होना माना जा रहा है। वही भाजपा राजसमन्द से दिवंगत किरण महेश्वरी के परिवार से व बाकी दो जगह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पसंद अनुसार नाम लगभग तय कर लिये बताते है। जिनकी घोषणा होना बाकी है। रालोपा कांग्रेस-भाजपा उम्मीदवारों को मध्यनजर रखते हुये अपने उम्मीदवारों की घोषणा करेगी।                 चुनाव होने वाले तीनो विधानसभा मे कुल मतदाता 7,43,802 मतदान कर सकते है। जिनमे 3.80 लाख पुरुष व 3.63 लाख महिला मतदाता है। तीनो क्षेत्रो मे कुल 1145 मतदान केंद्र होगे। जिनमे सहाड़ा मे 387, सुजानगढ़ मे 418 एवं राज

राजस्थान विधानसभा उपचुनाव की घोषणा के साथ ही राजनीति का पारा चढने लगा। - कांग्रेस के लिये अनुसूचित जाति-जनजाति व अल्पसंख्यक मतदाताओं की नाराजगी व उदासीनता को दूर करने की चैलेंज।

             ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             राजस्थान की सत्तारूढ़ पार्टी कांग्रेस व प्रमुख विपक्षी दल भाजपा के नेताओं के अंदरूनी तौर व वर्चस्व की जारी जंग के मध्य आखिर कार चुनाव आयोग ने राजस्थान की रिक्त चार सीट मे से बल्लबनगर की सीट को छोड़कर बाकी तीन सीटो पर उपचुनाव कराने की घोषणा करने के साथ ही राजनीति का पारा चढने लगा है। घोषणा के अनुसार 17 अप्रैल को मतदान होगा। जिसके लिये 23 मार्च से नामांकन भरे जा सकेंगे एवं नामांकन पत्र भरने की अंतिम तिथि 30 मार्च होगी।नामांकन की संवीक्षा 31 मार्च तक व 3 अप्रैल तक नाम वापसी हो सकेगी। दो मई को मतगणना के बाद परिणाम जारी होगे।                    कांग्रेस के पूर्व मंत्री रमेश मीणा सहित विधायक मुरारी मीणा व वैद प्रकाश सोलंकी ने अपनी ही प्रदेश सरकार पर अनुसूचित जाति व जनजाति सहित अल्पसंख्यक विधायकों व मतदाताओं की उपेक्षा करने का आरोप विधानसभा के अंदर व बाहर लगाते हुये कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मिलने का समय मांग कर राजनीति को गरमा कर मुख्यमंत्री गहलोत के सामने गम्भीर सवाल खड़ा कर दिया है। 8-मार्च को पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा नेता वसुंधरा राजे ने अ

आठ दिवसीय ऑनलाइन राष्ट्रीय कला शिविर का समापन

लखनऊ , एल.पी.एस.डायरेक्टर नेहा सिंह द्वारा आयोजित फ्लोरेसेन्स आर्ट गैलरी के तत्वावधान में क्रिएटर - इन डिफरेंटपर्सपेक्टिव ऑनलाइन राष्ट्रीय कला शिविर का समापन हुआ। यह ऑनलाइन कला शिविर पिछले दिनों 9 मार्च से शुरू किया गया था। और शिविर के बीच मे ऑनलाइन माध्यम से कलाकारों के स्टूडिओं का भी अवलोकन किया गया।      इस अवसर पर शिविर के सभी प्रतिभागी कलाकार और गैलरी के सभी सदस्य जुड़ें साथ ही कलाकारों से एक संवाद भी स्थापित किया गया। नेहा सिंह ने कहा कि कला के तमाम माध्यमों में कार्य कर रहे खास तौर पर स्वतंत्र कलाकारों को उनकी कला के लिए हमेशा अनेक गतिविधियों के माध्यम से प्रेरित और प्रोत्साहित करते रहेंगे।  फ्लोरेसेन्स आर्ट गैलरी कलाकार और कला प्रेमियों के बीच एक संबंध स्थापित करेगी। और आम लोगों को समकालीन कला से जोड़ने की दृष्टि से एक बेहतर योजना भी बना रही है।  और आज इसी कड़ी में जो पहली शुरुआत क्रिएटर - इन डिफरेंटपर्सपेक्टिव ऑनलाइन कला शिविर से हुआ है हमें इस बात की बहुत खुशी है कि इस शिविर में देश के 10 युवा और समकालीन कलाकार शामिल हुए। जिन्होंने अपने जीवन का उद्देश्य ही कला को बनाया है और लगा

एल.पी. सी. पी. एस. में इंटरनेशनल कान्फ्रेंस

  लखनऊ , गोमती नगर स्थित लखनऊ पब्लिक कॉलेज ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज में 'महिला सशक्तिकरण एवं उद्यमिता विकास’ विषय पर एक दिवसीय इंटरनेशनल कान्फ्रेंस का आयोजन किया गया, जिसमें  भारत में रह रहे इंडोनेशिया के रिसर्च स्कॉलर अक्सेंद्रो मेक्सीमिलियन,  यमन के अब्दुलअज़ीज़ अहमद , रूस की एलेना स्टोयाकिना, डॉ राम मनोहर लोहिया नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की अंग्रेजी विभाग की डॉ. अलका सिंह, लखनऊ विश्वविद्यालय के पूर्व प्रो-वीसी डॉ. ऐ के सेनगुप्ता, शिक्षाविद डॉ. एस पी सिंह, एल पी एस डायरेक्टर नेहा सिंह, गरिमा सिंह, हर्षित सिंह, एल पी सी पी एस के डीन डॉ. एल एस अवस्थी, डॉ. एम एल गुप्ता व डॉ. मानव सिंह ने महिला सशक्तिकरण एवं उद्यमिता विकास पर अपने विचार व्यक्त किये | इसके अतिरिक्त मुंबई के सेन्ट जेबियर कॉलेज से डॉ. अवकाश जाधव व नाइजीरिया से डॉ. अफ्यौर ओ. एम. आइतो ने ऑनलाइन व्याख्यान दिया | कान्फ्रेंस में इस बात कि पुष्टि की गयी कि महिलाएं समाज की वास्तविक सामर्थ्य हैं | सामाजिक विकास में उनकी बराबर की भागीदारी सुनिश्चित की जानी चाहिये | महिला सशक्तिकरण एवं उद्यमिता विकास एक प्रगतिशील समाज की आवश्यकता है |

हनीट्रैप में जासूसी करने का आरोपी आकाश महरिया गिरफ्तार

  जयपुर।            अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस (इन्टैलीजेन्स) उमेश मिश्रा के निर्देशानुसार पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी द्वारा छद्म नाम से संचालित सोशल मिडिया अकाउंट पर सम्पर्क में रहते हुए भारतीय सेना से सम्बंधित सामरिक महत्व की सूचना भेजने में लिप्त संदिग्ध आकाश महरिया पुत्र हरदयाल महरिया, उम्र 22 साल, निवासी गाँव यालसर तहसील लक्ष्मणगढ़ जिला सीकर, राजस्थान से समस्त आसूचना एजेंसियों द्वारा पूछताछ करने पर जासूसी गतिविधियों में लिप्त पाये जाने पर सी.आई.डी (विशेष शाखा) जयपुर के स्पेशल पुलिस स्टेशन पर शासकीय गुप्त बात अधिनियम 1923 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है।       आकाश महरिया पिछले काफी समय से जासूसी गतिविधियों में सकिय था. इस सम्बन्ध में सर्वप्रथम इन्टेलीजेन्स जयपुर को प्राप्त इनपुट को गोपनीय रूप से निगरानी रखते हुए डवलप किया गया जिसके बाद समस्त कार्यवाही को अंजाम देने के लिए सीआईडी की विशेष टीम तथा मिलट्री इन्टेलीजेन्स जयपुर के साथ मिलकर उच्चाधिकारियों के निर्देशन पर खुफिया तौर से निगरानी रखी जा रही थी।      आकाश महरिया के आर्मी से छुट्टी लेकर अपने गाँव आने पर उससे शासकीय गुप्

कांग्रेस नेता पीसी चाको की तरह राजस्थान मे भी अनेक कांग्रेस नेता पार्टी छोड़ सकते है। - मुख्यमंत्री गहलोत के सरकार चलाने के तरीकों को लेकर दलित व मुस्लिम विधायक खुलकर विरोध मे आकर अपनी बात रखने लगे।

           ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                  राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार चलाने की नीतियों के चलते मात्र कुछ कांग्रेस विधायक व आधा दर्जन नजदीकी नेताओं को ही सरकारी कामकाज मे अहमियत मिलने के अलावा बाकी सभी तरह के कांग्रेस नेताओं को किसी भी रुप मे अहमियत नही मिलने के चलते अंदर ही अंदर पनप रहे आक्रोश को देखते हुये लगता है कि हाल ही मे केरल के दिग्गज नेता पीसी चाको की तरह राजस्थान के भी अनेक नेता कांग्रेस को अलविदा कह सकते है। इसके विपरीत पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा नेता वसुंधरा राजे द्वारा अपने निजी कार्यक्रम के बहाने भरतपुर मे पार्टी नेताओं को जमा करके अपनी ताकत दिखाकर दवाब बनाने की चेष्टा को आगे चलकर धीरे धीरे उनके कमजोर होना माना जा रहा है। भरतपुर मे राजे के कार्यक्रम मे शामिल होने वाले नेताओं की सूची सार्वजनिक होने के बाद राजनीतिक चर्चा भी चरम पर पहुंच चुकी है।मानो अब पार्टी मे राजे की उल्टी गिनती शुरू।                  गहलोत के सरकार चलाने के तरीको को लेकर विधानसभा मे व विधानसभा के बाहर कांग्रेस के विधायक खुलकर उनके खिलाफ बोलने लगे है। गहलोत के वितमंत्री की हेसियत

500 वर्गमीटर तक के भूखण्डों पर मकान बनाने के लिए नक्शा पास करवाने की जरूरत नहीं, सरकार ने जनता को दी राहत

            ।अशफाक कायमखानी। जयपुर : 500 वर्गमीटर से 2500 वर्गमीटर तक के भूखण्ड पर नक्शा पास करवाने के लिए नगर निकायों के चक्कर काटने की जरूरत नहीं होगी। इसके लिए सरकार से पंजीकृत आर्किटेक्ट से नक्शा अनुमोदित कराकर निर्माण शुरू किया जा सकता है। राज्य में किसी भी निकाय क्षेत्र में अगर आपके पास स्वयं का 500 वर्गमीटर तक का भूखण्ड है और उस पर आप अपने स्वयं के रहने के लिए आवास बनाना चाहते है, तो उस भवन की निर्माण अनुमति के लिए आपको किसी से अनुमति लेने की जरूरत नहीं है। राज्य सरकार ने 500 वर्गमीटर तक के भूखण्डों पर भवन मानचित्र पेश करने की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है। इससे प्रदेश के लाखों भूखण्डधारियों को बड़ी राहत मिलेगी। नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने बताया कि इससे पहले सरकार ने 250 वर्गमीटर तक के भूखण्डों पर ही भवन निर्माण के लिए नक्शा पेश करने की छूट दे रखी थी, लेकिन अब इस दायरे को बढ़ाकर 250 से 500 वर्गमीटर कर दिया। उन्होंने बताया कि राज्य के कई छोटे-छोटे शहरों में लोगों के पास बड़े भूखण्ड (250 वर्गमीटर से बड़े) है, जिन पर आवास बनाने के लिए लोगों को नक्शा पास करवा

पुर्व मत्रीं पायलट समर्थक विधायक रमेश मीणा ने अपनी ही सरकार पर लगाया बड़ा आरोप, बोले काग्रेस के वोटबैक के साथ हो रहा है अन्याय , तीखी बहस के बीच स्पीकर बोले आपको में पंसद नही हूँ तो इस्तीफा दे सकता हूँ

                 ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।            राजस्थान विधानसभा में सीटों की व्यवस्था को लेकर भिड़ने के बाद पायलट समर्थक विधायक रमेश मीणा ने अपनी ही सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि सदन में हमारे साथ भेदभाव किया जा रहा है। विधानसभा के अंदर एससी-एसटी और अल्पसंख्यक समुदाय के विधायक-मंत्रियों को बिना माइक वाली सीटों पर जानबूझकर बैठाया जा रहा है, ताकि हमारी आवाज दबाई जा सके।विधानसभा में बैठने की व्यवस्था को लेकर स्पीकर से भिड़ने के बाद सचिन पायलट समर्थक कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री रमेश मीणा ने कहा कि सदन में कांग्रेस के SC-ST और अल्पसंख्यक समुदाय से 50 विधायक हैं। अगर आप ध्यान से देखें तो सदन में कोरोना के नाम पर हम लोगों को ऐसी सीटों पर बैठाया गया है जिसमें एक भी माइक की व्यवस्था नहीं है। ऐसे में मंत्रियों को सवाल पूछने के लिए दूसरी सीट पर जाना पड़ता है। रमेश मीणा यहीं नहीं रुके, बल्कि बाकायदा नाम गिना-गिना कर बता रहे थे कि सदन में किस-किस की सीट पर माइक नहीं है।   मीणा ने आगे कहा कि दलित वर्ग के मंत्री टीकाराम जूली और भजनलाल जाटव को बिना माइक की सीट द

कान्ति सिंह ने किया नारी शक्ति सम्मान

 लखनऊ, अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर लखनऊ पब्लिक स्कूल्स एण्ड काॅलेजे़ज की मुख्य प्रशासिका एवं पूर्व एम0एल0सी0 कान्ति सिंह ने विगत वर्षों की भाँति, इस वर्ष भी समाज के उत्थान में अपना योगदान देने वाली विभिन्न क्षेत्र की  महिलाओं को ‘नारी शक्ति सम्मान’ से अलंकृत किया। सम्मानित होने वाली महिलाओं को स्मृति चिन्ह्, बुके व शाल भेंट किया। जिन नारी शक्तियों को सम्मानित किया गया उनके नाम इस प्रकार हैं-रेखा पटेल (दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री, उ0प्र0 शासन), छत्तीसगढ़ की लता ऋषि चन्द्राकर (समाज सेवा), अलका वर्मा (अपर आयुक्त), रुपाली पटेल (शिक्षा), कहकशां अरबी (शिक्षा), सुनंदा माथुर (शिक्षा), ग्रेस अरुन (कारपोरेट), संगीता कटियार (पी.सी.एस.) ललिता वर्मा (समाजसेवी), शिखा सिंह (समाजसेवी), रीता सिंह पटेल (काउन्सलर, लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट), वर्षा सचान (समाजसेवी), कामिनी पटेल (समाजसेवी), गरिमा अवस्थी आदि। कार्यक्रम में नेहा सिंह, गरिमा सिंह, राजबहादुर सचान, अर्चना सिंह, डाॅ0 सी0पी0 सिंह, राम स्वरूप वर्मा, आशीष पटेल, कुमुद सिंह, प्रियंका सिंह, आदि उपस्थित रहे।

वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी बचाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।

                     ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।              हर साल आठ मार्च को विश्व भर मे महिलाओं के लिये अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। लेकिन महिलाओं को लेकर इस तरह के मनाये जाने वाले अनगिनत समारोह को वास्तविकता का रुप दे दिया जाये तो निश्चित ही महिलाओं के हालात ओर अधिक बेहतरीन देखने को मिल सकते है। इसके विपरीत राजस्थान के सीकर के लाल व मुम्बई प्रवासी वाहिद चोहान ने महिलाओं का वास्तव मे सशक्तिकरण करने का बीड़ा उठाकर अपने जीवन भर का कमाया हुया सरमाया खर्च करके वो काम किया है जिसकी मिशाल दूसरी मिलना मुश्किल है।इसी काम के लिये राजस्थान सरकार ने वाहिद चोहान को महिला सशक्तिकरण अवार्ड से नवाजा है। बताते है कि इस तरह का अवार्ड पाने वाले एक मात्र पुरुष वाहिद चोहान ही है।                   करीब तीस साल पहले सीकर शहर के रहने वाले वाहिद नामक एक युवा जो बाल्यावस्था मे मुम्बई का रुख करके वहां उम्र चढने के साथ कड़ी मेहनत से भवन निर्माण के काम से अच्छा खासा धन कमाने के बाद ऐसों आराम की जिन्दगी जीने की बजाय उसने अपने आबाई शहर सीकर की बेटियों को आला तालीमयाफ्ता करके उनका जीवन खुसहाल बनाने की जीद

लखनऊ पब्लिक स्कूल की स्थानीय शाखा में छात्र-छात्राओं एवं उनके माता-पिता व अभिभावकों के साथ काउंसलिंग संपन्न हुई।

   लखनऊ पब्लिक स्कूल की स्थानीय शाखा में छात्र-छात्राओं एवं उनके माता-पिता व अभिभावकों के साथ काउंसलिंग संपन्न हुई। लखनऊ पब्लिक स्कूल्स व कॉलेज के कैरियर काउंसलर एवं कैरियर पाथवे, लखनऊ के डायरेक्टर श्री अभिजीत बनर्जी ने अपनी टीम के साथ काउंसलिंग की। काउंसलिंग दो चरणों में आयोजित हुई। प्रथम चरण में प्राइमरी वर्ग एवं द्वितीय चरण में जूनियर व सीनियर वर्ग के अभिभावकों के साथ संपन्न हुई। वर्तमान सत्र में जुड़े नवीन छात्रों एवं उनके अभिभावकों को भी इस काउंसलिंग मे आमंत्रित किया गया था। श्री अभिजीत ने सरकार द्वारा बनाई गई नई शिक्षा नीति के प्रमुख बिंदुओं पर प्रकाश डाला। बच्चों की पढ़ाई को रोचक एवं सुगम बनाने एवं सामाजिकता से उन्हें भी जोड़ने हेतु उन्होंने अनेक उदाहरणों को प्रस्तुत कर बहुमूल्य सुझाव दिए। उपस्थित अभिभावकों के व्यक्तिगत प्रश्नों के उत्तरों को भी उन्होंने सुंदर व मनोवैज्ञानिक ढंग से दिया। कार्यक्रम के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग एवंसभी मानकों का पालन किया गया। विद्यालय के प्रधानाचार्य विजय सचदेवा ने वर्तमान समय में अभिभावकों को बच्चों के समक्ष अपने दैनिक क्रियाकलापों को भी एक उत्कृष्ट

14 जिलों में 202 प्लाटों की ई-प्लेटफार्म पर आॅक्शन प्रक्रिया शुरु, छोटे प्लाॅटों के आक्शन से बढेंगे स्थानीय रोजगार के अवसर और राजस्व-प्रमुख सचिव माइंस श्री शर्मा

           ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             माइंस एवं पेट्रोलियम विभाग के प्रमुख सचिव श्री अजिताभ शर्मा ने बताया है कि माइंस विभाग द्वारा राज्य के खनन पट्टों के आवंटन के लिए 14 जिलों में 202 प्लाॅटों की ई-नीलामी के माध्यम से नीलामी की जाएगी। उन्होंने बताया कि माइंस विभाग द्वारा खनन प्लाॅटों का सृजन कर ई- प्लेटफार्म पर नीलामी और आरसीसी और ईआरसीसी के ठेकों की ई-आॅक्शन से नीलामी प्रक्रिया में तेजी लाकर स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर बढ़ाने व राजस्व बढ़ोतरी के ठोस कदम उठाए जा रहे हैं। इससे पहले 131 प्लाटों के आवंटन से 70 करोड़ रु. का राजस्व प्राप्त हो चुका है।     प्रमुख सचिव माइंस श्री अजिताभ शर्मा ने बताया कि अप्रधान खनिजों के खनन पट्टों की ई-प्लेटफार्म पर नीलामी से आॅक्शन प्रक्रिया में पारदर्शिता, स्वस्थ्य प्रतिस्पर्धा और अधिक राजस्व प्राप्त होने के अवसर उपलब्ध होंगे। उन्होंने बताया कि छोटे-छोटे प्लाॅटों की माइनिंग के आॅक्शन से स्थानीय स्तर पर ही लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रुप से अधिक रोजगार के अवसर सुलभ हो सकेंगे। विभाग द्वारा 14 जिलों में करीब 310 हैक्टेयर के 202 प्लाॅटों की आॅक

राजस्थान वक्फ बोर्ड का आठ मार्च को कार्यकाल पूरा होने को है, लेकिन सदस्यों के लिये चुनावी प्रक्रिया अभी शुरु नही हुई। - नये चुनाव के लिये सरकारी स्तर पर हलचल पर प्रशासक लगने के चांसेज अधिक बताये जा रहे है।

                     ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                राजस्थान वक्फ बोर्ड के मोजूदा बोर्ड के 9-मार्च-2016 को गठित होने के बाद सरकार द्वारा नामित तीन सदस्यों मे से अबूबकर नकवी के चेयरमैन बनने के बाद उन सहित तीनो सदस्यों की सदस्यता की योग्यता को लेकर न्यायालय मे चले वाद के बाद अध्यक्ष सहित तीनो की सदस्यता रद्द होने के उपरांत कांग्रेस सरकार द्वारा काफी दिनो बाद फिर तीन सदस्य खानू खान, डा.राणा जैदी व अस्मा खान को नामित करके अध्यक्ष पद के लिये उपचुनाव करवाने पर खानू खान निर्विरोध अध्यक्ष चुने गये थे। मोजुदा बोर्ड का 8- मार्च-2021 तक का कार्यकाल है। उसके पहले सरकार समस्त तरह की चुनावी व मनोनयन प्रक्रिया अपना कर नये अध्यक्ष का चुनाव करवाने मे सफल होती है या फिर कुछ दिनो तक फिर से बोर्ड पर प्रशासन राज कायम होता है। या फिर सरकार अन्य विकल्प तलाश करती है। यह सब अगले कुछ दिनो मे सामने आ पायेगा।              राजस्थान वक्फ बोर्ड गठन मे कुछ सदस्यों का चुनाव होता है एवं कुछ सदस्यों का राज्य सरकार के द्वारा विभिन्न केटेगरी मे मनोनयन होता है। एक सदस्य लोकसभा या राज्य सभा के वर्तमान मुस्लिम सदस्य

दो बेटियों की शादी कर विदा करने के बाद पिता ने कुएं में कूदकर दी जान !!

            ।अशफाक कायमखानी। सीकर। राजस्थान। जिले के पलसाना कस्बे में दो बेटियों की शादी के बाद आज एक पिता द्वारा आत्महत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पलसाना कस्बे के रजब खान नाम के व्यक्ति ने आज कुएं में कूदकर आत्महत्या कर ली. जानकारी मिली है कि कल ही मृतक की दो बेटियों का विवाह हुआ था. बेटियों को विदा करने के बाद आज मृतक रजब का घर से चाय पीकर निकला और 2 किलोमीटर दूर कुएं में कूदकर अपनी जान दे दी. प्रथम दृष्टया अधिक कर्जा होने से मृतक द्वारा आत्महत्या करने की बात सामने आ रही है. दो बेटियों की शादी के बाद पिता द्वारा आत्महत्या करने की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची रानोली थाना पुलिस ने मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों के हवाले कर दिया है और पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है। घर से करीब 2 किमी दूर स्थित कुएं में कूदकर अपनी जान दी पुलिस के अनुसार आत्महत्या करने वाले रजब खान की दो बेटियों की मंगलवार को शादी थी. बेटियों को विदा करने के बाद रजब बुधवार को सुबह घर से चाय पीकर निकला. उस दौरान घर शादी में आये हुये मेहमान भी थे. बाद में उसने करीब 2 किमी दूर स्थित कुएं में कूद

सांसद हनुमान बेनीवाल के चारो उपचुनाव वाली सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करने की घोषणा से राजनीति गरमाई।

                      ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                हालांकि राजस्थान मे होने वाले चार विधानसभा उपचुनावो की तिथि की घोषणा अभी तक नही हुई है। लेकिन राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के नेता सांसद हनुमान बेनीवाल द्वारा आज प्रैस कांफ्रेंस करके चारो उपचुनाव वाली सीटो पर अपने उम्मीदवार खड़े करने की घोषणा करने से भाजपा व कांग्रेस मे बैचेनी पैदा करने के साथ दो दलीय व्यवस्था की कायम राजनीति को गरमा कर अपने को तीसरे विकल्पके तौर पर पैश करके नई हलचल पैदा कर दी है।             कृषि सम्बंधित तीन काले काननूनो को लेकर हाल ही मे एनडीए से अलग होने वाले सांसद हनुमान बेनीवाल ने कांग्रेस व भाजपा पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुये उनपर जमकर प्रहार करते हुये मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर भी जमकर शब्द बाण चलाये। राज्य व केंद्र सरकार पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुये कहा कि दोनो ही सरकारों ने पेट्रोल व डीजल को राजस्व का मुख्य जरीया बना रखा है। दोनो सरकारों द्वारा मिलकर पेट्रोल डीजल पर बेतहाशा कर लगाकर कीमतें बढाकर जनता को लूट रहे है।            बेनीवाल द्वारा अपनी पार्टी को सभी तबको की

सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।

                 ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।              हर साल आठ मार्च को विश्व भर मे महिलाओं के लिये अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। लेकिन महिलाओं को लेकर इस तरह के मनाये जाने वाले अनगिनत समारोह को वास्तविकता का रुप दे दिया जाये तो निश्चित ही महिलाओं के हालात ओर अधिक बेहतरीन देखने को मिल सकते है। इसके विपरीत राजस्थान के सीकर के लाल व मुम्बई प्रवासी वाहिद चोहान ने महिलाओं का वास्तव मे सशक्तिकरण करने का बीड़ा उठाकर अपने जीवन भर का कमाया हुया सरमाया खर्च करके वो काम किया है जिसकी मिशाल दूसरी मिलना मुश्किल है।इसी काम के लिये राजस्थान सरकार ने वाहिद चोहान को महिला सशक्तिकरण अवार्ड से नवाजा है। बताते है कि इस तरह का अवार्ड पाने वाले एक मात्र पुरुष वाहिद चोहान ही है।                   करीब तीस साल पहले सीकर शहर के रहने वाले वाहिद नामक एक युवा जो बाल्यावस्था मे मुम्बई का रुख करके वहां उम्र चढने के साथ कड़ी मेहनत से भवन निर्माण के काम से अच्छा खासा धन कमाने के बाद ऐसों आराम की जिन्दगी जीने की बजाय उसने अपने आबाई शहर सीकर की बेटियों को आला तालीमयाफ्ता करके उनका जीवन खुसहाल बनाने की जीद लेक

एल.पी.सी.पी.एस. में बास्केटबॉल टूर्नामेंट का समापन

     लखनऊ, लखनऊ पब्लिक कॉलेज ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज गोमती नगर में तीन दिवसीय श्री रामलाल मेमोरियल बास्केटबाॅल टूर्नामेंट का आज समापन हो गया। तीन दिनों तक चले इस टूर्नामेंट में लखनऊ क्रिश्चियन काॅलेज की टीम विजेता रही, वहीं लखनऊ यूनिवर्सिटी की टीम दूसरे स्थान पर रही। खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करने के लिए भारतीय हाॅकी टीम के पूर्व कप्तान व उत्तर प्रदेश के खेल निदेशक डाॅ आर.पी. सिंह, प्रबन्धक डाॅ एसपी सिंह, डायरेक्टर गरिमा सिंह व डीन डाॅ एलएस अवस्थी उपस्थित रहे। इस बास्केटबाॅल टूर्नामेंट में नौ टीमों ने हिस्सा लिया। आज अंतिम मुकाबला लखनऊ क्रिश्चियन काॅलेज व लखनऊ विश्वविद्यालय की टीम के बीच हुआ, जिसमें क्रिश्चियन काॅलेज की टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए विजेता ट्रॉफी अपने नाम कर ली। लखनऊ विश्वविद्यालय की टीम दूसरे व एमिटी यूनिवर्सिटी की टीम तीसरे स्थान पर रही। प्रथम स्थान पर रहने वाली क्रिश्चियन काॅलेज की टीम को 6500 रूपये व दूसरे स्थान पर रहने वाली लखनऊ विश्वविद्यालय की टीम को 3500 रूपये का नगद पुरस्कार दिया गया। विजेता टीम के खिलाड़ियों को गोल्ड मेडल्स, उपविजेता टीम के खिलाड़ियों को सिल्वर मे

सांसद असदुद्दीन आवेसी की एआईएमआईएम व पोपुलर फ्रंट के प्रभाव से मुकाबले को लेकर कांग्रेस ने राजस्थान मे अपनी मुस्लिम लीडरशिप व संस्थाओं को आगे किया।

     हेदराबाद के बाहर एआईएमआईएम जयभीम जयमीम के गठबंधन को लेकर चुनाव लड़ती रही है। राजस्थान मे जयभीम जयमीम व जय तेजाजी के गठबंधन के साथ चुनाव लड़ने की कोशिश मे होगी।                              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                बिहार विधानसभा चुनाव व अहमदाबाद स्थानीय निकाय चुनाव मे एआईएमआईएम की सफलता के बाद इत्तिला मिल रही है कि अपने ग्रांटेड वोटबैंक मुस्लिम समुदाय मे टूटन होने से चिंतित कांग्रेस ने आवेसी के बढते प्रभाव को रोकने के लिये अब पहले सोनिया गांधी के विदेशी मूल की बताकर कांग्रेस छोड़कर अलग दल मे जाकर वापस कांग्रेस मे आये बिहार के रहने वाले पूर्व सांसद को इस बाबत नेशनल लेवल की जिम्मेदारी देने की चर्चा है। वही उसके व कांग्रेस के प्रदेश नेतृत्व के निर्देशानुसार जिन जिन राज्यों मे सांसद आवेसी के जाकर चुनाव लड़ने की चर्चा है उन राज्यो की तरह राजस्थान मे भी कुछ मुस्लिम संस्थाओं को एआईएमआईएम को भाजपा की बी टीम बताकर उनके प्रभाव को कमजोर करने की मंशा से आगे कर दिया है। जो समय समय पर मिटींग व सम्मेलन करके एआईएमआईएम, पोपुलर फ्रंट के आने को सेक्युलर ताकतो को नुकसान होने का भ्रमजाल फैला

राजस्थान मे एआईएमआईएम की दस्तक से राजनीतिक हलचल बढी। कांग्रेस से जुड़े नेताओं मे बेचैनी। - उपचुनाव मे एआईएमआईएम के गठबंधन के उम्मीदवार खड़े करने को लेकर कयास लगने लगे।

                 ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                 प्रमुख रुप से हेदराबाद के सुल्तान सलाऊद्दीन आवेशी द्वारा बनाई गई राजनीतिक पार्टी एआईएमआईएम ने पहले हेदराबाद तक अपने पैर पसार रखे थे। लेकिन सुल्तान सलाऊद्दीन आवेसी के साहबजादे ने विदेश से बेरिस्टर की पढाई मुकम्मल करके अपने पिता द्वारा बनाई गई राजनीतिक पार्टी मे शामिल होकर राजनीति के माध्यम से खिदमत करने के इरादे से एआईएमआईएम को हेदराबाद से लेकर भारत के अन्य हिस्सों तक बाहर लाकर उसे परवान चढाने की शुरुआत मे पहले महाराष्ट्र ओर फिर बिहार चुनाव के बाद गुजरात मे अपने पैर जमाने मे ठीक ठीक कामयाबी मिलने के साथ साथ अब जाकर भारतभर के अधीकांश हिस्सों के मुस्लिम समुदाय के युवाओं का एक बडा हिस्सा अब उन्हें वर्तमान राजनीतिक हालात मे अपना काईद (लीडर) मानने लगा है।                  राजस्थान मे भाजपा व कांग्रेस के नाम पर दो दलीय व्यवस्था कायम होने की मजबूरी के कारण मुस्लिम समुदाय को कांग्रेस द्वारा ग्ररान्टेड वोटबैंक मानकर उनकी गहलोत सरकार द्वारा लगातार अनदेखी करते आने से खासतौर पर असहज महसूस करने वाला युवा तबका अब सांसद असदुद्दीन आवेसी व उनकी पा