सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

अगस्त, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

लखनऊ पब्लिक स्कूल के प्रांगण में मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन हुआ

  लखनऊ पब्लिक स्कूल के प्रांगण में मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन जन्माष्टमी के अवसर पर हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ। छात्रों के मध्य प्रतियोगिता चारों हाउसेस नोबेल, डिग्निटी, लिबर्टी व रीगल के मध्य आयोजित की गई। नोबल हाउस के बच्चों ने पिरामिड बनाकर निर्धारित ऊंचाई पर लटकी मटकी को लक्ष्य बनाकर विजेता बनी। शिक्षकों के मध्य हुई प्रतियोगिता में सीनियर वर्ग की रुचिता सेलेस्ट विजेता बनी। प्रधानाचार्य श्री विजय सचदेवा ने सभी विजेताओं को सम्मानित  किया एवं कार्यक्रम की सफलता के लिए सभी को धन्यवाद दिया। कार्यक्रम के दौरान मास्क अनिवार्यता एवं कोविड नियमों का पालन किया गया।

सीएम गहलोत की तबियत खराब,एसएमएस के कैथ लैब में एंज्योप्लास्टी हुई सफलतापूर्वक , पायलट सहित कई नेताओ ने जाना गहलोत का हाल , सीएम के ओएसडी ने कहा चिंता की कोई बात नही।

   जयपुर। ।अशफाक कायमखानी।   मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तबियत आज खराब हो गई है। सुबह उन्हें सीने में दर्द की शिकायत महसूस हुई और बैचेनी लगी। इस पर वे सवेरे जांच के लिए पहले सी स्कीम स्थित डायग्नोस्टिक सेंटर में जांच कराने गए। इसके बाद वे एसएसएस अस्पताल गए और वहां पर गहलोत ने कार्डिक और अन्य जांचे कराई। बाद में गहलोत की एंज्योप्लास्टी कराई गई। गहलोत के साथ चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा भी रहे। गहलोत के एक आर्टरी में 90 प्रतिशत ब्लाकेज बताया जा रहा है। गहलोत की तबियत खराब होने की खबर सामने आई, नेताओं ने उनके कुशलक्षेम की कामना की। गहलोत ने भी शुभचिंतकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि वे ठीक है और वापस लौटेंगे। चिकित्सकों ने गहलोत को आराम करने की सलाह दी है। अस्पताल के प्राचार्य डॉ. सुधीर भंडारी, एसएमएस अस्पताल अधीक्षक डॉ. राजेश शर्मा सहित कार्डियोलॉजी सहित अन्य विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम ने उनकी जांच कराई। गहलोत की तबियत खराब होने की सूचना पर सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी भी अस्पताल पहुंचे और उनका हाल जाना। पीसीसी अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने सीएम गहलोत के जल्द ठीक होने की कामना की है। डोटासरा

नई दिल्ली : वर्किंग पीपल'स चार्टर (डब्ल्यूपीसी) की नई पहल अब श्रमिकों को देगी कानूनी सहायता - जारी किया हेल्पलाइन नंबर

  नई दिल्ली  : वर्किंग पीपल'स  चार्टर (डब्ल्यूपीसी)  की नई पहल अब श्रमिकों को देगी कानूनी सहायता - जारी किया हेल्पलाइन नंबर अब श्रमिक फ़ोन कॉल कर के कानूनी सहायता प्राप्त कर सकते है।  "मीडिएशन और कानूनी सहायता" हेल्पलाइन को 'इंडिया लेबरलाइन ' कहा जाता है । मज़दूर टोल-फ्री नंबर (1800 833 9020) की सहायता से टेली-परामर्शदाताओं से अपनी समस्या का समाधान पा सकते है हेल्पलाइन विशेष रूप से असंगठित और प्रवासी मज़दूरों पर केंद्रित है क्योंकि कई श्रम कानून इन लोगों के वेतन और सामाजिक सुरक्षा अधिकारों को संबोधित नहीं करते हैं। हेल्पलाइन की स्थापना "और भी अधिक प्रासंगिक हो गई है जब कोई कोरोनोवायरस महामारी के कारण हुई अराजकता और विशेष रूप से प्रवासी श्रमिकों को राहत और सहायता प्रदान करने के लिए तंत्र की निराशाजनक कमी पर विचार करता है,"।   वर्किंग पीपल'स  चार्टर (डब्ल्यूपीसी) ने श्रम मीडिएशन और कानूनी सहायता के माध्यम से सभी क्षेत्र के मज़दूरों को सहायता प्रदान करने के लिए हेल्पलाइन नंबर मज़दूरों के लिए बहुत उपयोगी है। इस हेल्पलाइन नंबर से तत्काल सहायता मिलने से मज़दूर

New Delhi : Mediation and legal aid” will be provied to Labours by helpline called the " India Labourline "

   The “mediation and legal aid” helpline called the ‘India Labourline’. A worker seeking support can call the toll-free number (1800 833 9020) to be connected to tele-counsellors. The helpline focuses particularly on informal and migrant workers as several labor laws do not address wage and social security rights of these people. The setting up of the helpline “has become even more pertinent when one considers the chaos caused by the coronavirus pandemic and the dismal lack of mechanisms to provide relief and assistance, especially to migrant workers,”.   The Working People’s Charter (WPC) initiative of labour helpline number for providing assistance to the all sector workers through mediation and legal aid help is very helpful for the workers. Workers are happy as they get the immediate assistance from this helpline number. The primary target group of the Helpline will be the informal sector workers, with a special focus on migrant workers. Broadly our target sectors will include con

राजस्थान मे सांसद असदुद्दीन आवेसी की एआईएमआईएम पार्टी के गठन पर कल हैदराबाद मे होने वाली बैठक मे चर्चा होगी।

                 जयपुर ।अशफाक कायमखानी।                 हालांकि राजस्थान विधानसभा के चुनाव नवम्बर-दिसंबर-2023 मे होने है। समय से पहले चुनावी जोड़तोड़ करके प्रदेश मे आधार कायम करने के लिये हैदराबाद से बाहर निकल कर अनेक प्रदेशों मे पैर पसारने मे प्रयासरत सांसद असदुद्दीन आवेसी की पार्टी एआईएमआईएम के राजस्थान मे सक्रिय होने की चर्चा लगातार जारी रहने के बाद आखिरकार राजस्थान का एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल आज हैदराबाद पहुंच चुका है। जिसकी कल 26-अगस्त को दोपहर को हैदराबाद स्थित पार्टी दफ्तर दारुल इस्लाम मे सांसद असदुद्दीन आवेसी के साथ राजस्थान मे पार्टी संगठन खड़ा करने व चुनावी रणनीति बनाने को लेकर मंथन होना बताया जा रहा है             राजस्थान के युवा एडवोकेट जावेद खान खींवासर के नेतृत्व मे आज हैदराबाद पहुंचे प्रतिनिधि मण्डल की कल आवेसी के साथ राजस्थान की राजनीति को लेकर होने वाली राजनीतिक मंथन बैठक मे पार्टी संगठन के गठन करने के अलावा प्रदेश की पचास से अधिक उन विधानसभा क्षेत्रो पर चर्चा भी हो सकती है। जहां से कभी ना कभी मुस्लिम विधायक किसी ना किसी रुप मे रह चुके है। एवं डिलीमिटेसन के बाद 2008

राजस्व अधिकारियों की बैठक मे जिला कलेक्टर ने कहा कि बकाया प्रकरणों का समय पर निस्तारणकरे।

             सीकर  ।अशफाक कायमखानी।                 जिला कलेक्टर अविचल चतुर्वेदी ने कहा कि सभी राजस्व अधिकारी राजस्व से संबंधित बकाया प्रकरणों का शीघ्रता से निस्तारण करें तथा अन्य विभागों के भूमि आवंटन से संबंधित बकाया प्रकरणों का भी निस्तारण करना सुनिश्चित करें।                 आज सीकर कलेक्टे्रट सभा भवन में आयोजित राजस्व अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुये जिला कलेक्टर ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि सभी राजस्व अधिकारी सीमा ज्ञान के आवेदन प्राप्त होते ही उनका निस्तारण करने, राजकीय, सिवायचक एवं चारागाह भूमि पर किये गये अतिक्रमण के संबंध में प्रभावी कार्यवाही कर निराकरण करवाने की कार्यवाही पूरी करें। उन्होंने समस्त अधिकारियों से कहा कि संबंधित कोर्ट में दर्ज प्रकरणों की सम्पूर्ण जानकारी के साथ  अधिवक्ता के साथ समन्वय स्थापित कर पैरवी करावें तथा समस्त प्रकरणों का शीघ्रता से निस्तारण करवाते हुये उनकाें ऑनलाईन करावें।            जिला कलेक्टर ने समस्त राजस्व अधिकारियों को राज्य सरकार द्वारा 2 अक्टूबर से शुरू होने वाले  प्रशासन गांवों के संग, प्रशासन शहरों के संग अभियान की पूर्व तैयारी

उदयपुर में हवाला के डेढ़ करोड़ रुपए जब्त:गुजरात जा रही कार की पिछली सीट के नीचे 500-500 के नोटों के बंडल मिले, नाबालिग समेत 3 गिरफ्तार

उदयपुर : ।अशफाक कायमखानी। उदयपुर के घंटाघर इलाके में बुधवार सुबह पुलिस ने एक नाबलिग समेत तीन लोगों को हवाला की रकम के साथ पकड़ा है। आरोपियों के पास से कुल एक करोड़ 48 लाख पचास हजार रुपए बरामद हुए हैं। आरोपी ये रकम गुजरात लेकर जा रहे थे। कार की पिछली सीट के नीचे 500-500 के बंडल छिपा रखे थे। थानाधिकारी शैलेन्द्र सिंह चौहान ने बताया कि अलसुबह पुलिस​कर्मियों ने गश्त के दौरान मोचीवाड़ा क्षेत्र में गुजरात नंबर की एक संदिग्ध कार देखी। पुलिस ने कार के पास जाकर अंदर बैठे युवकों से पुछताछ की तो वो गोलमोल जवाब देकर टालते रहे। पुलिस ने कार की तलाशी ली तो कार की पीछे की सीट के नीचे से नोटों के कई बंडल निकले। पुलिस तीनों को हिरासत में लिया। थाने लाकर पुछताछ की तो आरोपियों ने बताया कि वे एक हवाला कारोबारी के लिए काम करते हैं। यह रकम गुजरात लेकर जा रहे थे। थानाधिकारी ने बताया कि तलाशी लेने पर कार की पिछली सीट के नीचे नोटों के बंडलों से भरे कपड़े के 10 पैकेट मिले। बरामद किए गए ज्यादातर नोट 500-500 के हैं। पुलिस ने गुजरात नंबर की एक कार को भी बरामद किया है। पुलिस ने सिरोही जिले के कालंदरी क्षेत्र के रहने

राजस्थान के मुस्लिम समुदाय का एक प्रतिनिधिमंडल पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट से मिलकर हाईकमान तक उनकी बात पहुंचाने की अपील की।

                    जयपुर। ।अशफाक कायमखानी।                प्रदेश मे लगातार होती मोबलिंचनिंग पर सरकारी स्तर पर ठोस कार्यवाही नही होने व सरकारी मनोनयन सहित विभिन्न स्तर पर सरकार द्वारा समुदाय की उपेक्षा करने के अलावा समुदाय समबन्धित बोर्ड-निगम व आयोगो का अभी तक गठन नही होने सहित अनेक मुद्दों को लेकर पूर्व उप मुख्यमंत्री व कांग्रेस नेता सचिन पायलट से उनके निवास पर राजस्थान के मुस्लिम समुदाय का एक प्रतिनिधि मंडल मिलकर  पार्टी हाईकमान तक उनकी बात पहुंचाने की उनसें अपील की।              राजस्थान के मुस्लिम समुदाय के विभिन्न क्षेत्र के माहिर सेंकड़ो लोगो के सचिन पायलट से मिले एक प्रतिनिधिमंडल ने पायलट को खुले अंदाज व खुशनुमा माहोल मे अपनी बाते रखने व शंकाएं जाहिर करने पर पायलट द्वारा उनकी बात सूनकर उनको ऊपर तक पहुंचाने का वादा करने पर उपस्थित लोग उनके आश्वासन के प्रति आश्वस्त नजर आये।             वक्ताओं ने कहा कि मुख्यमंत्री लम्बे अर्से से कोराना के बहाने अपने निवास पर रहने से उनसे मिलकर अपने दर्द की बात रखना मुश्किल हो गया है। एक तरह से उनके लिये मुख्यमंत्री के सरकारी आवास की इंट्री बंद सी

शेखावाटी जनपद मे लगातार होते घरेलू गैस हादसो से सबक लेने को कोई तैयार नही! - गैस कम्पनी व सरकार मुवावजा देने मे ढील बरत रही है।

                जयपुर। ।अशफाक कायमखानी।                 प्रदेश भर मे घरेलू गैस सिलेंडर के आग पकड़ने की घटनाओं की लगातार आती खबरो के मध्य शेखावाटी जनपद मे हो रहे घरेलू गैस हादसे से लगता है कि कम्पनी व उपभोक्ता कोई सबक लेने को तैयार नही है। हादसे के बाद सरकार व कम्पनी भी मृत लोगो के परिजनों व प्रभावित लोगो को समय पर मुवावजा देनै मे फिसड्डी साबित हो रहे है।             इसी महीने 17-अगस्त को मण्डावा कस्बे मे गैस सिलेंडर के आग पकड़ने से झूलसे अख्तर लीलगर की कल मृत्यु हो गई। इसी हादसे मे झूलसे मृतक के भाई शौकत की भी इलाज के दौरान अस्पताल मे मौत हो चुकी है। इस हादसे मे माफिया बानो, शोकत, अख्तर, रशीदा, शोयल, शाहरुख आग से झूलस गये थे। जिनमे से अबतक दो की मौत व अन्य गम्भीर रुप से घायल है।             मण्डावा की तरह इसी महीने 6-अगस्त को सीकर शहर के बिसायतियान मोहल्ले मे एक घर मे घरेलू गैस हादसा होने पर अबतक तीन लोगो की मौत हो चुकी है।इनमे जमील, मदीना, व समीना की अबतक मौत हो चुकी है। इसके अतिरिक्त 2-नवम्बर 2018 को सीकर शहर मे तहसील भवन के पास मकबूल लीलगर के परीवार मे घरेलू रसोई गैस हादसे मे तीन लोगो

शेखावाटी का मुस्लिम समुदाय शिक्षा-फिजुलखर्ची व सूद को लेकर किधर जा रहा है।

               जयपुर। ।अशफाक कायमखानी।                     हालांकि भारत भर के मुस्लिम समुदाय के अधीकांश परीवारों की शिक्षा-फिजुलखर्ची व सूद को लेकर इस्लामी आदेशो के विपरीत जीवनशैली अपनाने के बन चुके तरीके की तरह शेखावाटी का मुस्लिम समुदाय भी उनमे घुलमिल चुका है। लेकिन पीछले कुछ सालो से बनते बिगड़ते हालातो पर नजर दोड़ाये तो हालात चिंताजनक स्थिति की चरम सीमा को छुने लगा है।                 इसी महीने मैं अपने बच्चे का दिल्ली की एक यूनिवर्सिटी मे दाखले के लिये मुस्लिम समुदाय की एक कामकाजी बिरादरी के मौजीज शख्स व मेहरबान साथी के जो अपने भतीजे को भी वही प्री टेस्ट दिलवाने दिल्ली गये, उन्हीं के साथ मै भी गया। उन्हीं के बदौलत उनके रिस्तेदार के यहां रहने व खाने का बेहतरीन इंतजाम भी मिला। प्री टेस्ट देने के बाद व उसी शाम को ट्रैन पकड़ने के पहले मिले समय मे उनके साथ उनकी बिरादरी के कुछ आर्थिक तौर पर ठीक ठाक लोगो के साथ बैठने का मौका मिला। उनके मध्य बैठने को मिले उस डेढ़ घंटे के समय मे उस कामकाजी बिरादरी के लोगो ने केवल ओर केवल बिरादरी के लोगो द्वारा शेखावाटी मे हुई उनकी बिरादरी मे अनेक शादियो मे खाने

युवा कांग्रेस पूर्वी जोन के संयुक्त सचिव एवं लखनऊ जिले के प्रभारी देवांश तिवारी के नेतृत्व में जय भारत महासंपर्क अभियान कार्यक्रम की शूरुआत की गई

  लखनऊ :   मलिहाबाद विधानसभा में स्थित काकोरी क्षेत्र के अंतर्गत उत्तर प्रदेश युवा कांग्रेस पूर्वी जोन के संयुक्त सचिव एवं लखनऊ जिले के प्रभारी  देवांश तिवारी के नेतृत्व में व लखनऊ युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष (पूर्वी) अंकित तिवारी एवं जिलाध्यक्ष (पश्चिम) सैयद इमरान की अध्यक्षता में सैकड़ो साथियों द्वारा काकोरी शहीद स्मारक स्थल पर शहीदों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित कर जय भारत महासंपर्क अभियान कार्यक्रम की शूरुआत की गई। संयुक्त सचिव  देवांश तिवारी ने बताया कि जनसंपर्क के बाद गांव की युवाओं के साथ स्नेह भोज कर युवा चौपाल लगाया गया जिसमें कांग्रेस पार्टी की विचारधारा व कांग्रेस पार्टी की स्वतंत्रता संघर्षों को लोगों तक पहुंचाने का कार्य किया गया।लखनऊ युवा कांग्रेस के पदाधिकारियों द्वारा जय भारत महासंपर्क अभियान के तहत सलेमपुर अमेठीया के बाजनगर गाँव में जनसम्पर्क अभियान चलाया गया व घर-घर जाकर कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गाँधी  के संघर्षों को और कांग्रेस पार्टी की नीतिओं को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य किया गया। 

नगर के लखनऊ पब्लिक स्कूल में स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ देश प्रेम से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रमों एवं हर्षोल्लास के साथ मनाई गई।

  नगर के लखनऊ पब्लिक स्कूल में स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ देश प्रेम से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रमों एवं हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। इस अवसर पर उपस्थित विद्यालय के डायरेक्टर प्लानिंग स्ट्रेटजी एवं इंटरनेशनल अफेयर्स श्री हर्षित सिंह ने करतल ध्वनि के मध्य ध्वजारोहण किया एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया। बच्चों द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रमों में फैंसी ड्रेस, देशभक्ति गीत 'यह देश मेरी माटी, मन तेरा सूरज, भारत मां तेरे सजदे में है हर खुशी कुरबा' व 'वंदे मातरम' की उत्कृष्ट प्रस्तुतियों ने राष्ट्रीय एकता एवं राष्ट्र प्रेम युक्त वातावरण बना दिया। इस अवसर पर उपस्थित श्री हर्षित सिंह ने देश प्रेम की भावना को जागृत करने एवं उनके अनुरूप देश की सेवा में अपने योगदान करने की आवश्यकता पर बल दिया। प्रधानाचार्य श्री विजय सचदेवा ने उपस्थित सभी शिक्षक शिक्षिकाओं एवं गणमान्य को धन्यवाद दिया। कार्यक्रम के दौरान मास्क की अनिवार्यता एवं सोशल डिस्टेंसिंग आदि का पूर्णता पालन किया गया।  

डॉ. एस.पी.सिंह लखनऊ पब्लिक स्कूल खोलने से पूर्व की तैयारियों की समीक्षा की

लखनऊ पब्लिक स्कूल्स एंड कॉलेजेस के संस्थापक प्रबंधक डॉक्टर एसपी सिंह ने अपने डायरेक्टर्स और प्रिंसिपल्स के साथ मीटिंग करके स्कूलों को 16 अगस्त से शासन के निर्देशानुसार खोलने के लिए तैयारियों की समीक्षा की और निर्देश दिए l उन्होंने कहा कि कोविड-19 प्रोटोकॉल के दृष्टिगत भौतिक रूप से कक्षाओं का संचालन कराया जाएगा l विद्यालयों को दो पालियों में क्रमशः प्रातः 8:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक एवं दोपहर 12:30 बजे से 4:30 बजे तक संचालित किया जाएगा l कक्षा 9, 10 ,11 ,12 के प्रत्येक पाली में 50% छात्रों को ही बुलाया जाएगा l विद्यालयों को पूरी तरह से समय-समय पर सैनिटाइज कराया जाता रहा है, कोविड 19 प्रोटोकाल सम्बन्धी नियमों को स्टैंडी पर एल. पी. एस. की सभी शाखाओं में लगाया जा रहा है|  विद्यालय मैं हैंड  सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनिंग ,पल्स ऑक्सीमीटर आदि पहले से ही उपलब्ध करा दिए गए हैं l सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क आदि का उपयोग पूर्ण रूप से किया जाएगा l बच्चों एवं शिक्षकों के स्वास्थ्य सुरक्षा के मानकों का पूर्ण रूप से अनुपालन किया जाएगा l

IILM Lucknow organized E-Orientation Program of PGDM 2021-23 Batch

    IILM Academy of Higher Learning, Lucknow, which provides value-based education, conducted a two day long-orientation program of PGDM 2021-23 & PGDM (Finance) 2021-23 batches on August 12 & 13,  2021. Due to the restrictions of Lockdown this year orientation program is being organized online On the occasion of commencement of new batch of PGDM, IILM Academy of Higher Learning witnessed & power-packed day. Specifically tailored for the current situation, the Induction Program is designed to inspire students to think big and create a platform of learning, interacting and change their perspective during this new normal. The Program was started with virtual lighting of lamp and welcome address by Dr. Naela Rushdi, Director, IILM Academy of Higher Learning, Lucknow. Addressing the new batch Dr. Naela Rushdi warmly welcomed all the students and said that always remember that you are here for a reason and you need to compete with yourself only. Life will put many challenges bef

राजस्थान वक्फ बोर्ड का गठन की प्रक्रिया मे तीन सदस्य निर्विरोध निर्वाचित! - बार कोंसिल सदस्य सैयद शाहिद हसन, पूर्व सांसद अश्क अली टांक व विधायक रफीक खान निर्विरोध सदस्य चुने गये।

          जयपुर। ।अशफाक कायमखानी। राजस्थान वक्फ बोर्ड के गठन की प्रक्रिया के तहत पांच सदस्यों की चुनावी प्रक्रिया के तहत आये नामांकन पत्रो के मुताबिक सांसद, विधायक व बार कोंसिल मे से चयनित होने वाले सदस्यों मे मात्र एक एक नाम नामांकन केवल नामजदगी के लिये आने व जांच के बाद नामांकन सही पाये जाने पर बार कोंसिल सदस्य के तौर पर सैयद शाहिद हसन पुत्र फारुक हसन, सांसद कोटे मे अश्क अली पुत्र सद्दीक अली व विधायक कोटे से रफीक खान पुत्र छोटू खा निर्विरोध सदस्य चुने जाना तय है।             इसके अलावा मुतवल्ली कोटे से दो सदस्यों के चुने जाने के लिये दो से अधिक नामांकन आने व जांच मे सही पाये जाने से उनके मध्य चुनाव होगा। मुतवल्ली कोटे से जयपुर के फसीऊद्दीन, जोधपुर को मोहम्मद सद्दीक, जयपुर के मोहम्मद शौकत कुरेशी, अजमेर के मोहम्मद यूसुफ, भीलवाड़ा के शब्बीर अहमद व जयपुर के उसमान कुरेशी के मध्य चुनाव होगा।           निर्विरोध चुने गये तीन सदस्यों व मुतवल्ली कोटे से चुनाव होकर जीतकर आने वाले दो सदस्यों को देखते हुये लगता है कि सरकार द्वारा मनोनीत होने वाले तीन सदस्यों मे धार्मिक विद्वान, शिया धर्मगुरु व स

राजस्थान कांग्रेस प्रभारी महामंत्री की नजर अब हारे हुये उम्मीदवारों पर भी जा सकती है। - वर्तमान राजनीतिक घटनाक्रम के मध्य लोकसभा उम्मीदवारों ने भी कांग्रेस हाईकमान तक विभिन्न तरीकों से अपनी बात पहुंचाई है।

                   जयपुर। ।अशफाक कायमखानी - हालांकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत किसी भी तरह से अपनी सत्ता बचाये रखने व जैसे तैसे करके आपने पांच साल का कार्यकाल पूरा करने के लिये मात्र जीते हुये विधानसभा चुनाव व अन्य समर्थक विधायको को खुश रखने के लिये उनको पूरी तरह अहमियत अन्य नेताओं पर तरजीह देते नजर आ रहे है। इसी सीलसीले के तहत 28-29 जुलाई को प्रभारी महांमत्री अजय माकन ने विधायकों से जयपुर मे फीडबैक लिया। फीडबैक लेने के समय विधायक वैद प्रकाश सोलंकी सहित कुछ विधायको ने माकन को कहा कि वो मुकम्मल फीडबैक लेने के लिये कांग्रेस के जीते हुये उम्मीदवारों के साथ साथ हारे हुये उम्मीदवारों को भी बूलाकर बात करे ताकि पूरे प्रदेश का फीडबैक आ सके।                   जून माह मे 2018 के विधानसभा चुनाव मे हारे हुये कुछ कांग्रेस उम्मीदवार दिल्ली जाकर अपनी पीड़ा शीर्ष नेतृत्व तक पहुंचाई भी थी। इसी तरह राजस्थान की आठ सीटो को मिलाकर बने एक लोकसभा क्षेत्र से 2019 मे लोकसभा उम्मीदवार रहे प्रदेश के सभी पच्चीस उम्मीदवार भी प्रदेश की सत्ता मे होती अपनी अनदेखी से चिंतित होकर किसी ना किसी रुप मे अपनी बात हाईकमान तक पहुं
               जयपुर। ।अशफाक कायमखानी। 2018 के विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद सचिन पायलट पर अशोक गहलोत को तरजीह देते हुये गांधी परिवार ने उन्हें अपना वफादार साथी मानते हुये मुख्यमंत्री के पद पर पदस्थापित किया था। उसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव मे कांग्रेस की करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुये तत्तकालीन राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हार की जिम्मेदारी लेते हुये अध्यक्ष पद से स्तीफा दे दिया था। उस समय राहुल गांधी व अन्य गाधी परिवार के सदस्यों को उम्मीद थी कि राहुल गांधी के स्तीफे के तुरंत बाद कम से कम अशोक गहलोत भी उनके समर्थन मे स्तीफा देने का ऐहलान जरुर करेगे। पर गहलोत सहित किसी भी कांग्रेस नेता ने राहुल गांधी के समर्थन मे उनके साथ स्तीफा देने का दिखावा तक नही किया था। उस घटना के बाद से गहलोत लगातार गांधी परिवार से दूर होते जा रहे है।                  एक साल पहले मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सचिन पायलट समर्थक विधायकों के गुडगांव की होटल मे डेरा डालने को लेकर उन्होंने पायलट को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाने की भरपूर कोशिशे की थी। पर प्रियंका गांधी द्वारा अंतिम समय मे एक पासा

पत्रकारिता क्षेत्र मे सीकर के युवा पत्रकारों का दैनिक भास्कर मे बढता दबदबा। - दैनिक भास्कर के राजस्थान प्रमुख सहित अनेक स्थानीय सम्पादक सीकर से तालूक रखते है।

                                         सीकर। ।अशफाक कायमखानी।  भारत मे स्वच्छ व निष्पक्ष पत्रकारिता जगत मे लक्ष्मनगढ निवासी द्वारा अच्छा नाम कमाने वाले हाल दिल्ली निवासी अनिल चमड़िया सहित कुछ ऐसे पत्रकार क्षेत्र से रहे व है। जिनकी पत्रकारिता को सलाम किया जा सकता है। लेकिन पिछले कुछ दिनो मे सीकर के तीन युवा पत्रकारों ने भास्कर समुह मे काम करते हुये जो अपने क्षेत्र मे ऊंचाई पाई है।उस ऊंचाई ने सीकर का नाम ऊंचा कर दिया है।         इंदौर से प्रकाशित  दैनिक भास्कर के प्रमुख संस्करण के सम्पादक रहने के अलावा जयपुर सीटी भास्कर व शिमला मे भास्कर के सम्पादक रहे सीकर शहर निवासी मुकेश माथुर आजकल दैनिक भास्कर के जयपुर मे राजस्थान प्रमुख है।                 दैनिक भास्कर के सीकर दफ्तर मे पत्रकारिता करते हुये उनकी स्वच्छ व निष्पक्ष पत्रकारिता का लोहा मानते हुये जिले के सुरेंद्र चोधरी को भास्कर प्रबंधक ने उन्हें भीलवाड़ा संस्करण का सम्पादक बनाया था। जिन्होंने भीलवाड़ा जाकर पत्रकारिता को काफी बुलंदी पर पहुंचाया है।                 फतेहपुर तहसील के गावं से निकल कर सीकर शहर मे रहकर सुरेंद्र चोधरी के पत्रका

राष्ट्रीय बास्केटबॉल खिलाड़ी व प्रतिष्ठित कारोबारी खुर्शीद अहमद शेख का इंतेकाल।

                सीकर। ।अशफाक कायमखानी। -  शहर के मरहूम हाजी जुमरदी खां शेख नामक प्रतिष्ठित परिवार के सदस्य व जाने माने कारोबारी बास्केटबॉल खिलाड़ी खुर्शीद अहमद शेख के आज सुबह इंतेकाल होने की खबर से चारो तरफ माहोल गमगीन नजर आया।            पूर्व केन्द्रीय मंत्री व ओलम्पिक संघ के अध्यक्ष के अलावा पारिवारिक मित्र सुभाष महरिया ने इस अवसर पर कहा कि खुर्शीद भाई के इंतकाल की खबर बेहद दुखद है। खुर्शीद भाई  इंसानियत की मिसाल थे। खुर्दीद शेख  सीकर की बास्केटबॉल की शान थे। खुर्शीद भाई दूसरों की मदद करने में सदैव आगे रहते थे मालिक उन्हें जन्नत उल फिरदौस मे आला मुकाम बक्से परिवार को हिम्मत दें यह मालिक से मैं दुआ करता हूं उन्हें शत-शत नमन करता हूं बारंबार।              मरहूम खुर्शीद अहमद शेख प्रतिष्ठित कारोबारी होने के साथ साथ वो खेल प्रतिभाओ को उभारने के लिये लगातार प्रयत्नशील रहते थे। पीछले कुछ सालो से वो खिदमत की भावना के साथ विभिन्न सामाजिक कार्यों के जुड़े होने व खेल प्रतिभाओं को उभारने की नीयत से एक्सीलेंस कोलेज की छात्राओं को बास्केटबॉल सहित अन्य खेले के गूर निशुल्क सीखा रहे थे। जिसके चलते एक