उप मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट से कोविड-19 व लोकडाऊन से उपजे हालात पर सुभाष महरिया की वीडियो कांफ्रेंसिंग से वार्ता।


सीकर।
             राजस्थान के उप मुख्यमंत्री  व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट द्वारा राजस्थान के सभी पच्चीस कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस करते हुये सीकर लोकसभा उम्मीदवार सुभाष महरिया से भी वार्ता की। जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री और सीकर लोकसभा प्रत्याशी सुभाष महरिया ने पायलट को सीकर के विभिन्न मुद्दों से अवगत कराया। 
           महरिया ने सर्वप्रथम कोरोना के बारे में चर्चा करते हुये बताया कि अधिकांश रोगी इसी सप्ताह में आने के बावजूद सीकर जिले में व्यवस्था सुचारू रूप से चल रही है। केंद्र व राज्य सरकार के आदेश में तालमेल का अभाव होने से होने वाली परेशानी के बारे में भी पायलट को अवगत कराया गया।




     .       वार्ता मे महरिया का मुख्य जोर किसान की फसल मंडी में लाने हेतु जो गाइडलाइन जारी हुई है उनकी जानकारी पंचायत समिति ब्लॉक एवं ग्राम लेवल पर देने एवं फसल बीमा का जो बकाया 1-हजार 44 करोड रुपए किसानों को उपलब्ध करवाने के लिए भी कहा। महरिया ने बताया कि सीकर के एनजीओ एवं स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा जरुरतमंदों तक बहुत अच्छी मदद पहुंचाई जा रही है। एनजीओ डॉक्टर पुलिस अध्यापक एवं सभी लोगो की सहरायना करते हुए महरिया ने कहा कि जिस तरह से यह कोराना के युद्ध में लगे हुए हैं उनको बहुत-बहुत धन्यवाद । महरिया ने वार्ता मे बताया कि कांग्रेस के पदाधिकारी एवं कांग्रेस के जनप्रतिनिधि भी संकट के इस समय मे बहुत अच्छा कार्य कर रहे हैं । साथ ही ब्लड बैंक में डोनेशन देने का कार्य भी शुरू हुआ है, लेकिन साथ ही महरिया यह चिंता भी व्यक्त की कि टीकाकरण का कार्य लगभग बंद सा पड़ चुका है। जिसको शुरू किया जाना उचित होगा। 
             डॉक्टरों एवं पैरामेडिकल स्टाफ एवं अन्य कर्मियों की सहरायना करते हुए  महरिया ने बताया कि उनका वेतन समय पर दिया जाए एवं स्टाफ की भर्ती की जाए ताकि आगे समस्या नहीं हो । छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में नेटवर्क कम आता है इसलिए टेलीविजन अथवा रेडियो इस प्रकार के अन्य तरीके भी पढ़ाई हेतु आजमाये जाने चाहिए।  किसान की फसल का पूरा मूल्य मिले , दूध सब्जी की कीमत आधी हो गई है इस हेतु प्रयास किया जाए कि उसकी भरपाई कैसे हो।  नरेगा का कार्य शुरू किया जाए एवं नरेगा के कार्य में दिन भी बढ़ाई जाए तथा उनका मजदूरी भी शीघ्र दी जाए। प्रवासियों के लिए चिंता करते हुए बताया कि प्रवासियों के आने व जानै के लिए विशेष व्यवस्था की जाए। आने वाले गर्मी के मौसम हेतु पेयजल की समस्या के बारे में चेताते हुये कहा कि पेयजल और पीडब्ल्यूडी की टूटी हुई सड़कों का कार्य शुरू करवाने की योजना बनाई जाए ताकि रोजगार भी मिले और व्यवस्था भी बनी रहे ।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
मुस्लिम समुदाय की नाराजगी से राजस्थान के पंचायत चुनाव मे कांग्रेस को मुश्किलातों का सामना करना पड़ सकता है।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
शमशेर खां की दांडी यात्रा के समर्थन मे आज प्रदेश के गावं-गाव से शहरो तक पदयात्रा निकाल कर उपखण्ड अधिकारी व जिला कलेक्टरस को ज्ञापन दिये गये।
चित्र