सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

सितंबर, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

लखनऊ पब्लिक स्कूल की स्थानीय शाखा में सीनियर वर्ग के छात्र छात्राओं की काउंसलिंग का आयोजन किया गया।

   लखनऊ पब्लिक स्कूल की स्थानीय शाखा में सीनियर वर्ग के छात्र छात्राओं की काउंसलिंग का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विद्यालय के संस्थापक मैनेजर डॉ एस पी सिंह भी उपस्थित थे। छात्र-छात्राओं की काउंसलिंग प्रख्यात काउंसलर डॉक्टर मानव कुमार सिंह, प्रोफ़ेसर जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल कॉलेज, बाराबंकी ने की। डॉक्टर एस पी सिंह ने विश्वव्यापी कोरोना महामारी के पश्चात की परिस्थितियों एवं उनके साथ वर्तमान आवश्यकताओं मे समन्वय स्थापित करने के लिए इस काउंसलिंग की आवश्यकता पर बल दिया। डॉक्टर मानव कुमार सिंह ने छात्र छात्राओं को बताया कि अपने स्वप्न को लक्ष्य की प्राप्ति में कैसे परिवर्तित करें। लक्ष्य की प्राप्ति के लिए उचित प्लानिंग, त्वरित निर्णय व कार्यप्रणाली अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने अनेक उदाहरणों के सुंदर प्रस्तुतिकरण द्वारा बताने का प्रयास किया कि छात्र भविष्य में आने वाली परीक्षा में कैसे उत्कृष्ट परिणाम प्राप्त कर अपने लक्ष्य को सार्थक कर सकते हैं।  उन्होंने पाठ्यक्रम एवं विषय को रोचक एवं सुगम बनाने के लिए अनेक जीवंत एवं प्रेरणादायक दृष्टांतों को सुंदर रूप से प्रस्तुत किया एवं मनोवैज्ञानिक ढंग स

DSP और 2 कॉन्स्टेबल 1.55 लाख रिश्वत लेते ट्रैप:रकम के लिए दहेज के मामले को फरवरी 2020 से पेंडिंग रखा था, कार्रवाई के एवज में मांगे 2 लाख, ACB ने रंगे हाथ किया गिरफ्तार

          झुंझुनूं : अशफ़ाक़ कायमखानी जयपुर ACB की टीम ने शुक्रवार को झुंझुनू जिले में ट्रैप कार्रवाई की। शुक्रवार को टीम ने DSP भंवरलाल खोखर (CO) ग्रामीण को 2 कॉन्स्टेबल (राजवीर सिंह और महिपाल सिंह) के साथ 1 लाख 55 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। ACB के एडिशनल एसपी नरोत्तम वर्मा ने बताया कि परिवादी ने 10 सितंबर को जयपुर ACB मुख्यालय में झुंझुनू सीओ ग्रामीण भंवरलाल खोखर के खिलाफ परिवाद दिया था। उसने बताया था कि केस में त्वरित कार्रवाई करने और मुल्जिमों को जल्द गिरफ्तार करने के एवज में 2 लाख की डिमांड कर रहा है। ACB ने शिकायत का सत्यापन किया और ट्रैप की योजना बनाई। कॉन्स्टेबल महिपाल सिंह ने नवलगढ़ स्थित अपने घर पर परिवादी से 1 लाख 55 हजार की रिश्वत ली थी। रिश्वत के लिए दहेज के मामले को फरवरी 2020 से पेंडिंग रखा था सीओ ग्रामीण भंवरलाल खोखर ने रिश्वत की राशि के लिए फरवरी 2020 से दहेज के मामले की जांच को पेंडिंग रखा था। सीओ ने दो कॉन्स्टेबल के माध्यम से त्वरित कार्रवाई करने और मुल्जिमों को गिरफ्तार करने की एवज में परिवादी से 2 लाख की डिमांड की थी। इस पर परिवादी ने एसीबी मु

सार्वजनिक विभाग के अधिशाषी अभियंता खण्ड सीकर के AAO चतरुराम रिश्वत लेते गिरफ्तार।

         ।अशफाक कायमखानी। सीकर।       भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो राजस्थान की सीकर चौकी द्वारा प्रदेश के अन्य हिस्सों की तरह लगातार भ्रष्टाचारियों को रंगे हाथो रिश्वत लेते पकड़े जाने के बावजूदभ्रष्टाचारी भ्रष्टाचार करने से बाज नही आ रहे है। इसु सीलसीले मे एसीबी की सीकर टीम ने सावर्जनिक विभाग सीकर खण्ड मे कार्यरत लेखाधिकारी चतरुराम को पच्चीस हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।           जानकारी अनुसार बाजोर गावं निवासी मोहनलाल जाट से उनके द्वारा बनाई सीसी सड़क की बकाया राशि देने के लिये चतरुराम ने उनसे पच्चीस हजार रुफये की राशि की डिमांड की। एसीबी विभाग ने डिमांड का सत्यापन करवा कर आज रिश्वत की राशि लेते हुये चतरुराम को एसीबी की टीम ने रंगे हाथो गिरफ्तार किया गया। ट्रेप की कार्यवाही स्थानीय चौकी प्रभारी उप पुलिस अधीक्षक जाकीर अख्तर के निर्देशन व सीआई सुरेश कुमार के नेतृत्व मे अमल मे लाई गई।

स्वीमिंग पूल का अश्लील वीडियो वायरल प्रकरण: जज ने हीरा लाल सैनी को भेजा 17 सितंबर तक पुलिस रिमांड पर

        ।अशफाक कायमखानी। जयपुर - : RPS अधिकारी और कांस्टेबल के अश्लील वीडियो मामले में आरोपी RPS हीरालाल सैनी को 17 तक पुलिस रिमांड पर भेजा. आपको बता दें कि हीरालाल सैनी को एसओजी ने जज के सामने पेश किया. पॉक्सो कोर्ट का अवकाश होने पर जज के निवास पर पेश किया. जज रेखा शर्मा के निवास पर पेश किया. जज ने हीरा लाल सैनी को 17 सितंबर तक पुलिस रिमांड पर भेजा. एसओजी पूरे मामले को लेकर विस्तृत पूछताछ कर रही है. इससे पहले RPS अधिकारी और कांस्टेबल के अश्लील वीडियो मामले में आरोपी RPS हीरालाल सैनी का JLN अस्पताल में मेडिकल करवाया गया है. SOG के निरीक्षक भूराराम खिलेरी उन्हें JLN अस्पताल लेकर पहुंचे. अब आरोपी RPS हीरालाल सैनी को जयपुर के न्यायालय में पेश किया जाएगा. आपको बता दें कि इससे पहले राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल (एसओजी) ने राजस्थान पुलिस सेवा (आरपीएस) के अधिकारी हीरालाल सैनी को नैतिक कदाचार के मामले में शुक्रवार को गिरफ्तार किया था. यह अधिकारी हाल में सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो की वजह से चर्चा में था जिसमें वह रूप से एक महिला कांस्टेबल के साथ आपत्तिजनक अवस्था दिख रहा है. एसओजी के अतिरिक्त

राजस्थान का मुस्लिम समुदाय उच्च सेवा से सेवानिवृत्त अधिकारियों की काबिलियत व उनके अनुभव का दोहन करने मे अभी तक सफल नही हो पा रहा है।

                 ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।                   राजस्थान के मुख्य सचिव पद से सेवानिवृत्त अधिकारी सलाऊद्दीन अहमद खान , राजस्थान हाईकोर्ट से सेवानिवृत्त जस्टिस मोहम्मद असगर अली चोधरी व जस्टिस भंवरु खान, आईजी पुलिस पद से सेवानिवृत्त मुराद अली अब्रा, नीसार अहमद फारुकी, कुवर सरवर खान, राजस्थान लोकसेवा आयोग के चैयरमैन रहे आईपीएस हबीब खान गौरान,  भारतीय प्रशासनिक सेवा से सेवानिवृत्त अधिकारी एम एस खान, ऐ.आर खान, मोहम्मद हनीफ खान एवं अशफाक हुसैन जैसे अनेक सेवानिवृत्त अधिकारियों का राजस्थान का मुस्लिम समुदाय शेक्षणिक सहित अनेक क्षेत्रो मे उनकी काबलियत व अनुभव का दोहन करने मे अभी तक सफल नही हो पा रहा है। जिसके कारण अनेक हो सकते है लेकिन उक्त सेवानिवृत्त अधिकारियों सहित अन्य अधिकारियों की सेवानिवृत्ति के बाद उनकी योग्यता व अनुभव का दोहन अगर समय समय पर किया जाता तो शेक्षणिक तौर पर पिछड़े व सरकारी सेवाओं से एक तरह से हट चुके समुदाय की दशा व दिशा प्रदेश मे आज निश्चित बदली बदली नजर आती। उक्त अधिकारियों मे मात्र एक अधिकारी ऐ.आर खान ने सामाजिक संस्था बनाकर अपने स्तर पर कुछ सामाजिक काम जरूर कर