पृथक-वास में रखे गये रेलकर्मी ने लगायी फांसी

फिरोजाबाद (उप्र), :: फिरोजाबाद जिले के टूंडला इलाके में अपने वरिष्ठ अधिकारी के कोविड-19 संक्रमित पाये जाने के बाद एहतियातन पृथक रखे गये एक रेलकर्मी ने बुधवार को पृथक-वास केन्द्र में कथित तौर पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।


पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि टूंडला स्थित रेलवे कॉलोनी निवासी 55 वर्षीय ओम प्रकाश ने एच.एच. मेडिकल कॉलेज स्थित पृथक-वास केंद्र में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलते ही मौके पर वरिष्ठ पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा।


उन्होंने बताया कि ओम प्रकाश को उनके वरिष्ठ अधिकारी के कोविड-19 संक्रमित पाये के कारण उनके सम्पर्क में आने के संदेह में 20 अप्रैल को एच.एच. मेडिकल कॉलेज स्थित केंद्र में पृथक रखा गया था।


टूंडला के उपजिलाधिकारी के. पी. सिंह तोमर ने बताया कि 23 अप्रैल को ओम प्रकाश का नमूना जांच के लिये भेजा गया था, मगर किसी कारण से सही परिणाम नहीं आ सका।


उन्होंने बताया कि मंगलवार को जांच के लिए दोबारा नमूना भेजा गया, जिसकी रिपोर्ट अभी नहीं आयी है। इस बीच उनके आत्महत्या करने की सूचना मिली।


उन्होंने बताया कि रिपोर्ट के बारे में सैफई हॉस्पिटल से संपर्क किया जा रहा है। परिजनों को सूचना दी गई है।


टिप्पणियाँ
Popular posts
एसीबी सीकर चौकी ने लगातार दुसरे दिन कार्यवाही करके रिश्वत लेते दो भ्रष्टाचारी को अलग अलग मामलों मे रंगे हाथ गिरफ्तार किया।
चित्र
राजस्थान कांग्रेस मे हालात विस्फोटक स्थिति मे पहुंचते नजर आ रहे है।। - गहलोत-पायलट खेमे के मध्य जारी टकराव व एक दुसरे पर दवाब बनाने के चक्कर मे सरकार गिर भी सकती है
चित्र
कोरोना अवेयरनेस कैंप के साथ शिफा होमियोपैथी क्लिनिक की इब्तिदा
चित्र
राजस्थान मे मंत्रीमंडल विस्तार व राजनीतिक नियुक्तियों की सुगबुगाहट के मध्य दिग्गज किसान नेता पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी नारायण सिंह भी कुदे। जारी राजनीतिक घमासान के बीच चोधरी ने कहा कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह।
चित्र
राजस्थान मे तीसरा मजबूत विकल्प अगले आम चुनाव से पहले उभर सकता है। - मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सेवानिवृत्त ब्यूरोक्रेट्स को लाभ के पदो पर लगातार नियुक्ति देने का सीलसीला बनाये रखने से इंतजार मे बैठे जनप्रतिनिधियों का सब्र जवाब देने लगा।
चित्र