राजस्थान सरकार की कड़ी मेहनत के मुकाबले कोराना दम तोड़ने लगा। - नब्बे वर्षीय पोजेटिव मरीज भी ठीक होकर घर पहुंचा।


जयपुर। 
           राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की दृढ इच्छा शक्ति के बल पर राजस्थान के मेडिकल विभाग के कर्मियों की कर्तव्यनिष्ठठा के चलते राजस्थान प्रदेश मे कोराना दम तोड़ने लगा है। जयपुर सी-स्कीम के रहने वाले नब्बे वर्षीय भवानी शंकर शर्मा के पोजेटिव होने के बाद क्वरंटाईम मे रहकर आज पूरी तरह ठीक होकर घर के लिये रवाना होते समय कर्मियों ने उन्हें गुलदस्ता व फूल माला देकर रवाना करने का मंजर देखने लायक था।
             राजस्थान मे कोराना संक्रमित अब तक 28 जिले है जिनमे अब तक कुल 2364 मरीज पोजेटिव पाये गये। जिनमे से 770 मरीज रिकवर होकर घर चले गये एवं कुल 51 का देहांत हुवा है। जानकारी अनुसार जिलेवार पोजेटिव मरीजों की संख्या निम्न प्रकार है। जयपुर-859, अजमेर-135, धोलपुर-09, जोधपुर-400, कोटा-189, सीकर-06, नागोर-117, बांसवाड़ा-63, उदयपुर-07, टोंक-131 है। इनमे नागोर जिले के अकेले गावं बासनी मे तीन अको मे जयपुर के रामगंज क्षेत्र मे मरीज की तादाद अधिक देखने मे आई है।
           कुल मिलाकर यह है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा प्रधानमंत्री से पहले लोकडाऊन की घोषणा करके उस पृ पछरी तरह अमल करवाने के चलते कोराना वायरस अपना दायरा बढा नही पाया। ओर पोजेटिव मरीज मिलते ही उस क्षेत्र के दो किलोमीटर की परिधि मे कर्फ्यू लगाकर हर एक की स्क्रीनिंग करने से संक्रमित व सदिग्ध मरीजो का पता करके उनको क्वरंटाईम करके इलाज करने के कारण मरीज रिकवर भी काफी हो रहे है।



Popular posts
लाल टापू के नाम से विख्यात रहे धोद विधानसभा क्षेत्र की पंचायत समिति मे भाजपा का प्रधान बन सकता है।
इमेज
एआईएमआईएम की आहट से राजस्थान कांग्रेस मे हलचल तेज। - सत्ता की बजाय संगठन मे मुस्लिम का प्रतिनिधित्व बढाने की चर्चा।
नारायण बारेठ को सूचना आयुक्त बनाने की मुख्यमंत्री गहलोत के फैसले की चारो तरफ तारीफ हो रही है।
इमेज
ग्रैटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कारपोरेशन चुनाव मे टीआरएस को बडा नुकसान व भाजपा को बडा फायदा।
"हुनर हाट", "वोकल फॉर लोकल" थीम के साथ उत्तर प्रदेश के नुमाइश ग्राउंड, रामपुर में 18 से 27 दिसंबर, 2020 और शिल्प ग्राम, लखनऊ में 23 से 31 जनवरी 2021 को आयोजित होगा : मुख्तार अब्बास नकवी
इमेज