सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

तीन विधानसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस - भाजपा व रालोपा ने कमर कसी। - दलो के अंदरुनी झगड़े चुनाव परिणाम को खास प्रभावित कर सकते है। सांसद आवेसी व सांसद बेनीवाल के साझा उम्मीदवार मैदान मे आने की चर्चा गरम।


              ।अशफाक कायमखानी।
जयपुर।

                चुनाव आयोग द्वारा राजस्थान की बल्लबनगर को छोड़कर बाकी तीन सीटो पर उपचुनाव कराने की तिथि की घोषणा के बाद से ही कांग्रेस-भाजपा व रालोपा के सम्भावित उम्मीदवारों के नामो को लेकर क्षेत्र मे चर्चा जोर पकड़ने लगी है। कांग्रेस की तरफ से सुजानगढ़ से दिवंगत भंवरलाल मेघवाल के पूत्र व सहाड़ा से दिवंगत कैलाश त्रिवेदी के भाई या पुत्र मे से किसी को उम्मीदवार बनाना लगभग तय बताते है। वही राजसमन्द से मुख्यमंत्री गहलोत व विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी की सहमति से नाम तय होना माना जा रहा है। वही भाजपा राजसमन्द से दिवंगत किरण महेश्वरी के परिवार से व बाकी दो जगह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पसंद अनुसार नाम लगभग तय कर लिये बताते है। जिनकी घोषणा होना बाकी है। रालोपा कांग्रेस-भाजपा उम्मीदवारों को मध्यनजर रखते हुये अपने उम्मीदवारों की घोषणा करेगी।
                चुनाव होने वाले तीनो विधानसभा मे कुल मतदाता 7,43,802 मतदान कर सकते है। जिनमे 3.80 लाख पुरुष व 3.63 लाख महिला मतदाता है। तीनो क्षेत्रो मे कुल 1145 मतदान केंद्र होगे। जिनमे सहाड़ा मे 387, सुजानगढ़ मे 418 एवं राजसमन्द मे 340 मतदान केंद्र बनाये गये है। सुजानगढ़ व सहाड़ा पर कांग्रेस का कब्जा था जबकि राजसमंद पर भाजपा का कब्जा था। चालू बजट सत्र मे मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा उपचुनाव वाले क्षेत्रो मे मतदाताओं को रिझाने के लिये दिल खोलकर घोषणाएं की गई है।लेकिन पायलट व गहलोत खेमे मे बंटी कांग्रेस के कारण कांग्रेस कार्यकर्ताओं मे असमंजस के हालात बन रखे है। जिसको दूर करना कांग्रेस के लिये आवश्यक माना जा रहा है। इसी तरह भाजपा मे राजे समर्थक व विरोधीयों मे बंटा माहोल भाजपा के लिये बडी कठिनाई साबित होना माना जा रहा है।
                 विधानसभा मे चार विधायकों के निधन के कारण कुल 200 मे से वर्तमान मे 196 विधायक है। जिनमे कांग्रेस के 98 व 6 बसपा के निशान पर जीते हुये विधायकों के कांग्रेस मे शामिल होने को शामिल करके वर्तमान मे 104 कांग्रेस विधायक है। 71 भाजपा के , तीन रालोपा, दो माकपा, दो बीटीपी, एक राष्ट्रीय लोकदल, व तेराह निर्दलीय विधायक है। बल्लबनगर से कांग्रेस विधायक गजेन्द्र सिंह शक्तावत, सुजानगढ़ से कांग्रेस विधायक भंवरलाल मेघवाल, सहाड़ा से कांग्रेस विधायक कैलाश त्रिवेदी व राजसमन्द से भाजपा उम्मीदवार किरण महेश्वरी का निधन होने के बाद अब 17 अप्रेल को सुजानगढ़, सहाड़ा व राजसमन्द मे विधायक चुनने के लिये मतदान होगा।
              कुल मिलाकर यह है कि उम्मीदवार चयन मे कांग्रेस मे मुख्यमंत्री गहलोत व भाजपा मे राजे विरोधी खेमे की एक तरफा चलेगी। लेकिन देखना होगा कि उम्मीदवारों के प्रचार के लिये वसुंधरा राजे व सचिन पायलट भी अपने अपने दल के उम्मीदवारों के पक्ष मे प्रचार करते है या फिर उन्हें इससे दूर रखा जाता है। चर्चा अनुसार सांसद हनुमान बेनीवाल व सांसद असदुद्दीन आवेसी का साझा उम्मीदवार उक्त चुनाव मे आ खड़ा होता तो परिणाम अलग तरह के भी आ सकते है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वक्फबोर्ड चैयरमैन डा.खानू की कोशिशों से अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये जमीन आवंटन का आदेश जारी।

         ।अशफाक कायमखानी। चूरु।राजस्थान।              राज्य सरकार द्वारा चूरु शहर स्थित अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये बजट आवंटित होने के बावजूद जमीन नही होने के कारण निर्माण का मामला काफी दिनो से अटके रहने के बाद डा.खानू खान की कोशिशों से जमीन आवंटन का आदेश जारी होने से चारो तरफ खुशी का आलम देखा जा रहा है।            स्थानीय नगरपरिषद ने जमीन आवंटन का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजकर जमीन आवंटन करने का अनुरोध किया था। लेकिन राज्य सरकार द्वारा कार्यवाही मे देरी होने पर स्थानीय लोगो ने धरने प्रदर्शन किया था। उक्त लोगो ने वक्फ बोर्ड चैयरमैन डा.खानू खान से परिषद के प्रस्ताव को मंजूर करवा कर आदेश जारी करने का अनुरोध किया था। डा.खानू खान ने तत्परता दिखाते हुये भागदौड़ करके सरकार से जमीन आवंटन का आदेश आज जारी करवाने पर क्षेत्रवासी उनका आभार व्यक्त कर रहे है।  

लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

       लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार। 9 में से 4 लोग को पुलिस ने किया गिरफ्तार। सीसीटीवी और सर्विलांस के जरिए उन तक पहुंची पुलिस। नमाज अदा करने वालों में मोहम्मद रेहान पुत्र मोहम्मद रिजवान निवासी खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर , लखनऊ। दूसरा आतिफ खान पुत्र मोहम्मद मतीन खान थाना मोहम्मदी जिला लखीमपुर मौजूदा पता खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। तीसरा मोहम्मद लुकमान पुत्र मनसूर अली मूल पता लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। मोहम्मद नोमान निवासी लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। पकड़े गए चार लड़कों में सीतापुर के रहने वाले दोनों सगे भाई निकले। लखनऊ में एक ही मोहल्ले में रहने वाले चारों लड़कों ने  पढ़ी थी लुलु मॉल में एक साथ जाकर नमाज।    अबरार नगर, खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर के रहने वाले हैं चारों लड़के। सुशांत गोल्फ सिटी पुलिस ने लूलू मॉल में बिना अनुमति नमाज पढ़ने वालों को किया गिरफ्तार।।  

नूआ का मुस्लिम परिवार जिसमे एक दर्जन से अधिक अधिकारी बने। तो झाड़ोद का दूसरा परिवार जिसमे अधिकारियों की लम्बी कतार

              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             राजस्थान मे खासतौर पर देहाती परिवेश मे रहकर फौज-पुलिस व अन्य सेवाओं मे रहने के अलावा खेती पर निर्भर मुस्लिम समुदाय की कायमखानी बिरादरी के झूंझुनू जिले के नूआ व नागौर जिले के झाड़ोद गावं के दो परिवारों मे बडी तादाद मे अधिकारी देकर वतन की खिदमत अंजाम दे रहे है।            नूआ गावं के मरहूम लियाकत अली व झाड़ोद के जस्टिस भंवरु खा के परिवार को लम्बे अर्शे से अधिकारियो की खान के तौर पर प्रदेश मे पहचाना जाता है। जस्टिस भंवरु खा स्वयं राजस्थान के निवासी के तौर पर पहले न्यायीक सेवा मे चयनित होने वाले मुस्लिम थे। जो बाद मे राजस्थान हाईकोर्ट के जस्टिस पद से सेवानिवृत्त हुये। उनके दादा कप्तान महमदू खा रियासत काल मे केप्टन व पीता बक्सू खां पुलिस के आला अधिकारी से सेवानिवृत्त हुये। भंवरु के चाचा पुलिस अधिकारी सहित विभिन्न विभागों मे अधिकारी रहे। इनके भाई बहादुर खा व बख्तावर खान राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी रहे है। जस्टिस भंवरु के पुत्र इकबाल खान व पूत्र वधु रश्मि वर्तमान मे भारतीय प्रशासनिक सेवा के IAS अधिकारी है।              इसी तरह नूआ गावं के मरह