सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Model Panchayat Citizen Charter से साकार होगा ग्राम स्वराज का सपना - गहलोत

 
       ।अशफाक कायमखानी।
जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने कहा कि ग्राम स्वराज के माध्यम से गांवों का सर्वांगीण विकास राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Father of the Nation Mahatma Gandhi) का सपना था. उन्होंने आशा व्यक्त की कि केन्द्रीय पंचायती राज मंत्रालय की ओर से पंचायतों के लिए जारी आदर्श नागरिक पत्र इस दिशा में महत्वपूर्ण कदम साबित होगा.

पंचायतों के लिए जारी आदर्श नागरिक पत्र कार्यक्रम को किया संबोधित:
मुख्यमंत्री शुक्रवार को केन्द्रीय पंचायती राज मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर (Union Panchayati Raj Minister Narendra Singh Tomar) के मुख्य आतिथ्य में वीडियो कॉन्फ्रेंस (Video Conference) के जरिए देश की पंचायतों के लिए जारी आदर्श नागरिक पत्र कार्यक्रम में सम्बोधित कर रहे थे. उन्होंने भारत सरकार के मॉडल पंचायत सिटीजन चार्टर (Model Panchayat Citizen Charter) जारी करने के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि इससे जनहित से जुड़े कामों को गति मिलने के साथ ही सरकार की जवाबदेही सुनिश्चित होगी और गांवों के चहुुंमुखी विकास का मार्ग प्रशस्त हो सकेगा.

73वें संविधान संशोधन के माध्यम से पंचायती राज व्यवस्था का और सुदृढ़ीकरण किया:
गहलोत ने कहा कि देश में पंचायती राज का शुभारम्भ प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू (First Prime Minister Pt. Jawahar Lal Nehru) ने राजस्थान के नागौर जिले से किया था. पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी (Former Prime Minister Rajiv Gandhi) ने भी 73वें संविधान संशोधन के माध्यम से पंचायती राज व्यवस्था का और सुदृढ़ीकरण किया. राजस्थान ने पंचायती राज संस्थाओं (Panchayati Raj Institutions) को निरन्तर सशक्त किये जाने की पहल की है. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार के पिछले कार्यकाल में इस दिशा में प्रभावी कदम उठाते हुए ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग का सिटीजन चार्टर जारी कर ग्रामीण नागरिकों के प्रति सरकार की जवाबदेही का अद्वितीय उदाहरण प्रस्तुत किया गया था.

{related}

पंचायत सिटीजन चार्टर नागरिकों के लिए उपयोगी होगा:
मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान सरकार ग्रामीण विकास के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है और लगातार पंचायती राज संस्थाओं को सशक्त बनाने के लिए प्रयासरत है. उन्होंने  कहा कि भारत सरकार ने पंचायतों के लिए जो मॉडल पंचायत सिटीजन चार्टर जारी किया है, वह नागरिकों के लिए उपयोगी होगा. राजस्थान सरकार (Government of Rajasthan) जनता के हित में इसे निर्धारित समयावधि में जारी करने की कार्यवाही करेगी.

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।

                 ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।              हर साल आठ मार्च को विश्व भर मे महिलाओं के लिये अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। लेकिन महिलाओं को लेकर इस तरह के मनाये जाने वाले अनगिनत समारोह को वास्तविकता का रुप दे दिया जाये तो निश्चित ही महिलाओं के हालात ओर अधिक बेहतरीन देखने को मिल सकते है। इसके विपरीत राजस्थान के सीकर के लाल व मुम्बई प्रवासी वाहिद चोहान ने महिलाओं का वास्तव मे सशक्तिकरण करने का बीड़ा उठाकर अपने जीवन भर का कमाया हुया सरमाया खर्च करके वो काम किया है जिसकी मिशाल दूसरी मिलना मुश्किल है।इसी काम के लिये राजस्थान सरकार ने वाहिद चोहान को महिला सशक्तिकरण अवार्ड से नवाजा है। बताते है कि इस तरह का अवार्ड पाने वाले एक मात्र पुरुष वाहिद चोहान ही है।                   करीब तीस साल पहले सीकर शहर के रहने वाले वाहिद नामक एक युवा जो बाल्यावस्था मे मुम्बई का रुख करके वहां उम्र चढने के साथ कड़ी मेहनत से भवन निर्माण के काम से अच्छा खासा धन कमाने के बाद ऐसों आराम की जिन्दगी जीने की बजाय उसने अपने आबाई शहर सीकर की बेटियों को आला तालीमयाफ्ता करके उनका जीवन खुसहाल बनाने की जीद लेक

डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के विरोध में एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन

  लखनऊ : डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के  विरोध में  एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन आदित्य चौधरी ने कहा कि   केाविड-19 महामारी के एक बार पुनः देश में पैर पसारने और उ0प्र0 में भी दस्तक तेजी से देने की खबरें लगातार चल रही हैं। आम जनता व छात्रों में कोरोना के प्रति डर पूरी तरह बना हुआ है। सरकार द्वारा तमाम उपाय किये जा रहे हैं किन्तु एकेटीयू लखनऊ का प्रशासन कोरोना महामारी को नजरअंदाज करते हुए छात्रों की आॅफ लाइन परीक्षा आयोजित कराने पर अमादा है। जिसके चलते भारी संख्या में छात्रों की जान पर आफत बनी हुई है। इन परीक्षाओं में शामिल होने के लिए देश भर से तमाम प्रदेशों के भी छात्र परीक्षा देने आयेंगे जिसमें कई राज्य ऐसे हैं जहां नये स्टेन की पुष्टि भी हो चुकी है और विभिन्न स्थानों लाॅकडाउन की स्थिति बन गयी है। ऐसे में एकेटीयू प्रशासन द्वारा आफ लाइन परीक्षा कराने का निर्णय पूरी तरह छात्रों के हितों के विरूद्ध है। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन की मांग है कि इस निर्णय को तत्काल विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा वापस लि

राजस्थान मे गहलोत सरकार के खिलाफ मुस्लिम समुदाय की बढती नाराजगी अब चरम पर पहुंचती नजर आने लगी।

                   ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।              हालांकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा शुरुआत से लेकर अबतक लगातार सरकारी स्तर पर लिये जा रहे फैसलो मे मुस्लिम समुदाय को हिस्सेदारी के नाम पर लगातार ढेंगा दिखाते आने के बावजूद कल जारी भारतीय प्रशासनिक व पुलिस सेवा के अलावा राजस्थान प्रशासनिक व पुलिस सेवा की जम्बोजेट तबादला सूची मे किसी भी स्तर के मुस्लिम अधिकारी को मेन स्टीम वाले पदो पर लगाने के बजाय तमाम बर्फ वाले माने जाने वाले पदो पर लगाने से समुदाय मे मुख्यमंत्री गहलोत व उनकी सरकार के खिलाफ शुरुआत से जारी नाराजगी बढते बढते अब चरम सीमा पर पहुंचती नजर आ रही है। फिर भी कांग्रेस नेताओं से बात करने पर उनका जवाब एक ही आ रहा है कि सामने आने वाले वाले उपचुनाव मे मतदान तो कांग्रेस उम्मीदवार के पक्ष मे करने के अलावा अन्य विकल्प भी समुदाय के पास नही है। तो सो प्याज व सो जुतो वाली कहावत हमेशा की तरह आगे भी कहावत समुदाय के तालूक से सही साबित होकर रहेगी। तो गहलोत फिर समुदाय की परवाह क्यो करे।               मुख्यमंत्री गहलोत के पूर्ववर्ती सरकार मे भरतपुर जिले के गोपालगढ मे मस्जिद मे नमाजियों क