पदमश्री डा. पनगड़िया के निधन से राजस्थान मे शौक की लहर।

 



          ।अशफाक कायमखानी।
जयपुर।

              राष्ट्रीय स्तर पर विख्यात जाने-माने न्यूरोलॉजिस्ट, पद्मश्री से सम्मानित जयपुर निवासी डॉ.अशोक पनगड़िया का आज निधन होने से प्रदेश मे शोक की लहर देखने को मिल रही है।
        डा.पनगड़िया के निधन पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत , पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट, व पूर्व केन्द्रीय मंत्री व दिग्गज कांग्रेस नेता सुभाष महरिया ने गहरी संवेदनाएं व्यक्त की है। डॉ. पनगड़िया ने महत्वपूर्ण पदों पर रहते हुए चिकित्सा क्षेत्र में उल्लेखनीय सेवाएं दीं एवं कोविड महामारी के समय में भी चिकित्सा विशेषज्ञ के रूप में प्रदेश में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
     उन्होंने कहा डॉ. पनगड़िया का निधन चिकित्सा जगत एवं प्रदेश के लिए बड़ी क्षति बताते हुये ईश्वर से प्रार्थना है शोकाकुल परिजनों एवं डॉ. पनगड़िया के मित्रों को यह आघात सहने की शक्ति प्रदान करें एवं दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें।
           मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें व परिवार को व्यक्तिगत क्षति हुई है, मेरे उनसे पारिवारिक रिश्ते रहे हैं लम्बे समय तक उन्हें भुलाना सम्भव नहीं होगा। इसी तरह सुभाष महरिया ने कहा कि उनके पारिवारिक रिस्ते वाले एक काबिल चिकित्सक का यू चले जाने से उन्हें गहरा आघात लगा है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
धोद विधायक परशराम मोरदिया मंत्रीमंडल विस्तार मे मंत्री बनाये जा सकते है।
चित्र
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
कायमखानी बिरादरी 14-जुन को दादा कायम खां दिवस पर प्रदेश भर मे जगह जगह रक्तदान शिविर लगा रही है।
चित्र
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व सचिन पायलट के मध्य जारी सत्ता संघर्ष तेज हो सकता है। पायलट सत्ता संघर्ष के लिये ढाल ढाल तो गहलोत पत्ते पत्ते पर घूम रहे है।
चित्र
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र