नर्सिंगकर्मी से अस्पताल में दुष्कर्म:कंपाउंडर ने चौंमू में अस्पताल में नौकरी दिलाने के बहाने बुलाया, डॉक्टर के चैंबर में किया दुष्कर्म; बदनाम करने की धमकी भी दी

                     ।अशफाक कायमखानी।

जयपुर

जयपुर के बड़े अस्पताल में नौकरी दिलाने के बहाने एक नर्सिगकर्मी से दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है। पीड़िता को अस्पताल में बुलाकर डॉक्टर के चैंबर में ले जाकर दुष्कर्म किया गया। इतना ही नहीं, किसी को बताने पर उसे बदनाम करने की धमकी भी दी गई। चौंमू थाने में पीड़िता की ओर से कंपाउंडर महेंद्र चौधरी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। इस दौरान आरोपी फरार हो गया। फिलहाल, ACP चौंमू राजेंद्र सिंह को मामले की जांच सौंपी गई है।
श्रीमाधोपुर की रहने वाली 20 साल की पीड़िता ने रिपोर्ट में बताया कि महेंद्र चौधरी ने उसे चौंमू में बराला अस्पताल में नौकरी दिलाने की बात बोलकर बुलाया था। उसे चैंबर में ले गया था। चैंबर में कोई नहीं था। कुछ देर में डॉक्टर के आने की बात कहीं। इसके बाद उसे चैंबर में अच्छी नौकरी का झांसा देकर दुष्कर्म किया। किसी को बताने पर उसे बदनाम करने की धमकी दी। वह काफी डर गई। इसके बाद चुपचाप घर लौट गई। परेशान होकर उसने परिजनों से पूरी बात कहीं। तब परिजनों ने चौंमू थाने पहुुंच कर दुष्कर्म किए जाने का मामला दर्ज कराया।

तीन साल से दोनों परिचित

जांंच में सामने आया हैं कि महेंद्र चौधरी और पीड़िता दोनों तीन साल से परिचित हैं। महेंद्र चौधरी भी पीड़िता के गांव के पास में ही श्रीमाधोपुर का रहने वाला है। पीड़िता श्रीमाधोपुर में ही एक निजी अस्पताल में नौकरी करती है। जांच में पता लगा कि महेंद्र चौधरी कंपाउंडर है और वह अलग-अलग तीन अस्पतालों में नौकरी करता है। उसने पीड़िता को चौंमू के बराला अस्पताल में अच्छी नौकरी दिलाने के बहाने बुलाया। पीड़िता के रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद आरोपी फरार हो गया। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
धोद विधायक परशराम मोरदिया मंत्रीमंडल विस्तार मे मंत्री बनाये जा सकते है।
चित्र
कायमखानी बिरादरी 14-जुन को दादा कायम खां दिवस पर प्रदेश भर मे जगह जगह रक्तदान शिविर लगा रही है।
चित्र
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व सचिन पायलट के मध्य जारी सत्ता संघर्ष तेज हो सकता है। पायलट सत्ता संघर्ष के लिये ढाल ढाल तो गहलोत पत्ते पत्ते पर घूम रहे है।
चित्र
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र