आरएसजीएल के 11 सीएनजी स्टेशन स्थापित, कोटा में जल्दी ही 3 नए सीएनजी स्टेशन।


      ।अशफाक कायमखानी।
जयपुर।

                अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस एवं पेट्रोलियम डाॅ. सुबोध अग्रवाल ने कहा है कि राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड द्वारा 11 सीएनजी स्टेशनों की स्थापना कर पीएनजी और सीएनजी वितरण का काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इनमें से सात सीएनजी स्टेशन कोटा में काम करने लगे हैं वहीं एक सीएनजी स्टेशन नीमराना व एक सीएनजी स्टेशन कूकस में सीएनजी वितरण का काम कर रहा है। दो स्टेशन मध्यप्रदेश के ग्वालियर व शिवपुर में स्थापित किए गए हैं।  
एसीएस डाॅ. अग्रवाल शुक्रवार को सचिवालय में आरएसजीएल की वर्चुअल बैठक ले रहे थे। उन्होंने कहा कि आरएसजीएल को सीएनजी-पीएनजी सेवाओं को विस्तारित करना होगा। उन्होंने कहा कि कोटा में स्थापित स्टेशनों से समयवद्ध कार्य योजना बनाकर घरेलू गैस वितरण व्यवस्था का दायरा बढ़ाया जाएं।
राजस्थान गैस लि. के प्रबंध संचालक मोहन सिंह ने बताया कि कोटा में 3 नए सीएनजी स्टेशनों की स्थापना का काम जारी है। उन्होंने बताया कि कोटा में पाइप लाईन से घरेलू गैस वितरण सुविधा से नए उपभोक्ताओं को जोड़ा जा रहा है।
एमडी मोहन सिंह ने बताया कि मध्यप्रदेश के ग्वालियर और शिवपुर में एक-एक सीएनजी स्टेशन स्थापित किए जा चुके हैं और अन्य कार्य जारी है।
राजस्थान माइंस एवं मिनरल लि. के एमडी श्री ओम कसेरा ने आरएसजीएल की गतिविधियां बढ़ाने के सुझाव दिए।
बैठक में गैल गैस के सीजीएम व आरएसजीएल के बोर्ड सदस्य कपिल जैन ने बताया कि ग्रीन एनर्जी के लिए पीएनजी सीएनजी आज की आवश्यकता हो गई है वहीं पाइप लाईन से गैस वितरण सिलेण्डर की लागत से भी सस्ती है।
बैठक में उपसचिव नीतू बारुपाल, वित विभाग के प्रतिनिधि संयुक्त सचिव बृजेश शर्मा, आरएसजीएल के शैलेस सुनागर, दीप्तांशु पारीक, गगनदीप राजोरिया और रवि अग्रवाल ने भी हिस्सा लिया।

टिप्पणियाँ
Popular posts
एसीबी सीकर चौकी ने लगातार दुसरे दिन कार्यवाही करके रिश्वत लेते दो भ्रष्टाचारी को अलग अलग मामलों मे रंगे हाथ गिरफ्तार किया।
चित्र
राजस्थान कांग्रेस मे हालात विस्फोटक स्थिति मे पहुंचते नजर आ रहे है।। - गहलोत-पायलट खेमे के मध्य जारी टकराव व एक दुसरे पर दवाब बनाने के चक्कर मे सरकार गिर भी सकती है
चित्र
कोरोना अवेयरनेस कैंप के साथ शिफा होमियोपैथी क्लिनिक की इब्तिदा
चित्र
राजस्थान मे मंत्रीमंडल विस्तार व राजनीतिक नियुक्तियों की सुगबुगाहट के मध्य दिग्गज किसान नेता पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी नारायण सिंह भी कुदे। जारी राजनीतिक घमासान के बीच चोधरी ने कहा कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह।
चित्र
राजस्थान मे तीसरा मजबूत विकल्प अगले आम चुनाव से पहले उभर सकता है। - मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सेवानिवृत्त ब्यूरोक्रेट्स को लाभ के पदो पर लगातार नियुक्ति देने का सीलसीला बनाये रखने से इंतजार मे बैठे जनप्रतिनिधियों का सब्र जवाब देने लगा।
चित्र