युवा पार्षद व भामाशाह अनवर कुरैशी ने नवाब कायम खां यूनानी अस्पताल को गोद लेकर शुरू किया कोविड सेंटर के लिए कार्य

 
 



भादरा, 5 मई ( नियामत जमाला ): मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी हनुमानगढ ने भादरा के नवाब कायम खां मैमोरियल राजकीय यूनानी चिकित्सालय साहवा रोड को डेडिकैटेड कोविड केयर सेंटर के रूप में व स्वामी  विवेकानंद अस्पताल को कोविड -19 डेडिकैटेड अस्पताल के रूप में अधिकृत किया है।

 


 विदित रहे कि कोविड -19 के बढते मामलों को देखते हुए दो दिन पूर्व भादरा के युवा पार्षद व भामाशाह अनवर कुरैशी ने स्थानीय उपखंड अधिकारी को पत्र  सौंप कर नवाब कायम खां मैमोरियल अस्पताल को कोविड सेंटर  बनाकर उसे उन्हें गोद दिए जाने का आग्रह कर अस्पताल में 25 बेड सेट, 10 कूलर व ऑक्सीजन व्यवस्था व इमरजेंसी में एम्बूलेस सुविधा उपलब्ध कराने  का भरोसा दिया था। कुरैशी के अनुसार इसके बाद उन्होंने अपनी टीम के सदस्यों याकूब खां हाथीखानी, मोहम्मद रफीक नारीका, रफीक फतेखानी, अकबर खां, मंगतू खां, शकील गोरी,सलीम खोखर, श्योकत सालतखानी व जाफर नारीका आदि के सहयोग से कार्य कर ये सुविधाएं अस्पताल में उपलब्ध करा दी है तथा सेंटर शुरू होने के बाद इनके सहयोग से भादरा लाइफ लाइन संस्था के तहत कार्य किया जाएगा। उधर
 


जिला कलैक्टर की अनुशंसा पर जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने  भादरा के नवाब कायम खां मेमौरियल राजकीय यूनानी चिकित्सालय को डेडिकैेटेड  कोविड सेंटर के रूप में  अधिकृत करते हुए इसमें कोविड -19 से हल्के लक्षण वाले,बिल्कुल हल्के लक्षण वाले  व कोविड के संदिग्ध संक्रमित रोगियों को पृथक - पृथक  रूप से रखा जाकर उपचार करने के लिए निर्देशित किया है, जबकि भादरा के ही स्वामी विवेकानंद अस्पताल को कोविड -19 डेडिकैटेड अस्पताल के रूप में अधिकृत किया हैं। विवेकानंद अस्पताल समिति के अध्यक्ष दयानंद खोखेवाला ने जिला कलैक्टर को इस सम्बन्ध में पत्र लिख था। विदित रहे कि कोविड -19 की पहली वेव के समय भी स्वामी विवेकानंद अस्पताल में कोविड सेंटर था।


टिप्पणियाँ
Popular posts
एसीबी सीकर चौकी ने लगातार दुसरे दिन कार्यवाही करके रिश्वत लेते दो भ्रष्टाचारी को अलग अलग मामलों मे रंगे हाथ गिरफ्तार किया।
चित्र
राजस्थान कांग्रेस मे हालात विस्फोटक स्थिति मे पहुंचते नजर आ रहे है।। - गहलोत-पायलट खेमे के मध्य जारी टकराव व एक दुसरे पर दवाब बनाने के चक्कर मे सरकार गिर भी सकती है
चित्र
कोरोना अवेयरनेस कैंप के साथ शिफा होमियोपैथी क्लिनिक की इब्तिदा
चित्र
राजस्थान मे मंत्रीमंडल विस्तार व राजनीतिक नियुक्तियों की सुगबुगाहट के मध्य दिग्गज किसान नेता पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी नारायण सिंह भी कुदे। जारी राजनीतिक घमासान के बीच चोधरी ने कहा कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह।
चित्र
राजस्थान मे तीसरा मजबूत विकल्प अगले आम चुनाव से पहले उभर सकता है। - मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सेवानिवृत्त ब्यूरोक्रेट्स को लाभ के पदो पर लगातार नियुक्ति देने का सीलसीला बनाये रखने से इंतजार मे बैठे जनप्रतिनिधियों का सब्र जवाब देने लगा।
चित्र