पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुभाष महरिया ने विजय सिंह भंवरिया के निधन को दुखदायी बताते हुये शोक व्यक्त किया।


 



          ।अशफाक कायमखानी।
सीकर।

                  पूर्व केन्द्रीय मंत्री व आम अवाम के दुख सूख के साथी सुभाष महरिया ने सीकर जिले के मुरलीधर भंवरिया के होनहार पूत्र ONGC मे कार्यरत विजय सिंह भंवरिया के निधन को  क्षेत्र के लिये दुखदाई बताते हुये गहरी संवेधानाऐ व्यक्त करते हुये उनके परिवार को यह दुख सहन करने की ताकत देने के लिये भगवान से प्रार्थना की है।
           ONGC के बार्ज P 305 जहाज में कार्यरत विजय सिंह भंवरिया के 17-मई को ताउते तूफान में समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हुये जहाज के अरब सागर में डूब जाने पर निधन हो गया जिसका पार्थिक शव 25 मई को मुंबई में पोस्टमार्टम होने के बाद पार्थिव देह कल 26-मई को उनके पैतृक गांव गोमावली पहुंची।, उसके बाद में गमगमी के माहौल में दाह संस्कार किया गया।
               जानकारी अनुसार विजय सिंह दो भाई हैं एवं उनके पिता मुरलीधर भंवरिया अध्यापक एवं  माताजी ग्रहणी है। विजयसिंह दो साल पहले ही इस कंपनी में सेलेक्ट हुए थे। अंतर संस्कार के अवसर पर ग्राम पंचायत सीहोडी के सरपंच सुंदर लाल भावरिया, कृष्णा स्कूल के निर्देशक बालचंद जी लांबा, विनायक क्लासेस श्रीमाधोपुर के निर्देशक सयोग भावरिया एवं आसपास के लोग उपस्थित रहे। एवं दाह संस्कार में कोरोना गाइड लाइन का पुरी तरह पालन किया गया।
               कुल मिलाकर यह है कि शेखावाटी जनपद को यू तो शहिदो की धरती व देश सेवा के लिये कठिन से कठिन सरकारी सेवा मे सेवा देने वालो की खाद्यान्न के तौर पर माना जाता है। लेकिन इस तरह किसी होनहारों बेटे के निधन से लोगो को पीड़ा का अहसास करवाता है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
कोराना काल के कारण 48 वीं बार में 10वीं पास हुए 85 साल के शिवचरण यादव।
चित्र
कोविड से माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिये सीएलसी के निदेशक इंजीनियर श्रवण चोधरी द्वारा मुफ्त शिक्षा के साथ रहना व खाना देने की पहल की चारो तरफ प्रशंसा हो रही है।
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
सीकर सीमा क्षेत्र में धारा 144 लागू शुक्रवार सायं 5 बजे से सोमवार प्रातः 5 बजे तक जन अनुशासन वीकेड कर्फ्यू रहेगा लॉकडाउन के दौरान (अनुमत श्रेणी के अलावा) किसी भी स्थान पर 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित रहेगा
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र