कोराना वायरस से कम ओर समय पर आक्सीजन व इलाज नही मिलने से हुई अधिक मौतो से सबक लेकर सरकार के अलावा सामाजिक संस्थाऐ भी आक्सीजन प्लांट लगा रहे है।

 
     


             

        ।अशफाक कायमखानी।
मकराना-राजस्थान।

                         कोराना की दूसरी लहर के भंयकरता प्रकोप से राजस्थान प्रदेश मे सरकारी आंकड़ों के अनुसार सात हजार से अधिक लोगो की मोत होने से गैर सरकारी आंकड़ा इससे कई गुणा अधिक बताते है। मरने वालो मे कोराना वायरस से मरने वाले कम लेकिन समय पर इलाज नही मिलने व संक्रमित लोगो के लिये समय पर आक्सीजन नही उपलब्ध होने से मोते अधिक होना बताया गया है।
           कोराना काल के वर्तमान दौर मे संक्रमित लोगो के लिये आक्सीजन की भारी किल्लत व मारामारी देखने को मिली है। ऐसे विकट हालात मे सरकार के अलावा सामाजिक संस्थाओं ने भी जरुरतमंदों तक आक्सीजन पहुंचाने की भरपूर कोशिशे की है। लेकिन आक्सीजन की उपलब्धता भी सिमित ही थी। इससे से सबक लेकर प्रदेश मे सरकार के अतिरिक्त अनेक सामाजिक संस्थाओं ने भी आक्सीजन प्लांट लगाकर आक्सीजन की आपूर्ति करना तय करके कदम आगे बढाया है। जिसमें नागोर जिला स्थित मारबाक नगरी मकराना की अंजुमन इस्लाहुल मुस्लिमीन समाज ने सभी वर्गों के लिए अपनी तरफ़ से एक विशाल ओक्सिजन प्लांट का निर्माण करनें का तय किया है। इस ओक्सिजन प्लांट को स्थापित करने के लिए अंजुमन इस्लाहुल मुस्लिमीन ने अपनी तरफ से मंगलाना रोड़ पर 22,000 sq. ft. (स्क्वायर फीट) की नई जमीन भी खरीद ली है, जहां पर ये ओक्सिजन लगाया जाएगा।
   


              

आज उक्त जमीन का मौका मुआयना करने के लिए ओक्सिजन प्लांट लगाने वाली टीम इंजीनियर वीरेन्द्र सिंह चौहान के नेतृत्व में जयपुर से मकराना पहुंची।जहां इंजीनियर वीरेन्द्र सिंह चौहान ने जायजा लेकर प्लांट लगाने के लिए इस जमीन को सही बताया। अंजुमन इस्लाहुल मुस्लिमीन कमेटी के सचिव हारून राशिद चौधरी, सहसचिव खुर्शीद अहमद सिसोदिया ने इंजीनियर वीरेन्द्र सिंह चौहान के सारे मापदंड व आवश्यक दिशानिर्देशों पर सलाह मशविरा करके काम को आगे बढाने का तय किया। इस ओक्सिजन प्लांट को लगाने के लिए अंजुमन इस्लाहुल मुस्लिमीन ने बड़ी भूमिका निभाते हुए अपनी ओर से सारी औपचारिकता पूरी कर ली है अब जल्द ही 5 से 7 दिनों के अंतर्गत ये ओक्सिजन प्लांट सुचारू रूप से सेवा देने के लिए शुरू हो जाएंगा। इस नेक पहल और बड़ी खिदमत के लिए अंजुमन इस्लाहुल मुस्लिमीन, लगनशाह मेमोरियल हॉस्पिटल सहित सभी दानदाता धन्यवाद के पात्र है।
अंजुमन इस्लाहुल मुस्लिमीन द्वारा मकराना को इतनी बड़ी राहत देने के लिए इन दिनों नागौर जिला सहित पूरे प्रदेश में तारीफों के पुल बाँधे जा रहे जो कि सभी मकराना वासियों को गौरवान्वित करता है।
             कुल मिलाकर यह है कि उक्त आक्सीजन प्लांट लगाने के लिये अंजुमनों इस्लाहुल मुस्लिमीन नामक तंजीम के ओहदेदारों की नैक नियती व खिदमत ए खल्क की भावना से ओतप्रोत होना एवं स्थानीय उपखंड अधिकारी शीराज अली जैदी, पूर्व विधायक जाकीर गैसावत व नगरपालिका की चैयरमैन  समरीन भाटी का मोटिवेशन भी उपयोगी साबित होना माना जा रहा है।


 

टिप्पणियाँ
Popular posts
एसीबी सीकर चौकी ने लगातार दुसरे दिन कार्यवाही करके रिश्वत लेते दो भ्रष्टाचारी को अलग अलग मामलों मे रंगे हाथ गिरफ्तार किया।
चित्र
राजस्थान कांग्रेस मे हालात विस्फोटक स्थिति मे पहुंचते नजर आ रहे है।। - गहलोत-पायलट खेमे के मध्य जारी टकराव व एक दुसरे पर दवाब बनाने के चक्कर मे सरकार गिर भी सकती है
चित्र
कोरोना अवेयरनेस कैंप के साथ शिफा होमियोपैथी क्लिनिक की इब्तिदा
चित्र
राजस्थान मे मंत्रीमंडल विस्तार व राजनीतिक नियुक्तियों की सुगबुगाहट के मध्य दिग्गज किसान नेता पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी नारायण सिंह भी कुदे। जारी राजनीतिक घमासान के बीच चोधरी ने कहा कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह।
चित्र
राजस्थान मे तीसरा मजबूत विकल्प अगले आम चुनाव से पहले उभर सकता है। - मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सेवानिवृत्त ब्यूरोक्रेट्स को लाभ के पदो पर लगातार नियुक्ति देने का सीलसीला बनाये रखने से इंतजार मे बैठे जनप्रतिनिधियों का सब्र जवाब देने लगा।
चित्र