रुस से 640 आक्सीजन कन्सेन्ट्रटर की दूसरी खेप जयपुर पहुंची, उच्चस्तरीय समिति द्वारा विदेशों से समन्वय जारी

 


           ।अशफाक कायमखानी।
जयपुर।

                 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पहल पर विदेशों से मंगाए जा रहे आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर की दूसरी खेप में रुस से 640 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगलवार को जयपुर पहुंच गए हैं। इससे पहले रुस से ही शनिवार को पहली खेप में एक सौ आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में आ गए थे। रुस से 1250 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगाए जा रहे हैं जिसमें से शेष आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर 16 मई तक जयपुर पहुंच जाएंगे। रुस से 1250 के अतिरिक्त भी और आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगवाए जाने के लिए प्रयास जारी हैं।
              विदेशों से आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर आने शुरु होने के साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के प्रयास धरातल पर उतरने लगे है। इस माह के अंत तक बड़ी संख्या में आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर जयपुर पहुंचने की संभावना है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा विदेशों से मंगवाए जा रहे आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर के आने और वितरण की अनवरत समीक्षा कर रहे हैं। चीन से भी इसी माह 6900 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटरों की खेप जयपुर पहुंच रही है।
                 गौरतलब है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते चिकित्सालयों में आक्सीजन सिलेण्डरों की देशव्यापी कमी के बावजूद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आगे बढ़कर कदम उठाते हुए विदेशों से सीधे संपर्क व समन्वय बनाकर आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगाने के निर्देश दिए। इसके लिए मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने 30 अप्रेल को अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस एवं पेट्रोलियम डाॅ. सुबोध अग्रवाल की अध्यक्षता में डा. प्रीतम वी. यशवंत और टीना ढ़ाबी का उच्च स्तरीय कोर ग्रुप का गठन किया।
                 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के मंशा व दिशा निर्देशों व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा के निर्देशन में विदेशों से आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगाने के प्रयासों से दस दिन मेें ही रुस से दो खेप में 740 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर जयपुर में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को प्राप्त हो गए हैं।
     


          

  एसीएस माइंस डाॅ. सुबोध अग्रवाल ने मंगलवार को सचिवालय में उच्च स्तरीय कोर ग्रुप की बैठक में विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने बताया कि चीन से 6900 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर 25 मई तक आने की संभावना है। इस तरह रुस और चीन से ही 8150 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर 25 मई तक जयपुर आ जाएंगे। उन्होंने बताया कि रुस में भारत के एंबेसेडर श्री डीबी वेंकटेश वर्मा और फर्स्ट सेकेट्री ट्रेड श्री असीम वोहरा के सहयोग व समन्वय से रुस से 1250 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर तत्काल प्राप्त हो सके हैं। इसके अतिरिक्त रुस से और आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगवाए जाने के प्रयास जारी है।
डाॅ. अग्रवाल ने बताया कि अन्य देशों व स्रोतों से भी आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर के लिए संपर्क व समन्वय बनाया गया है और वहां से भी जल्दी ही आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर पहुंचने शुरु होने वाले हैं।
              एसीएस माइंस डाॅ. सुबोध अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित कोर ग्रुप की बैठक में डा प्रीतम वी यशवंत, टीना ढाबी ने प्रगति से अवगत कराया। बैठक में राजस्थान मेडिकल सर्विसेज कारपारेशन के ईडी ललित मोरडिया और ओएसडी आरआरईसी नवीन शर्मा ने भी हिस्सा लिया।




टिप्पणियाँ
Popular posts
एसीबी सीकर चौकी ने लगातार दुसरे दिन कार्यवाही करके रिश्वत लेते दो भ्रष्टाचारी को अलग अलग मामलों मे रंगे हाथ गिरफ्तार किया।
चित्र
राजस्थान कांग्रेस मे हालात विस्फोटक स्थिति मे पहुंचते नजर आ रहे है।। - गहलोत-पायलट खेमे के मध्य जारी टकराव व एक दुसरे पर दवाब बनाने के चक्कर मे सरकार गिर भी सकती है
चित्र
कोरोना अवेयरनेस कैंप के साथ शिफा होमियोपैथी क्लिनिक की इब्तिदा
चित्र
राजस्थान मे मंत्रीमंडल विस्तार व राजनीतिक नियुक्तियों की सुगबुगाहट के मध्य दिग्गज किसान नेता पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी नारायण सिंह भी कुदे। जारी राजनीतिक घमासान के बीच चोधरी ने कहा कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह।
चित्र
राजस्थान मे तीसरा मजबूत विकल्प अगले आम चुनाव से पहले उभर सकता है। - मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सेवानिवृत्त ब्यूरोक्रेट्स को लाभ के पदो पर लगातार नियुक्ति देने का सीलसीला बनाये रखने से इंतजार मे बैठे जनप्रतिनिधियों का सब्र जवाब देने लगा।
चित्र