एसङीएम का ड्राइवर साढ़े तीन किलो गांजे के साथ गिरफ्तार


        ।अशफाक कायमखानी।

जयपुर।

            राजस्थान के कोटा कुन्हाड़ी पुलिस द्वारा की गई एक एनडीपीएस की कार्यवाही के मामले में बेहद सनसनीखेज खुलासा हुआ है मामले में गिरफ्तार किया गया आरोपी झालवाड़ जिले के असनावर उपखण्ड अधिकारी (SDM) का ड्राइवर निकला।
SDM का ड्राइवर होने की जानकारी मिलने के बाद एक बार तो पुलिस भी भौचक्की रह गयी की किस तरह सरकारी नौकरी करने वाला एक प्रशासनिक अधिकारी का ड्राइवर गांजा तस्करी में शामिल है ।
मामले पर जानकारी देते हुए नयापुरा थानाधिकारी भवानी सिंह ने बताया कि झालवाड़ के असनावर के SDM के ड्राइवर ओम प्रकाश सोनी को साढ़े तीन किलो गांजे के साथ गिरफ्तार किया गया है। दरसअल 2 फरवरी को कुन्हाड़ी थाना पुलिस ने डाबी रोड से एक गांजा तस्कर इरशाद अली को गांजे के साथ गिरफ्तार किया था जिसने पूछताछ में बताया था कि वह झालवाड़ निवासी ओम प्रकाश सोनी से ये गांजा लेकर आया है जिसपर कुन्हाड़ी थाना पुलिस ने झालवाड़ से ओम प्रकाश सोनी को गिरफ्तार किया जिसके पास साढ़े तीन किलो गांजा बरामद हुआ।
ओम प्रकाश को गिरफ्तार करने पर खुलासा हुआ है कि वह असनावर के SDM का सरकारी ड्राइवर है जो वर्ष 2014 से सरकारी नौकरी में है।
जिसपर कुन्हाड़ी पुलिस ने नारकोटिक्स पदार्थ तस्करी के आरोप में ड्राइवर ओम प्रकाश को गिरफ्तार कर लिया और फिर मामले के जांच अधिकारी नयापुरा थानाधिकारी भवानी सिंह ने उसे आज एनडीपीएस कोर्ट में पेश किया जहां से कोर्ट ने उसे जेल भेजने के आदेश कर दिए।

टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
राजस्थान मे एआईएमआईएम की दस्तक से राजनीतिक हलचल बढी। कांग्रेस से जुड़े नेताओं मे बेचैनी। - उपचुनाव मे एआईएमआईएम के गठबंधन के उम्मीदवार खड़े करने को लेकर कयास लगने लगे।
इमेज
एल पी एस निदेशक नेहा सिंह व हर्षित सिंह सम्मानित किये गये
इमेज
सांसद असदुद्दीन आवेसी की एआईएमआईएम व पोपुलर फ्रंट के प्रभाव से मुकाबले को लेकर कांग्रेस ने राजस्थान मे अपनी मुस्लिम लीडरशिप व संस्थाओं को आगे किया।
राजस्थान वक्फ बोर्ड का आठ मार्च को कार्यकाल पूरा होने को है, लेकिन सदस्यों के लिये चुनावी प्रक्रिया अभी शुरु नही हुई। - नये चुनाव के लिये सरकारी स्तर पर हलचल पर प्रशासक लगने के चांसेज अधिक बताये जा रहे है।
इमेज