महाराष्ट्र के भाजपा विधायक सीकर में गिरफ्तार , पांच लोग थाने में बंद।

 
 

                        ।अशफाक कायमखानी।

सीकर (राजस्थान)।
               राजस्थान के सीकर शहर में महाराष्ट्र के चिमुर से भाजपा विधायक कीर्ति कुमार को सीकर पुलिस ने हिरासत में लिया है.  विधायक के साथ में पिता और भाई समेत दो अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया है। पांचों पर नो एंट्री जोन में घुसकर पुलिस कांस्टेबल से मारपीट और महिला कांस्टेबल से बदसलूकी करने का आरोप है. जिन्हें आईपीसी की धारा 151 में गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है. दरअसल, महाराष्ट्र के चिम्मूर विधायक कीर्ति कुमार परिवार और रिश्तेदारों के साथ एसी कोच बस में सालासर हनुमान दर्शन करने जा रहे थे. सीकर के पास दोपहर करीब 12 बजे बस चालक रास्ता भटक गया और शहर में घुस गया. शहर में एसके अस्पताल के नजदीक ट्रैफिक महिला पुलिसकर्मी कमला और हेडकांस्टेबल गिरधारी सिंह ने बस को रुकवाया.
                जैसे ही विधायक और बस में बैठे उनके कुछ साथियों को पता लगा कि बस का चालान काटा गया है. इस पर विधायक बस से नीचे उतर आए और खुद को विधायक बताकर पुलिसकर्मियों की शिकायत परिवहन मंत्री प्रतापसिंह से करने की बात कहने लगे. यहीं पर दोनों पक्षों में तकरार हुई और देखते ही देखते दोनों ने एक दूसरे की गिरेबां पकड़ ली. नौबत मारपीट पर आ गई. झगड़े में हेडकांस्टेबल गिरधारी सिंह की वर्दी फट गई और उनके गले और हाथों पर खरोंच आ गई. वहीं मारपीट में दूसरे पक्ष के कुछ लोगों के भी गले और हाथों में खरोंच आई है. पुलिस ने पुलिसकर्मी का मेडिकल करवाकर विधायक कीर्ति कुमार उनके साथी मितेश, बंटी बगडिय़ा को शांति भंग में पकड़ लिया. जबकि महिला कांस्टेबल कमला की शिकायत पर पुलिस ने राजकार्य में बाधा और मारपीट का मुकदमा दर्ज कर लिया.
             मिली जानकारी के अनुसार बीजेपी विधायक कीर्ति कुमार परिवार समेत राजस्थान आए हैं. वह यहां सालासर बालाजी के दर्शनों के बाद सीकर होते हुए जैसलमेर जा रहे थे. वहीं, इसी बीच उनकी बस सीकर में नो एंट्री क्षेत्र में चली गई, जिसके बाद यह विवाद हुआ. बता दें कि सीकर पुलिस ने मामले में नागपुर जिले के धंतोली तहसील निवासी विधायक कीर्ति कुमार के साथ उनके पिता मितेश कुमार और भाई श्रीकांत को भी शांतिभंग में गिरफ्तार किया है.

टिप्पणियां