सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

किसान महापंचायतों के बहाने कांग्रेस चारो उपचुनाव को साधना चाह रही है।

 
            ।अशफाक कायमखानी।
जयपुर।

             हालांकि राजस्थान के चार विधानसभा उपचुनावों की तारीखो का अभी तक ऐहलान नही हुवा है। लेकिन आज कल मे कभी भी चुनाव आयोग द्वारा मार्च आखिर मे किसी भी तारीख को चुनाव होने की घोषणा करने की सम्भावना जताई जा रही है। चुनाव आयोग की बंदिशों व बारिकियों को ध्यान मे रखते हुये सत्तारूढ़ दल कांग्रेस द्वारा शेखावाटी की सुजानगढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिये उसके नजदीक डूंगरगढ तहसील के धनेरु गावं मे 27 फरवरी को व फिर मेवाड़ की तीनो उपचुनाव वाली  विधानसभा क्षेत्रो के लिये उनसे लगभग समान दूरी के मध्य स्थित चित्तौड़गढ़ जिले के मातृकुण्डिया मे 28 फरवरी को किसान महापंचायत करके उक्त चारो विधानसभा चुनावों को साधने के प्रयास किये जा रहे है।
               डूंगरगढ तहसील के धनेरु गावं मे 27-फरवरी को आयोजित होने वाली किसान महापंचायत मे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रभारी महामंत्री अजय माकन व प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा सहित अनेक नेताओं के सम्बोधित करने का ऐहलान हुवा है। वही मातृकुण्डिया की सभा मे पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलटों को आमंत्रित करने का दवाब आम मतदाताओं की तरफ से होने के बावजूद अभी तक उन्हें ओपचारिक रुप से आमंत्रित करने की पुष्टि नही हुई है। जबकि पायलट समर्थकों ने दावा किया है कि अगर संगठन स्तर पर पायलट को बूलाया जाता है तो वो महापंचायत मे जरूर जायेगे।
               कांग्रेस की उक्त होने वाली दो अलग अलग जगह किसान महापंचायतो के पहले कांग्रेस नेता राहुल गाधी 12 व 13 फरवरी को श्रीगंगानगर, हनुमानगढ, अजमेर व नागौर जिले के दो दिवसीय दौरा करके किसान महापंचायतों को सम्बोधित कर चुके है।जिनमे मुख्यमंत्री गहलोत खेमे द्वारा सचिन पायलट को अलग थलग सा रखा गया था। वही सचिन पायलट अबतक दौसा, बयाना व कोटखावदा मे विशाल किसान महापंचायतों का आयोजन कर चुके है। पायलट खेमे द्वारा आयोजित किसान महापंचायतों मे मुख्यमंत्री गहलोत खेमे के नेताओं ने पूरी तरह दूरी बनाई रखी है।
         होने वाले उपचुनाव मे से तीन सीटो पर कांग्रेस का कब्जा था ओर एक सीट राजसमंद पर भाजपा का कब्जा है। भाजपा प्रभावित मेवाड़ क्षेत्र के उदयपुर जिले के बल्लबगढ़, भीलवाड़ा की सहाड़ा व राजसमंद जिले की राजसमंद के अलावा कांग्रेस प्रभावित शेखावाटी क्षेत्र की सुजानगढ़ विधानसभा के उपचुनाव को साधने के लिये 27 व 28 फरवरी को धनेरु व मातृकुण्डिया मे कांग्रेस द्वारा आयोजित होने वाली किसान महापंचायतो मे सत्ता व संगठन की ताकत के उपयोग के बाद जुटने वाली भीड़ की तादाद के आंकलन के बाद ही कुछ कुछ इशारा मिल पायेगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वक्फबोर्ड चैयरमैन डा.खानू की कोशिशों से अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये जमीन आवंटन का आदेश जारी।

         ।अशफाक कायमखानी। चूरु।राजस्थान।              राज्य सरकार द्वारा चूरु शहर स्थित अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये बजट आवंटित होने के बावजूद जमीन नही होने के कारण निर्माण का मामला काफी दिनो से अटके रहने के बाद डा.खानू खान की कोशिशों से जमीन आवंटन का आदेश जारी होने से चारो तरफ खुशी का आलम देखा जा रहा है।            स्थानीय नगरपरिषद ने जमीन आवंटन का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजकर जमीन आवंटन करने का अनुरोध किया था। लेकिन राज्य सरकार द्वारा कार्यवाही मे देरी होने पर स्थानीय लोगो ने धरने प्रदर्शन किया था। उक्त लोगो ने वक्फ बोर्ड चैयरमैन डा.खानू खान से परिषद के प्रस्ताव को मंजूर करवा कर आदेश जारी करने का अनुरोध किया था। डा.खानू खान ने तत्परता दिखाते हुये भागदौड़ करके सरकार से जमीन आवंटन का आदेश आज जारी करवाने पर क्षेत्रवासी उनका आभार व्यक्त कर रहे है।  

नूआ का मुस्लिम परिवार जिसमे एक दर्जन से अधिक अधिकारी बने। तो झाड़ोद का दूसरा परिवार जिसमे अधिकारियों की लम्बी कतार

              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             राजस्थान मे खासतौर पर देहाती परिवेश मे रहकर फौज-पुलिस व अन्य सेवाओं मे रहने के अलावा खेती पर निर्भर मुस्लिम समुदाय की कायमखानी बिरादरी के झूंझुनू जिले के नूआ व नागौर जिले के झाड़ोद गावं के दो परिवारों मे बडी तादाद मे अधिकारी देकर वतन की खिदमत अंजाम दे रहे है।            नूआ गावं के मरहूम लियाकत अली व झाड़ोद के जस्टिस भंवरु खा के परिवार को लम्बे अर्शे से अधिकारियो की खान के तौर पर प्रदेश मे पहचाना जाता है। जस्टिस भंवरु खा स्वयं राजस्थान के निवासी के तौर पर पहले न्यायीक सेवा मे चयनित होने वाले मुस्लिम थे। जो बाद मे राजस्थान हाईकोर्ट के जस्टिस पद से सेवानिवृत्त हुये। उनके दादा कप्तान महमदू खा रियासत काल मे केप्टन व पीता बक्सू खां पुलिस के आला अधिकारी से सेवानिवृत्त हुये। भंवरु के चाचा पुलिस अधिकारी सहित विभिन्न विभागों मे अधिकारी रहे। इनके भाई बहादुर खा व बख्तावर खान राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी रहे है। जस्टिस भंवरु के पुत्र इकबाल खान व पूत्र वधु रश्मि वर्तमान मे भारतीय प्रशासनिक सेवा के IAS अधिकारी है।              इसी तरह नूआ गावं के मरह

लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

       लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार। 9 में से 4 लोग को पुलिस ने किया गिरफ्तार। सीसीटीवी और सर्विलांस के जरिए उन तक पहुंची पुलिस। नमाज अदा करने वालों में मोहम्मद रेहान पुत्र मोहम्मद रिजवान निवासी खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर , लखनऊ। दूसरा आतिफ खान पुत्र मोहम्मद मतीन खान थाना मोहम्मदी जिला लखीमपुर मौजूदा पता खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। तीसरा मोहम्मद लुकमान पुत्र मनसूर अली मूल पता लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। मोहम्मद नोमान निवासी लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। पकड़े गए चार लड़कों में सीतापुर के रहने वाले दोनों सगे भाई निकले। लखनऊ में एक ही मोहल्ले में रहने वाले चारों लड़कों ने  पढ़ी थी लुलु मॉल में एक साथ जाकर नमाज।    अबरार नगर, खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर के रहने वाले हैं चारों लड़के। सुशांत गोल्फ सिटी पुलिस ने लूलू मॉल में बिना अनुमति नमाज पढ़ने वालों को किया गिरफ्तार।।