हाईकोर्ट ने घूसखोर एसडीएम पिंकी मीणा को शादी करने के लिए 10 दिन की जमानत। 16 फरवरी की शादी पहले से तय थी।



      ।अशफाक कायमखानी।
जयपुर।

         हाईवे बना रही कंपनी से 10 लाख रु. से रिश्वत मांगने के आरोप में 29 दिन से जेल में बंद बांदीकुई एसडीएम पिंकी मीणा को अपनी शादी के लिए अंतरिम जमानत मिल गई। राजस्थान हाईकोर्ट की जयपुर बेंच में जस्टिस इंद्रजीत सिंह ने 10 दिन की सशर्त जमानत दी है। राजस्थान न्यायिक सेवा में चयनित हुए अधिकारी के साथ 16 फरवरी को एसडीएम से  शादी होगी। न्यायिक अधिकारी की पोस्टिंग कहां हुई है, यह साफ नहीं हो सका है। शादी के पांच दिन बाद ही 21 फरवरी को पिंकी मीणा को कोर्ट में सरेंडर करना होगा। मामले की अगली सुनवाई 22 फरवरी को होगी।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शादी के लिए दौसा जिले के जटवाड़ा में एक आलीशान होटल पहले ही बुक हो चुका था। इसी बीच वह रिश्वत लेते ट्रेप कर ली गई।29 दिन से जेल में बंद एसडीएम मीणा ने जनवरी 2021 में निचली अदालत में जमानत के लिए प्रयास किए थे। तब याचिका ठुकरा दी गई थी। सरकारी वकील ने जमानत देने का विरोध कर कहा था कि यह बाहर आईं तो जांच प्रभावित हो सकती है। हालांकि अब हाईकोर्ट से पिंकी मीणा को शादी के छह दिन पहले जमानत मिल गई।
एसीबी ने 13 जनवरी को दौसा में हाइवे निर्माण करने वाली कंपनी से 5 लाख की रिश्वत लेते दौसा एसडीएम पुष्कर मित्तल और 10 लाख की रिश्वत मांगने की शिकायत पर बांदीकुई एसडीएम पिंकी मीणा को गिरफ्तार किया था। आरोप है कि दोनों एसडीएम ने भारतमाला परियोजना (दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस हाइवे) कंपनी के अधिकारियों से रिश्वत मांगी थी। उसके साथ आरएएस पुष्कर मित्तल भी गिरफ्तार किए गए।

टिप्पणियां
Popular posts
डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के विरोध में एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन
इमेज
किसान महापंचायतों के बहाने कांग्रेस चारो उपचुनाव को साधना चाह रही है।
राजस्थान के चार विधानसभा उपचुनाव मे कांग्रेस का गहलोत-पायलट के मध्य का अंदरुनी झगड़ा नुकसान पहुंचायेगा। - मुस्लिम युवाओं की गहलोत सरकार से नाराजगी भी संकट खड़ा करेगी। - भाजपा उम्मीदवारों की घोषणा के बाद भाजपा की मजबूती का ठीक से आंकलन होगा।
आसाम-बंगाल आम चुनावो के साथ राजस्थान के होने वाले चार उपचुनावो के बाद गहलोत सरकार गिराने की फिर कोशिश हो सकती है! - पायलट समर्थक प्रदेश भर मे किसान महापंचायते आयोजित करके अपना जनसमर्थन बढा रहे है।
उर्दू तालीम और मदरसा तालीम की हिमायत में सुजानगढ़ मे आमसभा हुई। - गहलोत सरकार को ललकारते हुए उप चुनाव में कांग्रेस को हराने का हुआ प्रस्ताव पास ।
इमेज