फर्जी डॉक्टर गिरफ्तार, आयुर्वेद अस्पताल में कंपाउडर था, खुद का हॉस्पिटल खोल लिया और एमडी बताकर मरीजों का कर रहा था इलाज

        अशफ़ाक़ कायमखानी

जयपुर में खुद को एमडी डॉक्टर बताकर हॉस्पिटल चलाने वाले एक व्यक्ति को पुलिस ने पकड़ा है। पकड़े गए व्यक्ति का नाम विनोद कुमार शर्मा (51) है। उसके पास एलोपैथी से जुड़ी हुई कोई डिग्री नहीं थी, लेकिन वह खुद को एमडी बताकर मरीजों का इलाज करता था। पुलिस ने सीएमएचओ की शिकायत पर आरोपी को गिरफ्तार किया है।​​​
झोटवाड़ा एसीपी हरिशंकर शर्मा ने बताया कि सीएमएचओ ने करधनी थाने में एक शिकायत दर्ज करवाई थी। इसमें बताया कि कालवाड़ रोड पर गोविंदपुरा में गणपति सेटेलाइट अस्पताल एंड रिसर्च सेंटर है। इसे विनोद कुमार शर्मा नाम का व्यक्ति बिना किसी डॉक्टरी डिग्री के अस्पताल संचालित कर रहा है। यही नहीं, उसने अपने नाम के आगे भी डॉक्टर जोड़ रखा है। वह लोगों को खुद के मेडिकल में एमडी की डिग्री होना बताकर इलाज करता है। उसके यहां भारी मात्रा में अंग्रेजी दवाईयां भी मिली।
सीएमएचओ की शिकायत पर पुलिस ने करधनी थाना पुलिस ने जांच शुरू की। आरोपित विनोद कुमार शर्मा से पूछताछ में सामने आया कि वे एक राजकीय आयुर्वेद औषधालय में कंपाउडर है। उनके पास एमबीबीएस या एमडी की कोई डिग्री नहीं है। तब करधनी थानाप्रभारी विनोद कुमार ने कार्रवाई करते हुए विनोद कुमार शर्मा (51) निवासी गोविंदपुरा, कालवाड़ रोड को गिरफ्तार कर लिया।

टिप्पणियां
Popular posts
युवा पार्षद व भामाशाह अनवर कुरैशी ने नवाब कायम खां यूनानी अस्पताल को गोद लेकर शुरू किया कोविड सेंटर के लिए कार्य
इमेज
सिकंदर खान ने पहले देश के लिए बॉर्डर पर अपनी सेवा दी अब लगे हुए हैं कोरोना मरीज़ों को ऑक्सिजन सिलेंडर की मुफ़्त सेवा देने में।
इमेज
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के ट्वीट से बवाल लोगो मे ट्वीट मे दी गई जानकारी को लेकर नाराजगी।
इमेज
आक्सीजन प्लांट के लिये खीचड़ परिवार ने पांच लाख व रंगरेज समाज ने दो लाख का चैक कलेक्टर को सौंपा।
इमेज
सीकर शहर मे इसी महीने आक्सीजन प्लांट लगकर आक्सीजन हकी आपूर्ति करने लगेगा।
इमेज