खाटूश्याम जी के दर्शन करके आ रहे एक ही परिवार के 8 लोगों की सड़क हादसे में मौत

       अशफ़ाक़ कायमखानी
 

टोंक: जिले में मंगलवार रात जयपुर-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित बनास पुलिया के समीप तेज गति से आ रहे ट्रेलर ने आगे चल रही कार के टक्कर मार दी. हादसे में कार सवार आठ लोगों की मौत हो गई और 5 लोग गंभीर घायल हो गए. हादसे के शिकार हुए लोग शेखावाटी के सीकर जिले में स्थित खाटूश्याम जी (Khatushyamji) के दर्शन करके वापस अपने घर लौट रहे थे.
हादसे के शिकार लोग मध्य प्रदेश निवासी थे:

घायलों को टोंक के सआदत अस्पताल के बाद जयपुर रेफर किया गया है. हादसे के शिकार लोग मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के राजगढ़ जिले के जीरापुर गांव निवासी थे और एक ही परिवार के हैं. हादसे की सूचना पर पूरा पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंचा और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू करवाया. पुलिस ने बताया कि कार सवार एक सोनी परिवार है जो कि खाटू श्याम जी के मंदिर में दर्शन कर मंगलवार मध्य रात वापस एमपी जा रहा था.

यह परिवार एक बड़ी जीप (तूफान) में सवार था:
पुलिस के अनुसार हादसा रात करीब 2 से ढाई बजे के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-12 पर टोंक जिला मुख्यालय से करीब 1 किलोमीटर दूर सदर थाना इलाके में हुआ. बताया जा रहा है कि ये लोग रात करीब 9.30 बजे खाटूश्यामजी से रवाना हुये थे. यह परिवार एक बड़ी जीप (तूफान) में सवार था. रास्ते में टोंक के पास एक पुलिया पर श्रद्धालुओं की इस जीप को पीछे से आ रहे ट्रेलर ने जोरदार टक्कर मार दी. इससे जीप पुलिया की दीवार और ट्रेलर के बीच में फंस गई.

मृतकों में 4 पुरुष, दो महिलायें और दो बच्चे शामिल:
हादसे में आठ लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गये. मृतकों में चार पुरुष, दो महिलायें और दो बच्चे शामिल हैं. घायलों की स्थिति नाजुक होने पर उन्हें जयपुर रेफर किया गया है. जबकि 3 साल की एक बच्ची के चोट नहीं आई है. हादसे के बाद ट्रेलर का चालक और परिचालक मौके से फरार हो गये. जीप का चालक बच गया, लेकिन वह भी फरार बताया जा रहा है.
 

टिप्पणियां
Popular posts
डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के विरोध में एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन
इमेज
किसान महापंचायतों के बहाने कांग्रेस चारो उपचुनाव को साधना चाह रही है।
राजस्थान के चार विधानसभा उपचुनाव मे कांग्रेस का गहलोत-पायलट के मध्य का अंदरुनी झगड़ा नुकसान पहुंचायेगा। - मुस्लिम युवाओं की गहलोत सरकार से नाराजगी भी संकट खड़ा करेगी। - भाजपा उम्मीदवारों की घोषणा के बाद भाजपा की मजबूती का ठीक से आंकलन होगा।
आसाम-बंगाल आम चुनावो के साथ राजस्थान के होने वाले चार उपचुनावो के बाद गहलोत सरकार गिराने की फिर कोशिश हो सकती है! - पायलट समर्थक प्रदेश भर मे किसान महापंचायते आयोजित करके अपना जनसमर्थन बढा रहे है।
उर्दू तालीम और मदरसा तालीम की हिमायत में सुजानगढ़ मे आमसभा हुई। - गहलोत सरकार को ललकारते हुए उप चुनाव में कांग्रेस को हराने का हुआ प्रस्ताव पास ।
इमेज