ग्रैटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कारपोरेशन चुनाव मे टीआरएस को बडा नुकसान व भाजपा को बडा फायदा।

 
             ।अशफाक कायमखानी।
जयपुर।
             ग्रैटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कारपोरेशन के हुये चुनाव के आज आये परिणाम मे टीआरएस बडा दल होने के बावजूद उसको निवर्तमान सदस्य संख्या बल के मुकाबले बडा नुकसान हुवा है। जबकि टीआरएस के मुकाबले भाजपा को बडा फायदा हुवा है। एआईएमआईएम को निवर्तमान सदस्यों के मुकाबले कोई भी नुकसान नही होने के साथ साथ कुल 150 सीटों मे से कांग्रेस मात्र दो सीट जीतकर अपनी पुरानी स्थिति को मुश्किल से बहाल रख पाई है।
          आज ग्रैटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कारपोरेशन के आये परिणाम के अनुसार टीआरएस ने 56 सीट जीती है। जबकि भाजपा ने 48 सीटें जीती है। एआईएमआईएम ने 44 व कांग्रेस ने मात्र 2 सीट जीती है। टीआरएस,भाजपा व कांग्रेस ने सभी सीटो पर उम्मीदवार खड़े किये थे। जबकि एआईएमआईएम ने केवल 51 सीटो पर अपने उम्मीदवार खड़े किये थे।
           ग्रैटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कोरपोरेशन के पीछले चुनावो मे जीतने वाले उम्मीदवारों व आज आये परिणामो पर तुलनात्मक नजर डालते है तो पाते है कि टीआरएस के निवर्तमान सदस्य 99 की जगह अब 56 सदस्य जीतने पर 43 सीटो का नुकसान हुवा है। इसी तरह एआईएमआईएम के 44 सदस्यों के मुकाबले 44 सदस्य जीतने पर एक सीट का नुकसान नही हुवा है। वहीं भाजपा के 3 सदस्यों के मुकाबले अब 48 सदस्य जीतने पर 45 सीटो का फायदा हुवा है। कांग्रेस के पहले दो सदस्य थे ओर अब भी दो सदस्य जीते है।
       अलग अलग दल के खड़े किये गये उम्मीदवारों मे से जीतने वाले उम्मीदवारों को प्रतिशत के आधार पर देखे तो एआईएमआईएम का परिणाम सबसे अच्छा 86.27 प्रतिशत रहा क्योंकि 51 मे से 44 उम्मीदवार विजयी हुये। इसी आधार पर सभी 150 सीटो पर उम्मीदवार खड़े करने वाली टीआरएस, भाजपा व कांग्रेस का जीत का प्रतिशत 33.3, 32.00, व 1.33 रहे है।
             कुल मिलाकर यह है कि ग्रैटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कारपोरेशन चुनाव के मार्फत भाजपा को दक्षिणी भारत मे जाने का रास्ता मिला है। उक्त चुनाव मे कांग्रेस मात्र वोट कटुआ साबित हुई है। जबकि मुश्किल हालात मे भी एआईएमआईएम अपनी जमीन बचाने मे कामयाब रही है। क्षेत्रीय पार्टी टीआरएस को बडा नुकसान हुवा है। उसे अपनी रणनीति बदलने पर विचार करना होगा। अन्यथा आगे जाकर ऊसकी उसकी जमीन खिसक सकती है।

टिप्पणियां
Popular posts
उर्दू व मदरसा पैराटीचर्स की मांगो सहित अन्य महत्वपूर्ण मांगों को लेकर 18-जनवरी को उर्दू शिक्षक संघ मुख्यमंत्री गहलोत का घेराव किया जायेगा।
इमेज
राजस्थान मे गहलोत सरकार के खिलाफ मुस्लिम समुदाय की बढती नाराजगी अब चरम पर पहुंचती नजर आने लगी।
इमेज
जयपुर सम्भाग संगठन प्रभारी विधायक गोविन्द मेघवाल ने आज झूंझुनू एवं सीकर जिलें के कुल 15 नगरपालिकाओं के निकाय चुनाव के कांग्रेस पार्टी के सिम्बल वितरित किये। बीकानेर वरिष्ठ कांग्रेस नेता हाजी सलीम सोढ़ा भी मेघवाल के साथ रहे।
इमेज
पड़ोसी निकला SDM की बहन का हत्यारा:घर में अकेली रह रही सरकारी टीचर की हाथ-पैर बांधकर गला घोंटकर हत्या, लूट के इरादे से घर में घुसा था
इमेज
टोंक के बाद सीकर दौरे पर आये पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के स्वागत समारोह व सभा मे भारी भीड़ उमड़ने से राजनीतिक हलचल बढी।
इमेज