"हुनर हाट", "वोकल फॉर लोकल" थीम के साथ उत्तर प्रदेश के नुमाइश ग्राउंड, रामपुर में 18 से 27 दिसंबर, 2020 और शिल्प ग्राम, लखनऊ में 23 से 31 जनवरी 2021 को आयोजित होगा : मुख्तार अब्बास नकवी



नई दिल्ली, :   तासीन फ़ैयाज़ खान - केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री  मुख्तार अब्बास नकवी ने  बताया कि अगला "हुनर हाट", "वोकल फॉर लोकल" थीम के साथ उत्तर प्रदेश के  रामपुर में  नुमाइश ग्राउंड में , 18 से 27 दिसंबर, 2020 और शिल्प ग्राम, लखनऊ में 23 से 31 जनवरी 2021 को आयोजित होगा।

 नई दिल्ली में मौलाना आजाद एजुकेशन फाउंडेशन की गवर्निंग एवं जनरल बॉडी मीटिंग के बाद श्री नकवी ने कहा कि रामपुर में 18 दिसंबर से आयोजित हो रहे "हुनर हाट" का उद्घाटन केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग और लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग मंत्री श्री नितिन गडकरी और खादी और ग्रामोद्योग आयोग के चेयरमैन श्री विनय कुमार सक्सेना करेंगे।

लखनऊ में 23 जनवरी 2021 से आयोजित होने वाले "हुनर हाट" का उद्घाटन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ करेंगे।   

श्री नकवी ने कहा कि रामपुर एवं लखनऊ में आयोजित हो रहे "हुनर हाट" ई प्लेटफार्म http://hunarhaat.org  पर भी देश-विदेश के लोगों के लिए उपलब्ध रहेगा जहाँ लोग सीधे दस्तकारों, शिल्पकारों, कारीगरों के स्वदेशी सामानों को देख एवं खरीद सकेंगे।

इन "हुनर हाट" में उत्तर प्रदेश, असम, केरल, महाराष्ट्र, गुजरात, पश्चिम बंगाल, मणिपुर, तेलंगाना, कर्नाटक, ओडिशा, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब सहित 27 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के दस्तकार, शिल्पकार अपने शानदार स्वदेशी उत्पादन की प्रदर्शनी एवं बिक्री करेंगे।

श्री नकवी ने कहा कि रामपुर और लखनऊ में आयोजित होने वाले "हुनर हाट" में कोविड दिशानिर्देशों का पूरी तरह से पालन करते हुए, सैनिटाइजेशन, मास्क, साफ़-सफाई आदि की पुख्ता व्यवस्था की गई है।

श्री नकवी ने कहा कि रामपुर और लखनऊ में आयोजित हो रहे "हुनर हाट" में जहाँ एक ओर दस्तकारों, शिल्पकारों, कारीगरों के हस्तनिर्मित उत्पादन आकर्षण का केंद्र होंगे वहीँ "हुनर हाट" के बावर्चीखाने सेक्शन में देश भर के पारम्परिक व्यंजनों का भी लोग लुत्फ़ उठा सकेंगे, साथ ही हर दिन देश के अलग-अलग भागों के "जान भी जहान भी" शीर्षक से गीत-संगीत के कार्यक्रम भी होंगे।  

श्री नकवी ने कहा कि "हुनर हाट", प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के "वोकल फॉर लोकल" के आह्वाहन को साकार करने के साथ ही "आत्मनिर्भर भारत" मिशन को मजबूत करने का प्रभावी मिशन साबित हो रहा है।  

श्री नकवी ने कहा कि पिछले 6 वर्षों में 5 लाख से ज्यादा भारतीय दस्तकारों, शिल्पकारों को रोजगार-रोजगार के अवसर प्रदान करने वाले "हुनर हाट" के दुर्लभ हस्तनिर्मित स्वदेशी सामान लोगों में काफी लोकप्रिय हुए हैं। देश के दूर-दराज के क्षेत्रों के दस्तकारों, शिल्पकारों, कारीगरों, हुनर के उस्तादों को मौका-मार्किट देने वाला "हुनर हाट" स्वदेशी हस्तनिर्मित उत्पादनों का "प्रामाणिक ब्रांड" बन गया है।

आने वाले दिनों में "हुनर हाट" का आयोजन जयपुर, चंडीगढ़, इंदौर, मुंबई, हैदराबाद, नई दिल्ली (इंडिया गेट), रांची, कोटा, सूरत/अहमदाबाद, कोच्चि आदि स्थानों पर होगा।   इन "हुनर हाट" की तिथि जल्द ही तय कर दी जाएगी।

टिप्पणियां