राजस्थान प्रभारी व कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अजय माकन से शरीफ के नेतृत्व मे मुस्लिम प्रोग्रेसिव फोरम का प्रतिनिधिमंडल खासा कोठी मे मिला।



जयपुर।
              राजस्थान मुस्लिम प्रोग्रेसिव फोरम का एक प्रतिनिधिमंडल आज खासा कोठी जयपुर मे मोहम्मद शरीफ की अगुवाई मे शिक्षा मंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद डोटासरा की मोजूदगी मे राजस्थान प्रभारी व कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अजय माकन से मिलकर विभिन्न मांगो को लेकर शिक्षक शमशेर भालूखां की पैदल दांडी यात्रा व मदरसा पैराटीचर्स के स्थाईकरण के साथ साथ अल्पसंख्यक भाषाओ के खिलाफ हो रहे षडयंत्रों को लेकर एक ज्ञापन उनको देकर शीघ्रता से हल निकालने की मांग की।
              शरीफ ने अजय माकन को शमशेर की दांडी यात्रा की गम्भीरता की वास्तविक स्थिति से अवगत करवाते हुये कहा कि सरकार की बेरुखी से समाज मे रोस पनपने व अभी तक सरकार की तरफ से किसी भी स्तर पर इस मामले मे बातचीत नही करना दुखदायक है। शरीफ ने हाल ही मे चार नगमनिगम मे कांग्रेस के मेयर बनने मे किसी भी मुस्लिम को मेयर नही बनाने का मुद्दा भी माकन के सामने जब उठाया तो माकन ने कहा कि उन्होंने डिप्टी मेयर मुस्लिम को बनाया है। इस पर शरीफ ने माकन को कहा कि उन्हें डिप्टी मेयर नही चाहिए उन्हें मेयर चाहिए। ऐसा नही करने से मुस्लिम समुदाय मे कांग्रेस के प्रति गलत संदेश जा रहा है।
             कुल मिलकर यह है कि राष्ट्रीय महासचिव अजय माकन से आज खासा कोठी मे मिले मुस्लिम समुदाय के प्रतिनिधि मंडल को माकन बडे हलके मे लेते नजर आये। उन्होंने यह तो कहा कि उर्दू व पैराटीचर्स की मांगो पर विचार करेगे लेकिन वो अन्य मांगो पर बचते हुये प्रतिनिधिमंडल की पूरी बात बीना सूने  ही कार मे बैठकर रवाना हो गये।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
मुस्लिम समुदाय की नाराजगी से राजस्थान के पंचायत चुनाव मे कांग्रेस को मुश्किलातों का सामना करना पड़ सकता है।