सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

राजस्थान के चूरू के जिला जेल में बैरक की तलाशी के दौरान कैदियों ने जमकर हंगामा किया. कैदियों के दो गैंग एक दूसरे से भीड़ गए।

चूरू (राजस्थान)।. 
              राजस्थान के चूरू के जिला जेल में उस वक्त हड़कम्प मच गया जब जेल में बंद हार्डकोर कैदी आपस में भीड़ गए. बर्तनों से धारदार हथियार बनाकर कैदियों ने एक दूसरे पर हमला कर दिया और जेल में तोडफोड शुरू कर दी. हालात जेल प्रसाशन के काबू से बाहर होते देखकर जेल अधीक्षक ने मामले की जानकारी जिला कलेक्टर और एसपी को दी. इसके बाद चार थानों के पुलिस जत्थे के साथ एएसपी योगेंद्र फौजदार और सहायक पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र इन्दोलिया जिला जेल पहुंचे और उग्र हुए कैदियों से सख्ती से पेश आते हुए मामला शांत करवाया.
जेल में बंद कैदियों ने जेल परिसर में ही स्थित डिस्पेंसिरी के शीशे तोड़ दिए और जिस थाली में खाना परोस के दिया जाता है उसी स्टील की थाली को धारधार हथियार बना हमला करने लगे. बहरहाल, जेल प्रसाशन हंगामा करने वाले सभी हार्डकोर बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज करवाने की तैयारी कर रहा है.


तलाशी के दौरान मारपीट
जिला जेल में गुरुवार को यह हालत उस वक्त बिगड़े जब हमेशा की तरह ही सुबह कैदियों की बैरक में तलाशी का अभियान शुरू किया गया था. इन सभी कैदियों को बेरिक से बाहर निकाला गया. उसी वक्त हार्डकोर कैदियों की जेल में बनी दो गैंग एक दूसरे से भीड गई. गनीमत रही कि इस हमले में किसी के गम्भीर चोट नहीं आई.


जोधपुर में अपहरण
इधर, जोधपुर शहर में तस्करी की अफीम को लेकर पांच युवकों का अपहरण कर लिया गया. बाद में दो युवकों की हत्या कर उनके तीन साथियों को मारपीट कर घायल कर दिया. हत्यारे युवकों के शवों को शहर के बासनी इलाके में फेंककर फरार हो गये. वारदात के शिकार हुये युवक भी तस्करी के धंधे से जुड़े हुये थे. वारदात के बाद इलाके में सनसनी फैल गई. घायलों का जोधपुर के एमडीएम अस्पताल में इलाज चल रहा है. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है, लेकिन उनका अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है.


पुलिस के अनुसार मणिपुर से आई अफीम की खेप को लेकर बुधवार को जिले के डांगियावास इलाके से पांच युवकों का अपहरण कर लिया गया. आरोपी दो गाड़ियों में सवार होकर आये थे. उनकी संख्या 8 से 10 बताई जा रही है. आरोपियों ने युवकों को अगवा कर उनसे मणिपुर से लाई गई अफीम लूट ली. उसके बाद उनमें से दो युवकों महेंद्र बोयल और भैराराम डूडी की हत्या कर दी गई. आरोपी उनके शव जोधपुर में बासनी इलाके में अलग अलग स्थानों पर फेंककर फरार हो गए. उनके तीन साथियों को मारपीट कर पटक गये. उन्हें घायल अवस्था मे एमडीएम अस्पताल भर्ती करवाया गया है.


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वक्फबोर्ड चैयरमैन डा.खानू की कोशिशों से अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये जमीन आवंटन का आदेश जारी।

         ।अशफाक कायमखानी। चूरु।राजस्थान।              राज्य सरकार द्वारा चूरु शहर स्थित अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये बजट आवंटित होने के बावजूद जमीन नही होने के कारण निर्माण का मामला काफी दिनो से अटके रहने के बाद डा.खानू खान की कोशिशों से जमीन आवंटन का आदेश जारी होने से चारो तरफ खुशी का आलम देखा जा रहा है।            स्थानीय नगरपरिषद ने जमीन आवंटन का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजकर जमीन आवंटन करने का अनुरोध किया था। लेकिन राज्य सरकार द्वारा कार्यवाही मे देरी होने पर स्थानीय लोगो ने धरने प्रदर्शन किया था। उक्त लोगो ने वक्फ बोर्ड चैयरमैन डा.खानू खान से परिषद के प्रस्ताव को मंजूर करवा कर आदेश जारी करने का अनुरोध किया था। डा.खानू खान ने तत्परता दिखाते हुये भागदौड़ करके सरकार से जमीन आवंटन का आदेश आज जारी करवाने पर क्षेत्रवासी उनका आभार व्यक्त कर रहे है।  

नूआ का मुस्लिम परिवार जिसमे एक दर्जन से अधिक अधिकारी बने। तो झाड़ोद का दूसरा परिवार जिसमे अधिकारियों की लम्बी कतार

              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             राजस्थान मे खासतौर पर देहाती परिवेश मे रहकर फौज-पुलिस व अन्य सेवाओं मे रहने के अलावा खेती पर निर्भर मुस्लिम समुदाय की कायमखानी बिरादरी के झूंझुनू जिले के नूआ व नागौर जिले के झाड़ोद गावं के दो परिवारों मे बडी तादाद मे अधिकारी देकर वतन की खिदमत अंजाम दे रहे है।            नूआ गावं के मरहूम लियाकत अली व झाड़ोद के जस्टिस भंवरु खा के परिवार को लम्बे अर्शे से अधिकारियो की खान के तौर पर प्रदेश मे पहचाना जाता है। जस्टिस भंवरु खा स्वयं राजस्थान के निवासी के तौर पर पहले न्यायीक सेवा मे चयनित होने वाले मुस्लिम थे। जो बाद मे राजस्थान हाईकोर्ट के जस्टिस पद से सेवानिवृत्त हुये। उनके दादा कप्तान महमदू खा रियासत काल मे केप्टन व पीता बक्सू खां पुलिस के आला अधिकारी से सेवानिवृत्त हुये। भंवरु के चाचा पुलिस अधिकारी सहित विभिन्न विभागों मे अधिकारी रहे। इनके भाई बहादुर खा व बख्तावर खान राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी रहे है। जस्टिस भंवरु के पुत्र इकबाल खान व पूत्र वधु रश्मि वर्तमान मे भारतीय प्रशासनिक सेवा के IAS अधिकारी है।              इसी तरह नूआ गावं के मरह

लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

       लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार। 9 में से 4 लोग को पुलिस ने किया गिरफ्तार। सीसीटीवी और सर्विलांस के जरिए उन तक पहुंची पुलिस। नमाज अदा करने वालों में मोहम्मद रेहान पुत्र मोहम्मद रिजवान निवासी खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर , लखनऊ। दूसरा आतिफ खान पुत्र मोहम्मद मतीन खान थाना मोहम्मदी जिला लखीमपुर मौजूदा पता खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। तीसरा मोहम्मद लुकमान पुत्र मनसूर अली मूल पता लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। मोहम्मद नोमान निवासी लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। पकड़े गए चार लड़कों में सीतापुर के रहने वाले दोनों सगे भाई निकले। लखनऊ में एक ही मोहल्ले में रहने वाले चारों लड़कों ने  पढ़ी थी लुलु मॉल में एक साथ जाकर नमाज।    अबरार नगर, खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर के रहने वाले हैं चारों लड़के। सुशांत गोल्फ सिटी पुलिस ने लूलू मॉल में बिना अनुमति नमाज पढ़ने वालों को किया गिरफ्तार।।