हनीट्रैप में जासूसी करने का आरोपी रामनिवास गौरा गिरफ्तार , पाकिस्तानी खुफिया को देता था सूचना

 


जयपुर  अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस (इन्टैलीजेन्स) उमेश मिश्रा के निर्देशानुसार पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी द्वारा छदम नाम से संचालित सोशल मिडिया अकाउन्ट पर सम्पर्क में रहते हुए भारतीय सेना से सम्बंधित सामरिक महत्व की सूचना भेजने में लिप्त संदिग्ध रामनिवास गौरा पुत्र पांचूराम गौरा, उम्र-28 वर्ष, निवासी-बाजवास, परबतसर नागौर हाल चालक (भारतीय सशस्त्र सेनाएं सिविलियन) कार्यालय निवारू जयपुर में कार्यरत को समस्त आसूचना एजेंसियों द्वारा पूछताछ करने पर जासूसी गतिविधियों में लिप्त पाये जाने पर सीआईडी विशेष शाखा जयपुर के स्पेशल पुलिस स्टेशन पर शासकीय गुप्त बात अधिनियम 1923 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है।
     गिरफ्तार युवक पिछले वर्षों से जासूसी गतिविधियों में सक्रिय था, जिस पर उच्चाधिकारियों के निर्देशन पर खुफिया तौर से निगरानी रखी जा रही थी जिसके बाद निर्देशानुसार रामनिवास गौरा को पूछताछ हेतु तलब कर पूछताछ की गयी थी। पूछताछ पर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी द्वारा छदम नाम से संचालित सोशल मिडिया अकाउंन्ट पर सम्पर्क में रहते हुए भारतीय सेना से सम्बंधित सामरिक महत्व की सूचना भेजना एवं भेजी गई सूचनाओं की एवज में धनराशि प्राप्त करने हेतु अपने बैंक खातों की डिटेल पाकिस्तानी हैण्डलिंग अफसर को शेयर कर धनराशि की मांग कर रहा था।


टिप्पणियां