पोता ही निकला दादी का हत्यारा, दो दिन पहले हमेरपुर चौकी मे हुई 80 वर्षीय वृद्धा की हत्या का 24 घन्टे मे खुलासा


प्रतापगढ़ । दो दिन पहले थाना छोटीसादड़ी इलाके के हमेरपुर चौकी क्षेत्र मे हुई वृद्धा की हत्या का 24 घन्टे मे खुलासा कर पुलिस ने हत्यारोपी मृतका के पोते प्रेम चन्द पुत्र राम चन्द्र मीणा (25) को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित के पास से मृतका की दो चांदी की कडिया व घटना मे प्रयुक्त लोहे की बिजणी बरामद की गई है। 
     पुलिस अधीक्षक चुना राम जाट ने बताया कि मकान में अकेली रह रही हमेरपुर चौकी निवासी 80 वर्षीय वृद्धा श्रीमती फूली बाई की 14 अक्टूबर की रात अज्ञात व्यति गला दबा हत्या कर पांव में पहने चान्दी के कड़े लूट कर ले गए। अगले दिन वृद्धा के दत्तक पुत्र राम चन्द्र मीणा की रिपोर्ट पर थाना छोटी सादड़ी में मुकदमा दर्ज कर मेडीकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया जाकर लाश परिजनों को अन्तिम संस्कार हेतु सुपुर्द की गई। घटना की गंम्भीरता को देखते हुए एएसपी अशोक कुमार मीणा व सीओ परबत सिह जैतावत के सुपरविजन मे थानाधिकारी छोटीसादड़ी रविन्द्र प्रताप सिह के नेतृत्व मे टीम गठित की गई।
      गठित टीम के कांस्टेबल जय सिह व मान सिह ने आसूचना संकलन कर परिवादी राम चन्द्र के बेटे प्रेम चन्द पर हत्या का शक जताया। टीम ने रामचन्द्र से पूछताछ की तो उसने बताया प्रेम चन्द्र पोस्टमार्टम कराने के बाद घर नही आया तथा दादी के दाह संस्कार में भी नही पहंचा,फोन भी बन्द आ रहा है। इसके बाद पुलिस टीम ने पोते प्रेमचन्द मीणा को जलोदा जागीर से डिटेन कर लिया। पूछताछ में प्रेम चन्द ने दादी की हत्या करना स्वीकार कर लिया। 
पत्नी की दवाई के लिए दादी ने पैसे नही दिए तो गुस्से में आकर कर दी हत्या, पैर से निकाले चांदी के कड़े
आरोपित ने बताया तीन चार महीनों से वह घर पर ही था तथा छोटी मोटी मजदुरी करता था। उसकी पत्नी की तबीयत अक्सर खराब रहती थी। घटना के दिन पत्नी की दवाई लेने जाना था पर उसके पास मे पैसे नही थे। दादी से पैसे मांगे तो उन्होंने मना कर दिया। गुस्से की वजह से नींद नही आई और रात को एक बज गया। रात को दादी के कमरे का दरवाजा खुला था, वह घर मे गया..गला दबा कर दादी की हत्या कर दी और लोहे के खापे से दोनों पैरों की कड़ियाँ निकाल ली


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
एआईएमआईएम के राजस्थान आने से पहले कांग्रेस नेताओं मे बोखलाहट। राजस्थान मीडिया मे आवेसी को लेकर बहस व लेख लिखने शुरु।
चित्र