कैबिनेट मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी का बयान हाथरस मामले के दोषियों को ऐसी सज़ा मिलेगी के नज़ीर होगी...


रामपुर : उत्तर प्रदेश का हाथरस जहां एक युवती की रेप के बाद हत्या कर दी इस हत्या से पूरे देश में कोहराम मचा है इस घिनौने अपराध की सभी लोग निंदा कर रहे हैं और आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त सजा दिलाने की लिए मांग कर रहे हैं वही अपने तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे कैबिनेट मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा जिस तरह का घिनौना अपराध है उस अपराध की कठोर से कठोर सजा मिलेगी और यह एक नजीर होगी...


यूपी के जनपद रामपुर में अपने तीन दिवसीय दौरे पर रामपुर पहुंचे कैबिनेट मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने अपने आवास पर मीडिया से बात की मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा यह बहुत दुखद घटना है दुर्भाग्यपूर्ण घटना है इस तरह के वहशी दरिंदों को बहुत मजबूती के साथ योगी सरकार सज़ा  देगी और ऐसी सजा देगी जो नजीर बनेगी एक्शन स्पीक लोडर देन वाई जो एक्शन है वह शब्दों से ज्यादा प्रभावी दिखाई पड़ेगा उसकी चिंता मत करिए मुझे ऐसा लगता है ऐसे संवेदनशील मुद्दे पर पॉलिटिकल ब्लेम करना राजनीतिक पर्यटन करना पर्यटन के साथ-साथ पाखंड करना यह कतई ठीक नहीं है किसी के लिए भी हमारी पार्टी हो किसी और की भी पार्टी हो और बहुत से मौके होंगे जो पॉलिटिकल पर्यटन कर सकते हैं लेकिन अपनी जो ऊसर जमीन है उस उसर जमीन पर उपजाऊ बनाने के लिए ऐसे संवेदनशील मुद्दों का सहारा लेना कतई ठीक नहीं है पत्रकारों पर हुए लाठीचार्ज पर केंद्रीय मंत्री ने कहा हमने कहा ना जो भी गुनहगार है उसको सजा मिलेगी इसकी चिंता सभी समाज के तबकों को है और सरकार को सबसे ज्यादा है



टिप्पणियां
Popular posts
डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के विरोध में एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन
इमेज
उर्दू तालीम और मदरसा तालीम की हिमायत में सुजानगढ़ मे आमसभा हुई। - गहलोत सरकार को ललकारते हुए उप चुनाव में कांग्रेस को हराने का हुआ प्रस्ताव पास ।
इमेज
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से कांग्रेस विधायक एक एक करके दूर होने लगे!
इमेज
राजस्थान के चार विधानसभा उपचुनाव मे कांग्रेस का गहलोत-पायलट के मध्य का अंदरुनी झगड़ा नुकसान पहुंचायेगा। - मुस्लिम युवाओं की गहलोत सरकार से नाराजगी भी संकट खड़ा करेगी। - भाजपा उम्मीदवारों की घोषणा के बाद भाजपा की मजबूती का ठीक से आंकलन होगा।
किसान महापंचायतों के बहाने कांग्रेस चारो उपचुनाव को साधना चाह रही है।