बजरी अवैध खनन, परिवहन, भण्डारण के विरुद्ध अभियान अब 13 जिलों में

 


जयपुर 23 अक्टूबर। खान मंत्री श्री प्रमोद जैन भाया ने बताया है कि राज्य में बजरी के अवैध खनन, परिवहन और भण्डारण के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान का दायरा बढ़ाते हुए बाड़मेर, जालोर और सिरोही जिले को भी शामिल कर लिया गया उन्होंने बताया कि जिला कलक्टर के निर्देशन में राजस्व, वन, परिवहन, पुलिस और खान विभाग की संयुक्त टीम द्वारा अब राज्य के 13 जिलों में अभियान का संचालन किया जा रहा है। अब यह अभियान जयपुर, धौलपुर, जोधपुर, उदयपुर, राजसमंद, चित्तोड़गढ़, भीलवाड़ा, टोंक, सवाई माधोपुर, पाली, बाड़मेर, जालौर, सिरोही में संचालित किया जा रहा है।


श्री भाया ने बताया कि अभियान में शिथिलता के चलते धौलपुर के माइनिंग इंजीनियर को आदेशों की प्रतीक्षा (एपीओ) कर सहायक खनि अभियंता को चार्ज दिया गया है। अभियान की अब तक की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए श्री भाया ने कहा कि समन्वित प्रयासों से अभियान के अपेक्षानुसार परिणाम प्राप्त हो रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि राज्य सरकार अवैध बजरी खनन, परिवहन और भण्डारण पर के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए प्रतिबद्ध है और उसी का परिणाम है कि एक साथ 13 जिलों में जिला कलक्टर के निर्देशन में संबंधित विभागों व पुलिस प्रशासन की सहभागिता से अभियान का संचालन हो रहा है।


एसीएस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि सचिवालय में उच्चस्तरीय बैठक लेते हुए सभी जिलों की प्रगति समीक्षा की। उन्होंने बताया कि अभियान के तहत 22 अक्टूबर तक बजरी के अवैध खनन, परिवहन और भण्डारण के 207 मामलें सामने आए हैं। पुलिस में 89 प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करवाई गई हैं वहीं 25 लाख 54 हजार रूपये की राशि वसूली गई है। उन्होंने बताया कि संयुक्त अभियान के दौरान मौके पर 36 हजार 287 टन बजरी जब्त करने के साथ ही राज्य में अभियान के दौरान पोकलेन, ट्रेक्टर आदि सहित 144 वाहन-मशीनरी की जब्ती की गई है।


डॉ. अग्रवाल ने बताया कि अभियान के दौरान 58 मामलें भीलवाड़ा में सामने आए हैं। वहां पुलिस में 50 एफआईआर दर्ज कराई जा चुकी है। 19089 टन बजरी की जब्ती के साथ ही भीलवाड़ा में 25 वाहन-मशीनरी जब्त की गई है। जयपुर में 31 मामलें सामने आए हैं, जयपुर में 3150 टन बजरी जब्ती के साथ ही 29 वाहन-मशीनरी जब्त की गई है। वाहन-मशीनरी में टोंक में 25, चित्तोड़गढ़ में 5, राजसमंद में 14, सवाई माधोपुर में 18, धौलपुर में 1, जोधपुर में 15, उदयपुर में 7, पाली में 3 और सिरोही में 2 वाहन-मशीनरी जब्त की गई है। इसी तरह से टोंक में 3820, चित्तोड़गढ़ में 3320, राजसमंद में 930, सवाई माधोपुर में 5050, धौलपुर में 200, जोधपुर में 120, उदयपुर में 140 टन बजरी जब्त की गई है।


एसीएस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि अभियान के दौरान एक सप्ताह में लगभग 25 लाख 54 हजार की वसूली की है जिसमें जोधपुर में सर्वाधिक 17 लाख 50 हजार, उदयपुर में 5 लाख 23 हजार व राजसमंद में 2 लाख 79 हजार से अधिक की वसूली की गई है। पुलिस में सर्वाधिक 58 एफआईआर भीलवाड़ा में दर्ज की गई हैं वहीं जयपुर में 1, टोंक में 19, चित्तोड़गढ़ में 7, राजसमंद में 4, सवाईमाधोपुर में 2, जोधपुर में 3, उदयपुर में 2 और पाली में एक एफआईआर दर्ज कराई गई है।


निदेशक माइंस श्री केबी पाण्ड्या ने बताया कि बजरी के अवैध खनन, परिवहन और भण्डारण के खिलाफ राज्य में जिला कलक्टर के निर्देशन में 15 अक्टूबर से अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि माइंस, राजस्व, वन, परिवहन और पुलिस विभाग द्वारा संयुक्त रुप से चलाया जा रहा अभियान 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा। अभियान की नियमित मोनेटरिंग की जा रही है। बैठक में संयुक्त सचिव माइंस श्री ओम कसेरा, अतिरिक्त निदेशक खान विजिलेंस उदयपुर श्री एनके कोठारी, टीए श्री सतीश आर्य, ओएसडी श्री संजय दुबे व माइंस विभाग जयपुर व उदयपुर के अधिकारी भी उपस्थित रहे।


टिप्पणियां
Popular posts
राजस्थान मे एआईएमआईएम की दस्तक से राजनीतिक हलचल बढी। कांग्रेस से जुड़े नेताओं मे बेचैनी। - उपचुनाव मे एआईएमआईएम के गठबंधन के उम्मीदवार खड़े करने को लेकर कयास लगने लगे।
इमेज
डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के विरोध में एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन
इमेज
एल पी एस निदेशक नेहा सिंह व हर्षित सिंह सम्मानित किये गये
इमेज
किसान महापंचायतों के बहाने कांग्रेस चारो उपचुनाव को साधना चाह रही है।
आसाम-बंगाल आम चुनावो के साथ राजस्थान के होने वाले चार उपचुनावो के बाद गहलोत सरकार गिराने की फिर कोशिश हो सकती है! - पायलट समर्थक प्रदेश भर मे किसान महापंचायते आयोजित करके अपना जनसमर्थन बढा रहे है।