अमेरिका को एक ऐसे राष्ट्रपति की जरूरत है, जो लोगों की गरिमा को समझे : कमला हैरिस

वाशिंगटन, ::  अमेरिकी चुनाव में डेमोक्रे​टिक पार्टी की उप राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस ने बुधवार को कहा कि देश के पास एक ऐसा राष्ट्रपति होना चाहिये जो लोगों की गरिमा को समझे और राष्ट्र का इस तरह नेतृत्व करे की वह अपनी प्रतिष्ठा वापस हासिल कर सके और अपने आदर्शों के करीब आए।


निधि एकत्र करने के ऑनलाइन आयोजित किए गए एक कार्यक्रम में हैरिस ने कोविड-19 महामारी से निपटने के तौर-तरीकों और अर्थव्यवस्था में आयी गिरावट के लिये अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को आड़े हाथों लिया।


हैरिस ने कहा ‘‘ हमें एक ऐसे राष्ट्रपति और नेतृत्व की जरूरत है, जो लोगों की गरिमा को समझे और देश को उस दिशा में ले जाएं जहां हम अपनी प्रतिष्ठा वापस हासिल कर सकें और अपने आदर्शों के करीब आएं।’’


उन्होंने कहा, कि वे इस बात को मानते हैं कि देश में 80 लाख से अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं.. लेकिन स्थिति ऐसी नहीं होनी चाहिए थी। अमेरिकियों के स्वास्थ्य को बनाए रखना राष्ट्रपति की प्राथमिकता होनी चाहिए थी, लेकिन वह अब भी वास्तविकता, इस वायरस की गंभीरता और मास्क पहनने की आवश्यकता को नजरअंदाज कर रहे हैं।


हैरिस ने कहा, ‘‘ हम जन स्वास्थ्य संकट और आर्थिक संकट के दौर में हैं जिसकी तुलना महामंदी से की जा रही है।' अन्य एक कार्यक्रम में हैरिस ने देशवासियों से अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने की अपील भी की।


अमेरिका में तीन नवम्बर को राष्ट्रपति चुनाव है। हैरिस को मुकाबला उप राष्ट्रपति माइक पेंस से है।


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
राजस्थान मे एआईएमआईएम की दस्तक से राजनीतिक हलचल बढी। कांग्रेस से जुड़े नेताओं मे बेचैनी। - उपचुनाव मे एआईएमआईएम के गठबंधन के उम्मीदवार खड़े करने को लेकर कयास लगने लगे।
इमेज
सांसद असदुद्दीन आवेसी की एआईएमआईएम व पोपुलर फ्रंट के प्रभाव से मुकाबले को लेकर कांग्रेस ने राजस्थान मे अपनी मुस्लिम लीडरशिप व संस्थाओं को आगे किया।
राजस्थान वक्फ बोर्ड का आठ मार्च को कार्यकाल पूरा होने को है, लेकिन सदस्यों के लिये चुनावी प्रक्रिया अभी शुरु नही हुई। - नये चुनाव के लिये सरकारी स्तर पर हलचल पर प्रशासक लगने के चांसेज अधिक बताये जा रहे है।
इमेज
लखनऊ पब्लिक स्कूल की स्थानीय शाखा में छात्र-छात्राओं एवं उनके माता-पिता व अभिभावकों के साथ काउंसलिंग संपन्न हुई।
इमेज