पढऩे के लिए किराये पर लिये मकान से संदिग्ध अवस्था में मिले छह महिला- पुरुष*


 


*सीकर:* शहर में एक मकान से संदिग्ध अवस्था में तीन पुरुष व महिला पकड़े जाने का मामला सामने आया है। सिटी डिस्पेन्सरी नंबर दो के पास ये एक किराये के मकान में मिले। जिनकी नजदीकी लोगों ने शिकायत की थी। कोतवाली पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है। एसआई विजेंद्र सिंह ने बताया कि मामले में मकान मालिक इस्लाम उर्फ मुन्ना पुत्र युसुफ कच्छावा, गोगामेड़ी के पास निवासी प्रेमप्रकाश सैनी पुत्र द्वारका प्रसाद सैनी, दीनवा लक्ष्मणगढ़ निवासी कैलाशचंद सैनी उर्फ राजा सैनी पुत्र आशाराम सैनी, रेशमा उर्फ लक्ष्मी पुत्री जगदीश बर्मण निवासी बीरसपुरा पन्ना मध्यप्रदेश हाल कालकाजी दिल्ली, माहदुन खान उर्फ गुडिय़ा पत्नी युसुफ खान निवासी परगना पश्चिम बंगाल, संगीता पत्नी आनंद निवासी गोविंदपुरी दिल्ली को गिरफ्तार किया है।पड़ौसी ने की शिकायत पुलिस ने बताया कि पकड़ी गई महिलाएं पिछले कुछ दिनों से मकान में आकर रूकी हुई थी। पड़ोस के लोगों ने उनकी गतिविधियों को संदिग्ध मानते हुए उनकी शिकायत की थी। इस पर पुलिस की टीम ने मौके पर जाकर उनसे पूछताछ की। इस पर वे कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए। पुलिस की टीम पहुंची तो पुलिसकर्मियों से ही उलझने लग गए। इस पर पुलिस उन्हें पकड़कर कोतवाली थाने ले आई। जहां उन्हें 151 में गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। जांच में इनके पास से कोई सामान भी बरामद नहीं हुआ है।पढ़ाई के लिए लिया था कमरा जांच में पता लगा है कि जिस मकान में छहों संदिग्ध पकड़े गए हैं उसे दो युवकों ने पढ़ाई के नाम पर किराये पर लिया था। पड़ोस के लोगों ने बताया कि मकान में लड़के व लड़कियां का आना-जाना लगा रहता है। लोगों ने बताया कि पुलिस के पहुंचने से पहले एक युवक व महिला फरार हो गई थी।


टिप्पणियां
Popular posts
डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के विरोध में एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन
इमेज
उर्दू तालीम और मदरसा तालीम की हिमायत में सुजानगढ़ मे आमसभा हुई। - गहलोत सरकार को ललकारते हुए उप चुनाव में कांग्रेस को हराने का हुआ प्रस्ताव पास ।
इमेज
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से कांग्रेस विधायक एक एक करके दूर होने लगे!
इमेज
राजस्थान के चार विधानसभा उपचुनाव मे कांग्रेस का गहलोत-पायलट के मध्य का अंदरुनी झगड़ा नुकसान पहुंचायेगा। - मुस्लिम युवाओं की गहलोत सरकार से नाराजगी भी संकट खड़ा करेगी। - भाजपा उम्मीदवारों की घोषणा के बाद भाजपा की मजबूती का ठीक से आंकलन होगा।
आसाम-बंगाल आम चुनावो के साथ राजस्थान के होने वाले चार उपचुनावो के बाद गहलोत सरकार गिराने की फिर कोशिश हो सकती है! - पायलट समर्थक प्रदेश भर मे किसान महापंचायते आयोजित करके अपना जनसमर्थन बढा रहे है।