मास्क नहीं लगाने पर 2 लाख 48 हजार लोगों का चालान 

 


जयपुर, 7 सितम्बर। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सार्वजनिक स्थलों पर मास्क नहीं लगाने पर 2 लाख 48 हजार, बिना मास्क पहने लोगों को सामान बेचने पर 12 हजार 542 सोषल डिस्टेन्सिग नहीं रखने पर 3 लाख 77 हजार 415 व्यक्तियों के चालान किये गये है।
     महानिदेशक पुलिस श्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लागू राजस्थान एपिडेमिक अध्यादेश के तहत अब तक 6 लाख 40 हजार से अधिक व्यक्तियों का चालान कर 9 करोड 45 लाख रूपये से अधिक का जुर्माना वसूल किया जा चुका है।  


 एमवी एक्ट में 9 लाख 20 हजार वाहनों का चालान 


निषेधाज्ञा तथा क्वारंटाईन मापदण्डों का उल्लघंन करने पर 3 हजार 644 एफआईआर दर्ज कर अब तक 8 हजार 59 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। निषेधाज्ञा व एमवी एक्ट के तहत 9 लाख 20 हजार 116 वाहनों का चालान एवं 1 लाख 65 हजार 519 वाहनों को जब्त किया गया एवं करीब 16 करोड़ 63 लाख रुपये से अधिक जुर्माना वसूल किया जा चुका है।


 सीआरपीसी प्रावधान में 26 हजार 765 गिरफ्तार 


      श्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि प्रदेश में 26 हजार 765 व्यक्तियों को सीआरपीसी के प्रावधानों के तहत शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने सोशल मीडिया के दुरुपयोग के मामलों में अब तक 219  मुकदमे दर्ज कर 301 असामाजिक तत्वों के खिलाफ अभियोग दर्ज किया है एवं 230 को गिरफ्तार किया गया है। 


 गाइडलाइन्स की अनुपालना करें 


महानिदेषक पुलिस ने आमजन से चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी गाइडलाइंस की अनुपालना करने, मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिग रखने एवं हाथ धोने के प्रति विशेष सतर्कता बरतने का आग्रह किया है। उन्होने बताया कि कोरोना सक्रंमण की रोकथाम के लिए इन दिषार्निदषों की अनुपालना नहीं करने वालो के विरूद्व नियमानुसार कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
एआईएमआईएम के राजस्थान आने से पहले कांग्रेस नेताओं मे बोखलाहट। राजस्थान मीडिया मे आवेसी को लेकर बहस व लेख लिखने शुरु।
चित्र