लाईफ इन्श्योरेंस पॉलिसी के नाम पर करोड़ो की ठगी करने वाले गिरोह के मास्टर माइंड समेत 6 आरोपी गिरफ्तार -  राजसमन्द के व्यक्ति से 85 लाख व भीलवाड़ा के व्यक्ति से ठगे करीब 1 करोड़

 राजसमन्द 07 सितम्बर। इन्श्योरेंस पॉलिसी कराने व एजेंट बन लोगों की पॉलिसी करने पर मोटा कमीशन व अन्य लुभावने ऑफर देकर लोगों से करोड़ों की ठगी करने वाले मास्टर माइण्ड समेत गिरोह के 6 ठगों को थाना राजनगर पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। जिनसे इस तरह की धोखाधडी और कितने लोगो के साथ की गई,के बारे मे पुछताछ जारी है।
     एसपी राजसमन्द भुवन भूषण यादव ने बताया कि गिरफ्तार मोहम्मद जावेद पुत्र मोहम्मद मुबीन (31), रवि कुमार पुत्र मुन्ना शाह (32), राहुल गर्ग पुत्र निरंजन प्रसाद (33), गौरव बंसल पुत्र राम प्रताप (31), संजय चौधरी पुत्र केहर सिंह चौधरी (31) तथा सोनू बघेल पुत्र भगवान सिंह, दिल्ली के विभिन्न इलाकों के रहने वाले है। गिरोह का मास्टर माईण्ड जावेद है जो अपने साथियो के साथ मिलकर फर्जी सिम कार्ड से अलग-अलग व्यक्ति बनकर लोगो का कॉल करते है। उन्हे विभिन्न पॉलिसियो के लुभावने प्रलोभन देकर उनसे अलग- अलग बैक खातो में पैसे ट्रान्सफर करवा लेते है। सोनू खाता अरेन्ज करता था, जिसका उसे 7 प्रतिशन कमीशन मिलता था। ठगी की रकम पांचों के बैंक खातों में होती हुई अंत मे जावेद के पास जाती। जावेद सबका कमीशन सोनू के मार्फत देता। 
     एसपी यादव ने बताया कि 31 अगस्त को थाना राजनगर निवासी नरेन्द्र प्रकाश जैन ने उनके सम्मुख एक रिपोर्ट पेश की जिसके अनुसार इन्श्योरेंस पॉलिसी कराने व एजेंट बन लोगों की पॉलिसी करने पर विभिन्न प्रकार के लुभावने ऑफर देकर उससे 2017 से अब तक 85 लाख रूपये की ठगी की गई है। इस पर थाना राजनगर पर मुकदमा दर्ज कर एएसपी राजेश गुप्ता के निर्देशन, सीओ गोपाल सिह भाटी के सुपरविजन में प्रशिक्षु आरपीएस नोपा राम व थानाधिकारी प्रवीण टांक के नेतृत्व में टीमे गठित कर टीमे दिल्ली रवाना की गई। गठित टीम छहों ठगों को दिल्ली से डिटेन कर राजनगर थाने लेकर आई। प्रारम्भिक पूछताछ में राजनगर के केस के अलावा भीलवाड़ा निवासी मोहन लाल पाटीदार के साथ करीब 1 करोड रूपये की धोखाधडी की जानकारी मिली है जिसका प्रकरण साईबर थाना जयपुर में भी दर्ज है।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
एआईएमआईएम के राजस्थान आने से पहले कांग्रेस नेताओं मे बोखलाहट। राजस्थान मीडिया मे आवेसी को लेकर बहस व लेख लिखने शुरु।
चित्र