जैसलमेर चेक अनादरण के मामले में आरोपी को 9 माह की कैद और तीन लाख जुर्माना की सज़ा

 


जैसलमेर सरहदी जेसलमेर जिले में चेक अनादरण के एक मामले में न्यायिक मजिस्ट्रेट संध्या पूनिया ने दोष सिद्ध होंने की दशा में एक आरोपी को नो माह की कैद और तीन लाख रुपये के जुर्माने की सज़ा सुनाई।।जुर्माना अदायगी में विफल रहने पर आरोपी को तीन माह की अतिरिक्त सज़ा की सुनाई।।पीड़ित पक्ष की और से पैरवी एडवोकेट गिरिराज गज्जा और आरोपी पक्ष की शैतान सिंह ने पैरवी की।।


प्रकरण के अनुसार आसुलाल पुत्र प्रभुलाल ने 2015 में हुकम चंद पुत्र भंवरलाल से अपनी जायज जरूरत के लिए राशि उधार ली थी जिसकी एवज में हुकम चंद को ढाई लाख का चेक सुपुर्द किया था।।मियाद के बाद हुक्म चंद ने चेक बैंक में लगाया तो चेक बाउंस हो गया।।खाते में पर्याप्त राशि नहीं होने का हवाला दिया गया था।जिस पर हुकम चंद ने आसुलाल के विरुद्ध परिवाद धारा 138 परक्राम्य लिखत अधियनियम के तहत दर्ज कराया। जिसकी जांच में आसुलाल के विरुद्ध दोष सिद्ध पाए जाने पर आज नो माह की कैद और तीन लाख के जुर्माने की सज़ा सुनाई।।।अदम अदायगी जुर्माना पर तीन माह की साधारण सज़ा अतिरिक्त भुगतने का आदेश दिया।।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
एआईएमआईएम के राजस्थान आने से पहले कांग्रेस नेताओं मे बोखलाहट। राजस्थान मीडिया मे आवेसी को लेकर बहस व लेख लिखने शुरु।
चित्र