भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया की 25 जनों की नई टीम का ऐलान कर दिया गया है।

जयपुर। पिछले साल दिसंबर के आखिरी सप्ताह में निर्वाचित हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया की 25 जनों की नई टीम का ऐलान कर दिया गया है।


इस टीम में आठ उपाध्यक्ष, चार महामंत्री, 9 मंत्री, एक मुख्य प्रवक्ता, एक कोषाध्यक्ष एक सह कोषाध्यक्ष और एक कार्यालय मंत्री बनाया गया है।


उपाध्यक्ष में सरदार अजय पाल सिंह, विधायक चंद्रकांता मेघवाल, चित्तौड़गढ़ सांसद सीपी जोशी, पूर्व विधायक अलका सिंह गुर्जर, हेमराज मीणा, प्रसन्ना मेहता, मुकेश दाधीच, माधोराम चौधरी को बनाया गया है।


इसी तरह से विधायक मदन दिलावर, भजन लाल शर्मा, राजसमंद सांसद दिया कुमारी और पूर्व विधायक सुशील कटारा को महामंत्री बनाया गया है।


प्रदेश मंत्री में जितेंद्र गोठवाल, निवर्तमान युवा मोर्चा के अध्यक्ष अशोक सैनी, महेंद्र यादव, के.के. विश्नोई, सरवन सिंह बगड़ी, मधु कुमावत बिजेंद्र पूनियां, महेंद्र जाटव वंदना नोगिया के अलावा चोमू विधायक रामलाल शर्मा को मुख्य प्रवक्ता बनाया है।


इसी तरह से वर्तमान कोषाध्यक्ष राजकुमार भूतड़ा को कोषाध्यक्ष और पंकज गुप्ता को सह कोषाध्यक्ष व पूर्व जिलाध्यक्ष राघव शर्मा को प्रदेश कार्यालय मंत्री बनाया गया है।


इसके साथ ही अनुशासन समिति की भी घोषणा की गई है। जिसमें पूर्व सांसद ओंकार सिंह लखावत, पूर्व सांसद नारायण पंचारिया, पूर्व मंत्री श्रीचंद कृपलानी, वर्तमान राज्यसभा सांसद राजकुमार वर्मा और समाज कल्याण बोर्ड की पूर्व अध्यक्ष सरोज कुमारी को शामिल किया गया है।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
एआईएमआईएम के राजस्थान आने से पहले कांग्रेस नेताओं मे बोखलाहट। राजस्थान मीडिया मे आवेसी को लेकर बहस व लेख लिखने शुरु।
चित्र