स्टेट क्राइम ब्रांच ने कोटा-झालावाड़ हाईवे पर झालावाड़ से स्मैक ला रहे चार तस्करों को 60 लाख रुपए की स्मैक के साथ दबोचा

 


जयपुर, 26 जुलाई।  जयपुर से कोटा गई सीआईडी  क्राईम ब्रांच की टीम ने रविवार को कोटा-झालावाड़ हाइवे पर मारुति वैन में झालावाड़ से स्मैक ला रहे 04 तस्करों को 300 ग्राम अवैध स्मैक के साथ गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में बरामद स्मैक की अनुमानित कीमत 60 लाख रुपये आंकी गई है। सरगना कैलाश तंवर (23) और उसके साथी मारुति वैन मालिक रमेश रोहिला (28), जगदीश तंवर (25) व प्रेमसुख तंवर (25) अकलेरा, झालावाड़ के रहने वाले है। पूछताछ में स्मैक कोटा के केशोरायपट्टन कस्बे में छोटे तस्करों को सप्लाई करना बताया है।  
      पुलिस महानिदेशक (अपराध) मोहन लाल लाठर ने बताया कि सरगना कैलाश तंवर ने इससे पहले जयपुर, टोंक व सीकर जिले में भी स्मैक की सप्लाई करना स्वीकार किया है।  मामले में गहनता से तफ्तीश कर तस्करी से जुड़े पूरे नेटवर्क को तोड़ने के लिए इससे जुड़े सभी अभियुक्तों का पता कर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।       
      पुलिस महानिदेशक (अपराध) ने बताया कि स्टेट क्राईम ब्रांच की क्रिमिनल इन्टेलिजेन्स सैल (सीईसी) को सूचना मिली थी कि झालावाड़ से एक मारुति वैन में कुछ तस्कर कोटा में स्मैक सप्लाई करने वाले हैं।  इस सूचना पर सीईसी यूनिट के प्रभारी पुलिस निरीक्षक जितेन्द्र गंगवानी के नेतृत्व में एक टीम झालावाड़ रवाना की गई।  पुलिस महानिदेशक (अपराध) ने बताया कि रविवार सुबह से टीम कोटा-झालावाड़ हाईवे पर छोटे चौपहिया वाहनों की निगरानी कर रही थी। इसी दौरान झालावाड़ नम्बर की एक पुरानी मारूति वैन कोटा शहर की तरफ आते दिखाई दी। जिसे स्थानीय अनन्तपुरा थाने की जगपुरा चौकी के सामने रूकवा कर तलाशी ली तो पीछे की सीट के नीचे गुप्त स्थान बनाकर तीन  पैकेटों में छिपी स्मैक मिली। वैन में सवार चारों तस्करों को गिरफ्तार कर अनन्तपुरा थाने में एनडीपीएस एक्ट में प्रकरण दर्ज कर पूछताश की जा रही है।


टिप्पणियां
Popular posts
राजस्थान मे एआईएमआईएम की दस्तक से राजनीतिक हलचल बढी। कांग्रेस से जुड़े नेताओं मे बेचैनी। - उपचुनाव मे एआईएमआईएम के गठबंधन के उम्मीदवार खड़े करने को लेकर कयास लगने लगे।
इमेज
डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के विरोध में एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन
इमेज
एल पी एस निदेशक नेहा सिंह व हर्षित सिंह सम्मानित किये गये
इमेज
किसान महापंचायतों के बहाने कांग्रेस चारो उपचुनाव को साधना चाह रही है।
आसाम-बंगाल आम चुनावो के साथ राजस्थान के होने वाले चार उपचुनावो के बाद गहलोत सरकार गिराने की फिर कोशिश हो सकती है! - पायलट समर्थक प्रदेश भर मे किसान महापंचायते आयोजित करके अपना जनसमर्थन बढा रहे है।