राजस्थान : कांग्रेस ने अपने दो कद्दावर विधायक भंवरलाल शर्मा व विश्वेंद्र सिहं को प्राथमिक सदस्यता से निलम्बित किया


जयपुर।
           राजस्थान कांग्रेस के विधायकों मे छिड़ा विवाद पल पल बढता जा रहा है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आज जयपुर मे प्रैस कांफ्रेंस करते हुये कहा कि कांग्रेस विधायकों को 20-35 करोड़ मे खरीदनै की कोशिशें हो रही है। उन्होंने भाजपा पर जोरदार हमला बोलते हुये कहा के देश मे दस लाख से अधिक कोराना मरीज हो गये एवं चीन ने हमारी भूमि पर कब्जा कर लिया फिर भी भाजपा सत्ता सूख के लिये चूनी हुई राजस्थान सरकार को विधायको की खरीद-फरोख्त करके गिराने मे लगी है।
          विधायकों के खरीद-फरोख्त को लेकर कल जारी कथित ओडियो क्लिप को लेकर सुरजेवाला ने कांग्रेस के दिग्गज दो विधायक भवंरलाल शर्मा व विधायक विश्वेंद्र सिंह को कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलम्बित करने की जानकारी देते हुये केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत को गिरफ्तार करने की मांग की है।
         भरतपुर राजा विश्वेंद्र सिंह वर्तमान गहलोत सरकार मे तीन दिन पहले तक मंत्री थे। वहीं यह सांसद व अनेक दफा विधायक बन चुके है। राजस्थान जाट समाज के बडे नेता भी है। दूसरे निलम्बित विधायक भंवरलाल शर्मा सात दफा विधायक व एक दफा मंत्री बन चुके है। शर्मा लोकदल, जनता दल, भाजपा व कांग्रेस के निशान पर सरदारशहर से विधायक बने है। इसके अलावा विधानसभा अध्यक्ष द्वारा कांग्रेस विधायकों को जारी किये गये नोटिस पर हाईकोर्ट की डिविजनल बैंक मे आज दोपहर एक बजे सुनवाई होनी है। जिसके जजमेंट का गहलोत-पायलट खेमे पर काफी असर पड़ेगा।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
एआईएमआईएम के राजस्थान आने से पहले कांग्रेस नेताओं मे बोखलाहट। राजस्थान मीडिया मे आवेसी को लेकर बहस व लेख लिखने शुरु।
चित्र