श्रमिक स्पेशल ट्रेनः अबतक 83 ट्रेनें चलाईं गई, 80,000 से प्रवासियों को लेकर गईं

नयी दिल्ली, :: रेलवे ने बताया कि उसने एक मई से अबतक 83 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं, जिनमें 80,000 से ज्यादा फंसे हुए लोगों को ले जाया गया है।


रेलवे ने मंगलवार को बताया कि उसने कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर लागू किए गए लॉकडाउन के कारण कार्यस्थलों पर फंस गए प्रवासी कामगारों के लिए मंगलवार शाम तक 76 ट्रेनें चलाई।


प्रत्येक विशेष ट्रेन में 24 डिब्बे हैं और हर डिब्बे में 72 बर्थ हैं। सामाजिक दूरी के नियम का पालन हो, इसके लिए लेकिन रेलवे एक डिब्बे में 54 यात्रियों को ही जगह दे रहा है।


कर्नाटक सरकार ने मंगलवार को अगले पांच दिनों में राज्य से चलने वाली 10 ट्रेनों को रद्द कर दिया। बहरहाल, राज्य सरकार ने कहा कि बेंगलुरु से बिहार के लिए तीन ट्रेने रवाना होंगी।


पीटीआई-भाषा के पास मौजूद आंकड़ों के मुताबिक, 13 ट्रेनें बिहार गई हैं और 11 ट्रेनें रास्ते में हैं।


आंकड़ों के मुताबिक, 10 ट्रेने उत्तर प्रदेश गई हैं और पांच ट्रेने रास्ते हैं। 


टिप्पणियाँ
Popular posts
कोराना काल के कारण 48 वीं बार में 10वीं पास हुए 85 साल के शिवचरण यादव।
चित्र
कोविड से माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिये सीएलसी के निदेशक इंजीनियर श्रवण चोधरी द्वारा मुफ्त शिक्षा के साथ रहना व खाना देने की पहल की चारो तरफ प्रशंसा हो रही है।
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
सीकर सीमा क्षेत्र में धारा 144 लागू शुक्रवार सायं 5 बजे से सोमवार प्रातः 5 बजे तक जन अनुशासन वीकेड कर्फ्यू रहेगा लॉकडाउन के दौरान (अनुमत श्रेणी के अलावा) किसी भी स्थान पर 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित रहेगा
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र