राजस्थान में कोरोना से मरने वालों की संख्या सौ पहुंची

 


जयपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस से एक मरीज की और मौत हो जाने से इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर सौ पहुंच गई है।
     चिकित्सा विभाग की सुबह प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार शुक्रवार को कोरोना के 26 नये मामले सामने आने से इसके मामलों की संख्या बढ़कर 3453 हो गई वहीं एक मरीज की और मृत्यु होने से कोरोना संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा भी बढ़कर सौ पहुंच गया।
      राज्य में राजधानी जयपुर में सबसे ज्यादा पचास से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि जोधपुर में इससे 16, कोटा में 10, अजमेर, भरतपुर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, नागौर एवं सीकर में दो-दो, अलवर, बीकानेर, करौली, प्रतापगढ़, टोंक एवं सवाईमाधोपुर में एक-एक कोरोना मरीज की मृत्यु हुई है। राज्य में इससेे उत्तर प्रदेश के दो लोगों की भी मौत हुई है।
    राज्य में अब तक 31 जिलों में कोरोना संक्रमण फैल चुका है और अब प्रदेश के बूंदी एवं श्रीगंगानगर जिला ही इससे अछूते रहे हैं। राज्य में इसका सबसे ज्यादा प्रभाव जयपुर में देखने को मिल रहा है और यहां अब तक एक हजार एक सौ अधिक मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि इनमें करीब 680 मरीज ठीक हो चुके हैं और लगभग 590 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है। इससे दूसरा सबसे ज्यादा प्रभावित जोधपुर जिले में अब तक करीब साढ़े आठ सौ मामले सामने आए हैं जहां 312 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और 291 को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। कोटा में 231 मामलों में 159 मरीज ठीक हो गए जबकि सौ से अधिक मरीजों को छुट्टी मिल गई। टोंक में 136 मामलों में 120 स्वस्थ हो चुके और 64 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई। भरतपुर में 116 मामले सामने आए जिनमें 105 मरीज ठीक हो चुके हैं और करीब सौ को छुट्टी मिल गई। नागौर में 119 मामले सामने आए, जिनमें 80 मरीज ठीक हो चुके हैं और 30 को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है। बांसवाड़ा में 66 मामलों में 58 स्वस्थ हो चुके हैं और 40 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। अजमेर में अब तक करीब 190 मामले सामने आए हैं जहां 63 मरीज स्वस्थ हुए तथा पांच को अस्पताल से छुट्टी मिली है।
   राज्य में अब तक सामने आए मामलों में 61 मामले विस्थापित एवं 42 सीमा सुरक्षा बल के जवान तथा दो इटली के नागरिक भी शामिल है। अब तक एक लाख 45 हजार पांच सौ से अधिक लोगों के सैंपल प्राप्त हुए जिनमें एक लाख 39 हजार 830 की रिपोर्ट नकारात्मक पाई गई है जबकि 2227 की रिपोर्ट आनी शेष है। राज्य में अब तक 1903 मरीज ठीक हो गए जबकि 1523 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
मुस्लिम समुदाय की नाराजगी से राजस्थान के पंचायत चुनाव मे कांग्रेस को मुश्किलातों का सामना करना पड़ सकता है।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
शमशेर खां की दांडी यात्रा के समर्थन मे आज प्रदेश के गावं-गाव से शहरो तक पदयात्रा निकाल कर उपखण्ड अधिकारी व जिला कलेक्टरस को ज्ञापन दिये गये।
चित्र