‘पीएम केयर्स’ से 1000 करोड़ रु आवंटित, लेकिन प्रवासी श्रमिकों को हाथ में कुछ नहीं मिलेगा: चिदंबरम

नयी दिल्ली,:: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि ‘पीएम केयर्स’ कोष से 1000 करोड़ रुपये के आवंटन के बावजूद प्रवासी श्रमिकों को हाथ में कुछ नहीं मिलेगा क्योंकि यह राशि राज्यों को मिलेगी ताकि वे मजदूरों की यात्रा और उनके रहने खाने के खर्च का भुगतान कर सकें।


उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ पीएम केयर्स से प्रवासी श्रमिकों के लिए 1000 करोड़ रुपये आवंटित किए गए। कृपया, समझने में गलती मत करिए। यह पैसा प्रवासी श्रमिकों को नहीं दिया जाएगा, बल्कि राज्य सरकारों को प्रवासी कामगारों की यात्रा, रहने, दवा और खाने के खर्च के लिए दिया जायेगा। प्रवासी मजदूरों के हाथों में कुछ नहीं मिलेगा।’’


चिदंबरम ने कहा, ‘‘ बहुत सारी बाधाओं को पार करते हुए एक प्रवासी कामगार अपने गांव पहुंचता है, लेकिन वहां उसके लिए कोई रोजगार नहीं है। उसके पास कोई आय नहीं है। वह और उसका परिवार कैसे गुजारा करेगा?’’


गौरतलब है कि पीएम केयर्स फंड ट्रस्ट ने बुधवार को कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के लिए 3,100 करोड़ रूपये आवंटित करने का निर्णय लिया।


प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के अनुसार पीएम केयर्स फंड से आवंटित किये गये 3,100 करोड़ रूपये में से करीब 2000 करोड़ रूपये वेंटिलेटर की खरीद और 1000 करोड़ रूपये प्रवासी मजदूरों के लिए निर्धारित किये गये हैं। 


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
किसान नेता राकेश टिकेत पर हमले के खिलाफ राजस्थान के किसानों मे आक्रोश।
इमेज
राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल -- सड़सठ भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले। - जाकीर हुसैन को श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर के पद पर लगाया।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
राजस्थान मे उधोगों की सुगमता स्थापना तथा निवेश को बढावा देने की घोषणाओं पर अमल शुरू।