‘नित्योत्सव कवि’ निसार अहमद का निधन

बेंगलुरु,:: कन्नड़ भाषा के विख्यात कवि और पद्मश्री से सम्मानित के एस निसार अहमद का रविवार को 84 साल की उम्र में निधन हो गया।


सूत्रों के अनुसार “नित्योत्सव कवि” कहे जाने वाले अहमद का शहर में स्थित उनके आवास पर निधन हो गया।


अहमद कैंसर से जूझ रहे थे, जिसके कारण कुछ समय के लिए उन्हें अस्पताल में भर्ती भी कराया गया था।


उनके पुत्र का भी हाल ही में कैंसर से निधन हो गया था।


अपनी नित्योत्सव कविता से अहमद घर-घर में प्रसिद्ध हो गए थे।


उनकी रचना बाद में एक लोकप्रिय गीत बन गई थी।


बेंगलुरु ग्रामीण के देवनहल्ली में जन्मे अहमद पेशे से भूगर्भशास्त्री थे।


उन्होंने भूगर्भशास्त्र के व्याख्याता के तौर पर बेंगलुरु और शिवमोगा के कॉलेजों में अध्यापन भी किया था।


अहमद को पद्मश्री, कन्नड़ साहित्य अकादमी पुरस्कार समेत कई पुरस्कार मिले थे।


उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कहा कि कन्नड़ साहित्य जगत और राज्य के लिए यह अपूरणीय क्षति है। 


टिप्पणियां
Popular posts
युवा पार्षद व भामाशाह अनवर कुरैशी ने नवाब कायम खां यूनानी अस्पताल को गोद लेकर शुरू किया कोविड सेंटर के लिए कार्य
इमेज
सिकंदर खान ने पहले देश के लिए बॉर्डर पर अपनी सेवा दी अब लगे हुए हैं कोरोना मरीज़ों को ऑक्सिजन सिलेंडर की मुफ़्त सेवा देने में।
इमेज
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के ट्वीट से बवाल लोगो मे ट्वीट मे दी गई जानकारी को लेकर नाराजगी।
इमेज
आक्सीजन प्लांट के लिये खीचड़ परिवार ने पांच लाख व रंगरेज समाज ने दो लाख का चैक कलेक्टर को सौंपा।
इमेज
सीकर शहर मे इसी महीने आक्सीजन प्लांट लगकर आक्सीजन हकी आपूर्ति करने लगेगा।
इमेज