गहलोत ने औरंगाबाद में ट्रेन की चपेट में आकर प्रवासी श्रमिकों की मौत पर जताया दुख

 


जयपुर:  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद में ट्रेन की चपेट में आकर प्रवासी श्रमिकों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया है।
    श्री गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए इस पर संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि यह सबसे ज्यादा ह्रदयविदारक घटना है जिसमें कई प्रवासी श्रमिकों की ट्रेन की चपेट आकर मौत हो गई। उन्होंने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना जताई तथा उन्हें यह दुख सहन करने की शक्ति देने की कामना की।
    उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने भी इस घटना पर गहरा दुख जताया और कहा कि औरंगाबाद में ट्रेन की चपेट में आने से कई प्रवासी श्रमिकों की मृत्यु होने की खबर हृदयविदारक है। इस दुःखद घड़ी में मेरी गहरी संवेदनाएं श्रमिकों के परिजनों के साथ हैं। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को संबल प्रदान करने की प्रार्थना की।
   भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी इस पर दुख जताते हुए कहा कि औरंगाबाद में दुर्भाग्यपूर्ण ट्रेन त्रासदी से उन्हें दुख हुआ। उन्होंने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की तथा घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना की।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
मुस्लिम समुदाय की नाराजगी से राजस्थान के पंचायत चुनाव मे कांग्रेस को मुश्किलातों का सामना करना पड़ सकता है।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
शमशेर खां की दांडी यात्रा के समर्थन मे आज प्रदेश के गावं-गाव से शहरो तक पदयात्रा निकाल कर उपखण्ड अधिकारी व जिला कलेक्टरस को ज्ञापन दिये गये।
चित्र