उप्र में शुरू हुआ एकीकृत आपदा नियंत्रण केंद्र

लखनऊ, : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को 'एकीकृत आपदा नियंत्रण केन्द्र' की शुरुआत की।

योगी ने यहां लाल बहादुर शास्त्री भवन :सौध: में उत्तर प्रदेश राहत आयुक्त कार्यालय में स्थापित एकीकृत आपदा नियंत्रण केन्द्र का लोकार्पण करने के बाद कहा, 'प्रदेश में कोरोना के खिलाफ संचालित अभियान में बिना किसी भेदभाव के हर जरूरतमंद तक आवश्यक सुविधाएं और शासन की योजनओं का लाभ पहुंचाने में नियंत्रण कक्ष की बड़ी भूमिका है।'

उन्होंने बहुत कम समय में एकीकृत नियंत्रण कक्ष के जरिए प्रदेश के सभी जिलों को जोड़ने के लिए राजस्व विभाग की सराहना की।

मुख्यमंत्री ने विश्वास व्यक्त किया कि सभी जिलों के नियंत्रण कक्ष से जुड़ा एकीकृत नियंत्रण कक्ष प्रदेश में राहत कार्यों के तेजी से संचालन में सहायक सिद्ध होगा।

उन्होंने कहा कि आपदा की स्थिति में नियंत्रण कक्ष राहत कार्यों की रीढ़ होता है। इसके दृष्टिगत सभी जिलाधिकारी अपने-अपने जनपदों के नियंत्रण कक्ष में एक जिम्मेदार नोडल अधिकारी की नियुक्ति कर 24 घंटे इसका संचालन सुनिश्चित कराएं।

योगी ने कहा कि आम जन तक पृथक वार्ड, संस्थागत पृथक वास, पृथक वार्ड, स्तर—1, स्तर—2, स्तर—3 के कोविड अस्पतालों की जानकारी तथा जरूरतमंदों तक भोजन के पैकेट आदि पहुंचाने में नियंत्रण कक्ष का बेहतर ढंग से उपयोग किया जाए।


टिप्पणियाँ
Popular posts
कोराना काल के कारण 48 वीं बार में 10वीं पास हुए 85 साल के शिवचरण यादव।
चित्र
कोविड से माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिये सीएलसी के निदेशक इंजीनियर श्रवण चोधरी द्वारा मुफ्त शिक्षा के साथ रहना व खाना देने की पहल की चारो तरफ प्रशंसा हो रही है।
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
सीकर सीमा क्षेत्र में धारा 144 लागू शुक्रवार सायं 5 बजे से सोमवार प्रातः 5 बजे तक जन अनुशासन वीकेड कर्फ्यू रहेगा लॉकडाउन के दौरान (अनुमत श्रेणी के अलावा) किसी भी स्थान पर 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित रहेगा
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र