शब-ऐ-बरात के अवसर पर कब्रिस्तानो के ताले व मस्जिदे बंद रही।


जयपुर।
              शबेबरात के अवसर पर रातभर मस्जिदो मे बैठकर इबादत करने व कब्रिस्तान जाकर मरहूमीन के हक मे दुवाऐ करने का चलन पाया जाने के बावजूद कोराना वायरस के बरसते कहर व लोकडाऊन की पूरी तरह पालना करने के लिये राजस्थान के सभी कब्रिस्तानो के प्रबंध कमेटियों ने ताले जड़ दिये थे। एवं लोगो ने मस्जिदों की बजाय घर पर रहकर इबादत करते हुये कोविड-19 से जल्द निजात दिलाने की दुवाऐ पाक परवरदिगार से की गई।
             राजस्थान के सभी मसलक के धार्मिक विद्वानों एवं सरकार द्वारा लोकडाऊन की पालना करने की अपील का पूरा असर नजर आया। कब्रिस्तान खामोश थे वही गली-मोहल्लों व बस्तियों से इंसान पूरी तरह दूर रहकर अपने अपने घरो मे शुकून के साथ बैठकर पाक परवरदिगार की बारगाह मे इबादत व दुवाओ के साथ रातभर ठहरे रहे।
            हालांकि अब से पहले अधिकांश मुस्लिम परिवारों मे शबेबरात के अवसर पर पकवान पकने व कब्रिस्तान जाकर मरहूमीन के हक मे दुवाऐ करने के अलावा मस्जिदों मे रहकर इबादत करने के समय काफी भीड़भाड़ होना देखा जाता था। लेकिन गुजरी रात को ना रास्तो मे ओर ना ही कब्रिस्तान एवं मस्जिदों मे भीड़ देखी गई। पुरी तरह सब जगह खामोशी ही खामोशी नजर आ रही है। लोग अपने घरो मे पकवान ना पकाकर केवल हमेशा की घर पर खाना बनाकर खाया ओर बचत को जरुरतमंदों को तकसीम करके भाईचारे व दुख-तकलीफ मे एक दूसरे के साथ खड़ा होने का संदेश दिया।


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
कांग्रेस MLC दीपक सिंह ने विधायक निधि से दिए 10 लाख रुपये अमेठी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में मास्क और सैनिटाइजर की समुचित व्यवस्था करने हेतु
इमेज
झूंझुनू मुस्लिम वेलफेयर फ्रंट ने सामूहिक विवाह सम्मेलन कराने का निर्णय लिया। - सामाजिक कार्यकर्ता तहसीन कुरैशी को तालीम फंड और सामूहिक विवाह सम्मेलन की जिम्मेदारी सोंपी।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
शाहनवाज सिद्दीकी मनिहार बिरादरी के जिलाध्यक्ष बने