राजस्थान में लाकडाउन द्वितीय में कोरोना के मरीजों की वृद्धि दर में आई कमी


जयपुर 24 अप्रैल : राजस्थान में कोरोना वायरस का कहर जारी है और इसके मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही हैं लेकिन लाकडाउन द्वितीय चरण में कोरोना मरीजों की वृद्धि दर में कमी आई हैं।
    राज्य में अब तक सामने आये कोरोना मरीजों के आंकड़ों के अनुसार गत 14 अप्रैल से पहले की मरीजों की वृद्धि दर के हिसाब से शुक्रवार को कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर तीन हजार से अधिक पहुंच जाती लेकिन लाकडाउन द्वितीय में इसकी वृद्धि दर में कमी आने से अब तक दो हजार मामले सामने आए हैं।
      गत सत्रह मार्च को इसके चार मामले सामने आने के बाद 31 मार्च तक प्रदेश में इसके मरीजों की संख्या बढ़कर 93 पहुंच गई और इसके अगले दिन एक अप्रैल को यह संख्या 120 पहुंच गई। इसके बाद लाकडाउन प्रथम 14 अप्रैल तक राज्य में कोरोना के मरीजों की संख्या 1005 पहुंची। इस दौरान अगर मरीजों की वृद्धि दर को देखा जाए तो 14 अप्रैल को यह संख्या बढ़कर 1028 पहुंच जाती। इसी दिन से इसके मरीजों की वृद्धि दर में गिरावट शुरू हुई। 
     इसके बाद शुरू हुए लाकडाउन के दूसरे चरण में 15 अप्रैल को जहां मरीजों की संख्या 1171 पहुंच जाती, वह 1076 ही पहुंच पाई। इसी तरह 16 अप्रैल को 1326 की जगह 1131, सत्रह अप्रैल को 1495के स्थान पर 1229, 18 अप्रैल को 1679की जगह 1351, 19 अप्रैल को 1878 की जगह 1478, 20 अप्रैल को 2092 की जगह 1576, 21 अप्रैल को 2322 के स्थान पर 1735, 22 अप्रैल को 2569 की जगह 1888, 23 अप्रैल को 2834 की जगह 1964 तथा 24 अप्रैल को 3116 की जगह इसके मरीजों की संख्या दो हजार ही पहुंच पाई। 
     इस प्रकार लाकडाउन के दूसरे चरण में मरीजों के वृद्धि दर में कमी आने से मरीजों की संख्या में एक हजार से अधिक की कमी दर्ज की गई।
    प्रदेश में सबसे पहले गत दो मार्च को कोरोना का मामला सामने आया था और सत्रह मार्च को इसके मरीजों की संख्या बढ़कर चार हो गई थी। इसके बाद कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती गई और दो हजार पहुंच गई।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
Image
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
मुस्लिम समुदाय की नाराजगी से राजस्थान के पंचायत चुनाव मे कांग्रेस को मुश्किलातों का सामना करना पड़ सकता है।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
Image
शमशेर खां की दांडी यात्रा के समर्थन मे आज प्रदेश के गावं-गाव से शहरो तक पदयात्रा निकाल कर उपखण्ड अधिकारी व जिला कलेक्टरस को ज्ञापन दिये गये।
Image