राजस्थान में लाकडाउन द्वितीय में कोरोना के मरीजों की वृद्धि दर में आई कमी


जयपुर 24 अप्रैल : राजस्थान में कोरोना वायरस का कहर जारी है और इसके मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही हैं लेकिन लाकडाउन द्वितीय चरण में कोरोना मरीजों की वृद्धि दर में कमी आई हैं।
    राज्य में अब तक सामने आये कोरोना मरीजों के आंकड़ों के अनुसार गत 14 अप्रैल से पहले की मरीजों की वृद्धि दर के हिसाब से शुक्रवार को कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर तीन हजार से अधिक पहुंच जाती लेकिन लाकडाउन द्वितीय में इसकी वृद्धि दर में कमी आने से अब तक दो हजार मामले सामने आए हैं।
      गत सत्रह मार्च को इसके चार मामले सामने आने के बाद 31 मार्च तक प्रदेश में इसके मरीजों की संख्या बढ़कर 93 पहुंच गई और इसके अगले दिन एक अप्रैल को यह संख्या 120 पहुंच गई। इसके बाद लाकडाउन प्रथम 14 अप्रैल तक राज्य में कोरोना के मरीजों की संख्या 1005 पहुंची। इस दौरान अगर मरीजों की वृद्धि दर को देखा जाए तो 14 अप्रैल को यह संख्या बढ़कर 1028 पहुंच जाती। इसी दिन से इसके मरीजों की वृद्धि दर में गिरावट शुरू हुई। 
     इसके बाद शुरू हुए लाकडाउन के दूसरे चरण में 15 अप्रैल को जहां मरीजों की संख्या 1171 पहुंच जाती, वह 1076 ही पहुंच पाई। इसी तरह 16 अप्रैल को 1326 की जगह 1131, सत्रह अप्रैल को 1495के स्थान पर 1229, 18 अप्रैल को 1679की जगह 1351, 19 अप्रैल को 1878 की जगह 1478, 20 अप्रैल को 2092 की जगह 1576, 21 अप्रैल को 2322 के स्थान पर 1735, 22 अप्रैल को 2569 की जगह 1888, 23 अप्रैल को 2834 की जगह 1964 तथा 24 अप्रैल को 3116 की जगह इसके मरीजों की संख्या दो हजार ही पहुंच पाई। 
     इस प्रकार लाकडाउन के दूसरे चरण में मरीजों के वृद्धि दर में कमी आने से मरीजों की संख्या में एक हजार से अधिक की कमी दर्ज की गई।
    प्रदेश में सबसे पहले गत दो मार्च को कोरोना का मामला सामने आया था और सत्रह मार्च को इसके मरीजों की संख्या बढ़कर चार हो गई थी। इसके बाद कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती गई और दो हजार पहुंच गई।


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
कांग्रेस MLC दीपक सिंह ने विधायक निधि से दिए 10 लाख रुपये अमेठी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में मास्क और सैनिटाइजर की समुचित व्यवस्था करने हेतु
इमेज
झूंझुनू मुस्लिम वेलफेयर फ्रंट ने सामूहिक विवाह सम्मेलन कराने का निर्णय लिया। - सामाजिक कार्यकर्ता तहसीन कुरैशी को तालीम फंड और सामूहिक विवाह सम्मेलन की जिम्मेदारी सोंपी।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
शाहनवाज सिद्दीकी मनिहार बिरादरी के जिलाध्यक्ष बने