पवित्र रमज़ान माह की शुरूआत पर प्रदेशवासियों को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुबारकबाद पेश की। 


   जयपुर।
                मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पूरी दुनिया में अभी कोविड-19 महामारी का प्रकोप चल रहा है, ऐसे में मेरी मुस्लिम भाइयों से अपील है कि केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए लॉकडाउन के दौरान रोज़ा इफ्तार घर पर रहकर करें और साथ ही नमाज़ें, तरावीह घर पर ही अदा करें। 
            .लॉकडाउन की अवधि के दौरान रोज़ा इफ्तार पार्टी का आयोजन करने एवं भीड़ इकट्ठी करने से भी मुख्यमंत्री ने बचने को कहा। उन्होंने यह भी कहा कि सभी सोशल डिस्टेंसिंग जरूर रखें ताकि कोरोना का कम्यूनिटी संक्रमण रोकने में अभी तक मिली कामयाबी को प्रदेश में बरकरार रखा जा सके। 
        मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि रमज़ान के इस मुबारक महीने में मुस्लिम भाई-बहन नमाज़ एवं कुरआन की तिलावत के बाद अल्लाह से दुआ करें कि पूरी दुनिया में फैली कोविड-19 महामारी खत्म हो और जो लोग कोरोना से संक्रमित हैं उन्हें शिफा मिले।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
मुस्लिम समुदाय की नाराजगी से राजस्थान के पंचायत चुनाव मे कांग्रेस को मुश्किलातों का सामना करना पड़ सकता है।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र