नर्सों ने पृथकवास में भेजने की मांग की

गाजियाबाद, :: उत्तर प्रदेश में गाजियाबद के अस्पतालों की नर्सों ने मांग की है कि उन्हें पृथकवास में भेजा जाए क्योंकि वे कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज करती हैं।


नर्सों ने सोमवार को स्वास्थ्य विभाग में शिकायत की थी कि उन्हें उपलब्ध कराए जा रहे निजी सुरक्षा उपकरण (पीपीई) खराब गुणवक्ता के हैं।


एक नर्स ने बताया कि संजय नगर में जिला संयुक्त अस्पताल में कोरोना वायरस के मरीज हैं और चिकित्सा कर्मियों को पृथकवास में भेजने के इंतजाम होने चाहिए।


एक अन्य नर्स ने कहा कि उन्हें खराब गुणवक्ता के पीपीई दिए गए हैं।


अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक नरेश विज ने पीटीआई-भाषा से कहा कि अस्पताल में कोरोना वायरस के सिर्फ दो मरीज दाखिल किए गए हैं जबकि हमारे पास 100 बिस्तरों की सुविधा है।


उन्होंने कहा कि सिर्फ दो मरीजों के लिए पूरे चिकित्सा स्टाफ को होटल या अन्य केंद्रों में पृथकवास में नहीं रख सकते हैं।


विभाग कर्मियों को ऐंबुलेंस के जरिए बुलवा रहा है और छुड़वा रहा है।


उन्होंने बताया कि जो कर्मी कोविड-19 मरीज के संपर्क में आएंगे उन्हें पृथकवास में भेजा जाएगा।


टिप्पणियां
Popular posts
राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल -- सड़सठ भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले। - जाकीर हुसैन को श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर के पद पर लगाया।
इमेज
मेडिकल व इंजीनियरिंग की प्रतियोगिता परीक्षा की कोचिंग करने वालो का आनलाइन डाटा तैयार किया जायेगा।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
शेखावाटी जनपद के मुस्लिम समुदाय मे बहती अलग अलग धाराऐ युवाओं को किधर ले जायेगी!
इमेज