लॉकडाउन के चलते डाकिया पहुंचाएगा घर-घर सामान, मिलेगी ये सुविधाएं

जयपुर:- लॉकडाउन के चलते आम जरूरतों की सेवा के लिए आम आदमी इधर उधर मुंह तक रहा है लेकिन इस समस्या को दूर करने में अब डाक विभाग ने पहल की है. इसके तहत वह दवाइयां, सब्जी, फल, आटा, दाल और राशन की होम डिलीवरी करेगा. देशभर के डेढ़ लाख से ज्यादा पोस्ट ऑफिस में यह सुविधा आम लोगों को मुहैया कराई जा रही है।


डाक विभाग डोर स्टेप पर तमाम तरह का सामान पहुंचाएगा
आटा, दाल या अन्य जरूरी सामान जैसी राशन की सामग्री लेनी हो या दवाइयां, सब्जी, फल... अब इसके लिए आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है. डाक विभाग अपने डाकियों के जरिए आपके डोर स्टेप पर यह तमाम तरह का सामान पहुंचाएगा. साथ ही आप अपना पार्सल देश के किसी भी कोने में भेज सकते हैं. 


क्या सुविधाएं मिलेंगी
 -केंद्र सरकार ने रोज के उपयोग में आने वाले सामान को पार्सल के जरिए होम डिलीवरी का काम डाक विभाग को दिया है.
- ऐसे में लॉक डाउन के दौरान रिश्तेदार या परिचित को कोई भी जरूरी सामान भेजना चाहते हैं तो इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं.
- इसके लिए आपको पास के डाक विभाग में जाकर अपनी जरूरत बतानी होगी.
- यही नहीं आप पोस्ट ऑफिस नहीं जा पाएंगे तो आप सबसे पास के पोस्ट ऑफिस को फोन भी कर सकते हैं... सूचना पर पोस्ट ऑफिस के कर्मचारी आपके घर पहुंच जाएंगे. वहीं से आपको सभी सुविधाएं मिल जाएंगी.
- यही नहीं आपको यदि पैसों की जरूरत है तो आप पैसे भी ले सकते हैं और सामान पार्सल करना है या और कोई जानकारी लेनी है तो घर पर ही सारी जानकारियां उपलब्ध करा दी जाएंगी.
- कर्फ्यू के दौरान भी जो लोग बैंक तक पैसे निकालने नहीं जा सकते उन्हें पोस्ट ऑफिस उनके घरों पर रुपए निकालने की सुविधा दे रहा है.
- अगर आपका अकाउंट आधार से लिंक है तो डाकिए को आधार कार्ड दिखाकर आप 500 से ₹5000 तक ले सकते हैं इसके लिए किसी भी बैंक में आपका खाता होना चाहिए आधार मिलते ही बायोमेट्रिक से डाकिया वाजिब रकम निकाल कर दे देगा या पैसा आपके अकाउंट से कट जाएगा. 


हालांकि लॉक डाउन के चलते ग्रामीण और शहरी अपने घरों से बाहर कम से कम निकल पा रहे हैं. लेकिन इस स्कीम से गांव के लोगों को ज्यादा लाभ मिल रहा है।


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
किसान नेता राकेश टिकेत पर हमले के खिलाफ राजस्थान के किसानों मे आक्रोश।
इमेज
राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल -- सड़सठ भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले। - जाकीर हुसैन को श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर के पद पर लगाया।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
राजस्थान मे उधोगों की सुगमता स्थापना तथा निवेश को बढावा देने की घोषणाओं पर अमल शुरू।