कोविड-19 व लोकडाऊन के कारण गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य पर सरकार का विशेष फोकस।


जयपुर।
           मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन के इस समय में प्रदेश में गर्भवती महिलाओं की स्वास्थ्य सुरक्षा एवं सुरक्षित प्रसव के लिए राज्य सरकार ने कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। गर्भवती महिलाओं के प्रति राज्य सरकार अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रही है। 
            राज्य में जिला मुख्यालयों पर स्थित मातृ एवं शिशु कल्याण केन्द्र (एमसीएच) पर मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाओं को निर्बाध जारी रखते हुये सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी प्रसव सुविधाएं उपलब्ध हैं। ताकि गर्भवती महिलाओं को किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पडे़।
           राजस्थान मे शुरू की गई मोबाइल ओपीडी वैन सेवा भी अन्य रोगियों के साथ-साथ गर्भवती महिलाओं को चिकित्सकीय परामर्श देने के लिए उपयोगी साबित हो रही है। प्रदेशभर में करीब 8 हजार रोगियों एवं गर्भवती महिलाओं ने मोबाइल ओपीडी वैन की सेवाओं का लाभ उठाया है। इन ओपीडी वैन में प्रतिदिन प्रातः 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक चिकित्सक तथा एक नर्सिंगकर्मी चिकित्सा परामर्श के लिए उपलब्ध रहते हैं। 
          जयपुर के सांगानेरी गेट स्थित महिला चिकित्सालय में कोरोना प्रभावित हॉटस्पॉट से आने वाली गर्भवती महिलाओं के लिए अलग से वार्ड बनाया गया है, जिनमें उन्हें समुचित चिकित्सा सुविधाएं सोशल डिस्टेंसिंग के साथ उपलब्ध हो रही हैं। उल्लेखनीय है कि चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि विभिन्न जिलों में गर्भवती महिलाओं की ट्रेकिंग कर प्रसव की सम्भावित तारीख की जानकारी जुटाई जाए और तय तारीख पर प्रसव के लिए समुचित व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। आईसोलेशन, क्वारेंटाइन तथा ट्रांजिट शिविरों में रह रही ऐसी महिलाओं की विशेष देखभाल के भी निर्देश दिए थे।


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
कांग्रेस MLC दीपक सिंह ने विधायक निधि से दिए 10 लाख रुपये अमेठी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में मास्क और सैनिटाइजर की समुचित व्यवस्था करने हेतु
इमेज
झूंझुनू मुस्लिम वेलफेयर फ्रंट ने सामूहिक विवाह सम्मेलन कराने का निर्णय लिया। - सामाजिक कार्यकर्ता तहसीन कुरैशी को तालीम फंड और सामूहिक विवाह सम्मेलन की जिम्मेदारी सोंपी।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
शाहनवाज सिद्दीकी मनिहार बिरादरी के जिलाध्यक्ष बने